14 AUGSUNDAY2022 9:23:51 PM
Nari

छोटे बच्चे को डायपर से हो रहे हैं रैशेज तो Parents इन ट्रिक्स से दिलवाएं राहत

  • Edited By palak,
  • Updated: 26 Jul, 2022 01:57 PM
छोटे बच्चे को डायपर से हो रहे हैं रैशेज तो Parents इन ट्रिक्स से दिलवाएं राहत

छोटे बच्चों की त्वचा बहुत ही कोमल होती है। छोटे-मोटे घाव के कारण भी त्वचा पर निशान पड़ सकते हैं। इसके अलावा ज्यादा देर तक डायपर डालने के कारण भी बच्चों को रैशेज होने लगते हैं। हालांकि डॉक्टर इस समस्या से बचाने के लिए कई तरह के क्रीम लगाने की भी सलाह देते हैं। आप बच्चे की त्वचा के रैशेज को दूर करने के लिए प्राकृतिक तरीकों का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इनके बारे में...

PunjabKesari

एलोवेरा 

आप एलोवेरा का इस्तेमाल भी बच्चे की रैशेज की समस्या दूर करने के लिए कर सकते हैं। बच्चे के रैशेज को दूर करने के लिए यह प्राकृतिक उपाय बहुत ही मददगार हो सकता है। एलोवेरा में पाए जाने वाली एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी रैशेज की समस्या को ठीक करने में सहायता करती है। 

PunjabKesari

दलिया 

आप बच्चे की त्वचा के रैशेज दूर करने के लिए दलिया का भी इस्तेमाल भी कर सकते हैं। ओट्स में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो रैशेज की समस्या में आराम देने में सहायता करता है। इसके अलावा रैशेज के कारण होने वाले दर्द को भी दूर करने में सहायता करते हैं। 

PunjabKesari

नारियल तेल 

आप बच्चे के डायपर रैशेज की समस्या दूर करने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसमें एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो त्वचा के रैशेज दूर करने में सहायता करते हैं। नियमित तौर पर यदि आप बच्चे की त्वचा पर नारियल तेल इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपकी त्वचा में रैशेज की समस्या कम हो सकती है। 

PunjabKesari

लैवेंडर ऑयल 

लैवेंडर ऑयल भी आप बच्चे की त्वचा के रैशेज दूर करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके सूदिंग गुणों के कारण बच्चे को किसी भी तरह की इरिटेशन नहीं होती। आप नारियल तेल में लैवेंडर ऑयल मिलाकर बच्चे की त्वचा पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

PunjabKesari

 सेंधा नमक 

आप सेंधा नमक भी बच्चे की डायपर की समस्या को कम करने में इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें सूजन-रोधी गुण और मैग्नीशियम पाया जाता है। यह बच्चे की त्वचा से जलन और सूजन को कम करने में सहायता करता है। एक टब पानी में आप 2 टम्मट सेंधा नमक मिलाएं। शिशु को आप इस पानी में कम से कम 10-15 मिनट के लिए बैठाकर रखें। बच्चे के रैशेज कम हो जाएंगे। इस नुस्खे का इस्तेमाल आप हफ्ते में दो बार कर सकते हैं।

PunjabKesari
 

Related News