28 OCTWEDNESDAY2020 8:34:18 PM
Nari

PCOD का इलाज दवाइयां नहीं ये चीजें, पूरी तरह पीछा छोड़ेगा रोग

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 07 Aug, 2020 01:33 PM
PCOD का इलाज दवाइयां नहीं ये चीजें, पूरी तरह पीछा छोड़ेगा रोग

पीसीओडी-पीसीओएस सुनने में बेहद आम सी समस्या लेकिन महिलाओं की कई प्रॉब्लम की जड़ बनी हुई हैं ये बीमारी। इससे महिलाएं मोटी हो जाती हैं और उनके पीरियड्स तो खराब होते ही हैं साथ ही में प्रेग्नेंसी में कई तरह की दिक्कतें भी आती है। सारा अली खान 96 किलो की थी जिसके पीछे की वजह पीसीओडी ही था।

 

पीसीओडी यानि पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम जो रिप्रोडक्टिव हार्मोन के असंतुलन के कारण होती है। यह मुख्य रूप से तब होती है जब महिला के शरीर में टेस्टोस्टेरोन (मेल हार्मोन) बढ़ जाता है और एस्ट्रोजन (फीमेल हार्मोन) कम हो जाता है। जिसके चलते अंडे हर महीने ठीक से रिलीज नहीं होते हैं और इससे कई तरह की समस्‍याएं होने लगती हैं।

PunjabKesari

अब समस्या इतनी आम इसलिए हो रही है क्योंकि हमारा लाइफस्टाइल और खान-पान की आदतें बिगड़ गई हैं। लड़कियों को आमतौर पर शिकायत रहती हैं जब दवा खाती हैं सहीं रहती हैं और जब छोड़ दें तो रोग फिर उभरना शुरु हो जाता है लेकिन इस बात को समझना बहुत जरूरी हैं कि बीमारी का संबंध आपके बिगड़े लाइफस्टाइल से हैं हैल्दी लाइफस्टाइल होगा तो समस्या अपने आप चली जाएगी।

चलिए आपको बताएं, कैसे पीसीओडी से छुटकारा मिलेगा

समय पर करवाएं जांच

अनियमित पीरियड्स, शरीर में बहुत ज्‍यादा बाल, मुंहासे, वजन का बढ़ना जैसी समस्या में डाक्टरी जांच तुरंत करवाएं ताकि समय रहते रोग को पकड़ लिया जाए।

अब जानिए इसे जड़ से कैसे खत्म करना है...

आपको बैलेंस डाइट लेनी हैं और एक्सरसाइज को अपनी लाइफ का हिस्सा बनाना है।

फाइबर को शामिल करना बहुत जरूरी

बैलेंस डाइट में आपको प्रोटीन के साथ फाइबर को भी भरपूर मात्रा में लेना है। फाइबर यानि सेम, गाजर, चुकंदर, ब्रोकली, शकरकंद जरूर लेना चाहिए। इसके अलावा सेब, केला, संतरा, स्ट्रॉबेरी जैसे हाई फाइबर फूड को अपनी डाइट में शामिल करें। सेब के छिलके में सबसे अधिक फाइबर होता है, इसलिए रोजाना एक सेब खाना बिल्‍कुल न भूलें।

PunjabKesari

डाइट में प्रोटीन भी जरूरी

नॉन-वेज में आप अंडा, फिश, चिकन खा सकते हैं जबकि वेजिटेरियन लोग पनीर, टोफू, सोया, बीन्स, मटर आदि प्लांट्स से मिलने वाला प्रोटीन खा सकते हैं। अगर जरूरत हो तो आप एक्‍सपर्ट की सलाह से सप्लीमेंट भी ले सकती हैं।

स्‍पेशल फूड्स शामिल करें

पीसीओडी को कंट्रोल करने के लिए आपको कुछ स्‍पेशल फूड्स भी शामिल करने होंगे। इन स्‍पेशल फूड्स में ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर नट्स और बीज जैसे अखरोट, चिया सीड, फ्लैक्स सीड, सूरजमुखी के बीज, बादाम, मूंगफली आदि शामिल हैं।  

कॉम्प्लेक्स कार्ब्स भी है जरूरी

पीसीओडी से बचने के लिए अपनी डाइट में कॉम्प्लेक्स कार्ब्स को जरूर शामिल करें। ये न केवल शरीर को एनर्जी देते हैं बल्कि स्‍टैमिना और स्‍ट्रेंथ बनाए रखने में मदद करते हैं। कॉम्प्लेक्स कार्ब्स जैसे होल ग्रेन्‍स, ब्राउन राइस, क्विनोआ, मक्का, आलू, फलियां, बीन्स आदि।

एक्सरसाइज

एक्सरसाइज आप जरूरी नहीं कि जिम में ही जाकर करेंगे बल्कि सैर करें और छोटी-छोटी आसन एक्सरसाइज करें सीढ़ियां चढ़े और योगासन करें। ऐसा करके आप अपने आप ही बीमारी से पीछा छुटकारा सकते हैं।

PunjabKesari

याद रखिए पीसीओडी में दवाइयां खाने  से ज्यादा आपका लाइफस्टाइल हैल्दी रखना जरूरी है। नारी का यह पैकेज आपको कैसा लगा हमें बताना ना भूलें। 

Related News