31 OCTSATURDAY2020 10:54:49 AM
Nari

फेस्टिव सीजन में सरकार का बंपर ऑफर, बेफ्रिक होकर खरीद सकते हैं सस्ता सोना

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 14 Oct, 2020 11:52 AM
फेस्टिव सीजन में सरकार का बंपर ऑफर, बेफ्रिक होकर खरीद सकते हैं सस्ता सोना

सोने-चांदी के भाव पिछले कुछ दिनों से ऊपर-नीचे हो रहे हैं। वहीं, अब सोना खरीदने की चाह रखने वालों के लिए सरकार एक बंपर ऑफर लेकर आई है। दरअसल, सोना खरीदने वालों को सरकार की तरफ से डिस्काउंट मिलेगा। ऐसे में अगर आप भी सोना खरीदने का प्लान बना रहे हैं तो यह आपके लिए बेस्ट टाइम है।

सरकार दे रही बंपर ऑफर

केंद्र सरकार की तरफ से भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने गोल्ड सब्सक्रिप्शन 5,051 रु प्रति ग्राम तय किया है।सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के ऑनलाइन आवेदन करने वाले निवेशकों को प्रति ग्राम पर 50 रु का डिस्काउंट भी दिया जाएगा। इसके अलावा RBI ने स्वर्ण बॉन्ड का इशू प्राइस 5,051 रु प्रति ग्राम तय किया है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2020-21 (SGB) की सीरिज सात सब्सक्रिप्शन 12 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक खुली रहेगी।

PunjabKesari

8 साल में मैच्योर होता है गोल्ड बॉन्ड्स

फेस्टिवल सीजन से पहले सस्ता सोना खरीदने का यह सुनहरा मौका है। बता दें कि गोल्ड बॉन्ड्स 8 साल में मच्यौर होती है। हालांकि, निवेशक 5 साल के अंदर भी सोना निकाल सकते हैं लेकिन मैच्योरिटी पर सोने का भाव उस समय चल रहे रेट के आधार पर ही होगा।

अगर आप भी गोल्ड बॉन्ड्स में निवेश करने का प्लान बना रहे हैं तो पहले कुछ जरूरी बातें जान लें...

1. हर निवेशक के पास PAN Card होना जरूरी है, जिससे आप आनलाइन गोल्ड बॉन्ड खरीद सकते हैं।
2. इसकी बिक्री बैंकों के अलावा स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (SHCIL), डाकघर और NCI, BSE जैसे स्टॉक एक्सचेंज के जरिए भी हो सकेगी।
3. निवेशक इस स्कीम के जरिए सोने पर लगने वाली टैक्स की राशि बचा सकते हैं।
4. इस स्कीम के तहद 1 निवेशक एक साल में 400 ग्राम सोने का बॉन्ड ही खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है।
5. योजना की सबसे बड़ी खासियत ये है कि आप इससे लोन भी ले सकते है।

PunjabKesari

अब जानिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम से जुड़ी कुछ बड़ी बातें...

1. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड केंद्र सरकार तैयार करती हैं, जिसे RBI बैंक द्वारा जारी किया जाता है।
2. पहली सॉवरेन स्कीम नवंबर 2015 में लॉन्च की गई थी, ताकि देश में फिजिकल गोल्ड की मांग कम हो सके।लोगों ने गोल्ड के जरिए घरेलू बचत और वित्तीय बचत भी शुरू की थी।
3. सॉवरेन स्कीम के तहत कम से कम 1 ग्राम सोने में निवेश करना जरूरी है।
4. गोल्ड बॉन्ड पर सालाना 2.50% की दर से ब्याज दिया जाता है।
5.  गोल्ड बॉन्ड मैच्योरिटी पर कैपिटल गेन्स बनाने वाले को छूट भी दी जाती है, जोकि एक एक्सक्लुसिव फायदा है।

PunjabKesari

Related News