01 JUNMONDAY2020 12:06:23 PM
Nari

क्या अब जानवरों की तरफ बढ़ रहा Covid-19? जारी की गई एडवाइजरी

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 06 Apr, 2020 04:09 PM
क्या अब जानवरों की तरफ बढ़ रहा Covid-19? जारी की गई एडवाइजरी

दुनियाभर में लाखों लोगों को अपना शिकार बनाने के बाद अब कोरोना वायरस जानवरों को भी अपनी चपेट में ले रहा है। जी हां, हाल ही में अमेरिका के न्‍यूयॉर्क राज्‍य में एक टाइगर को इस किलर वायरस से संक्रमित पाया गया है। इसके बाद से ही डॉक्टरों की चिंता और भी बढ़ गई है। हालांकि दावा किया जा रहा है कि इंसानों से जानवरों बीच संक्रमण फैलने का यह पहला मामला है।

बिगड़ सकते हैं हालात

विशेषज्ञों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर दूसरे देशों में भी यह संक्रमण जानवरों में फैलता है तो स्थिति ओर भी बिगड़ सकती है। भारत ने पूरे देश में स्थित चिड़ियाघरों को एडवाइजरी जारी करते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किया है।

PunjabKesari

टाइगर कोरोना से संक्रमित

अमेरिका में एक मादा टाइगर में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके अलावा 3 अन्‍य बाघों को सूखी खांसी आने के बाद उनकी कोरोना जांच की गई, जिसमें उन्हें पॉजिटिव पाया गया।

पहले एक बिल्ली भी हो चुकी है संक्रमित

बेल्जियम में एक पालतू बिल्ली भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई थी। इसके अलावा हॉन्ग कॉन्ग में भी इसी तरह के दो मामले सामने आए थे, जहा दो कुत्ते कोरोना वायरस से संक्रमित मिले थे।

PunjabKesari

इन जानवरों में संक्रमण की संभावना कम

चाइनीज एकेडमी ऑफ एग्रीकल्चरल साइंस के शोध के मुताबिक, सूअर, मुर्गियों और बत्तखों को कोरोना फैलने की संभावना कम है। जबकि, उदबिलाव और बिल्लियों को इस वायरस का अधिक खतरा है। वहीं, बड़ी की तुलना में छोटी बिल्लियों में यह वायरस तेजी से फैलता है। यह वायरस सांस के जरिए निकलने वाले ड्रापलेट्स से फैलता है।

विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन ने जारी की एडवायजरी

. पालतू जानवरों के मालिक उन्हें जितना हो सके घरों के अंदर ही रखें।
. चिड़ियाघर में भी जानवरों को लेकर सतर्कता बरतें
. जानवरों के व्यवहार पर CCTV से निगरानी रखें।
. जानवरों को छूने के बाद हाथों को अच्छी तरह धोएं।
. जानवरों को भी अलग कमरें में रखें।
. उन्हें खाना देने के बाद भी हाथों को अच्छी तरह धोएं।
. बच्चों को जानवरों से दूर रखें।
. अगर जानवरों में कोरोना के लक्षण दिखाई दें तो तुरंत पशु सेहत विभाग से संपर्क करें।
. अगर कोई पशु बीमार मिलता है तो उसे अलग आइसोलेशन में रखा जाए।

PunjabKesari

Related News