27 MAYWEDNESDAY2020 3:25:39 PM
Nari

क्या कोरोना पॉजिटिव मां करवा सकती है स्तनपान?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 06 Apr, 2020 06:38 PM
क्या कोरोना पॉजिटिव मां करवा सकती है स्तनपान?

कोरोना वायरस के कारण जहां लाखों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, वहीं इसी बीच एक अच्छी खबर भी आई है। AIIMS हॉस्पिटल में महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया है। दरअसल, वो महिला कोरोना पॉजिटिव थी लेकिन बावजूद इसके मां और बच्चा दोनों स्वस्थ है। हालांकि इसके बाद से ही मां और बच्चे को आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है और दोनों पर निगरानी रखी जा रही है। डॉक्टरों के अनुसार, यह दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमित महिला से पैदा होने वाला पहला बच्चा है।

क्या कोरोना पॉजिटिव मां करवा सकती हैं स्तनपान

डॉक्टर ने कहा कि अब तक, कोई सबूत नहीं है जो बताए कि यह वायरस स्तनपान के जरिए फैलता है इसलिए बच्चे को मां के साथ ही रखा गया है क्योंकि उसे स्तनपान की जरूरत है। डॉक्टर ने कहा कि मां भी ठीक है। हालांकि एम्स पहले ही कोरोना से संक्रमित गर्भवती महिलाओं के लिए प्रोटोकॉल बना चुका है।

PunjabKesari

पति भी कोरोना से संक्रमित

बता दें कि 9 महीने की गर्भवती महिला को गुरुवार को कोरोना का संक्रमण पाया गया था। उनके पति एम्स में शरीर विज्ञान विभाग में एक सीनियर निवासी रेजिडेंट डॉक्टर के रूप में काम करते हैं, जब उनकी जांच की गई तो वो भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसके अलावा, डॉक्टर के भाई भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

सीजेरियन डिलीवरी से जन्मा बच्चा

एम्स के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉक्टर डीके शर्मा के मुताबिक, डिलिवरी सीजेरियन प्रॉसेस से करवाई गई है। टीम के हर मेंबर ने पसर्नल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट (पीपीई) पहने और सभी उपकरण डिसइनफेक्ट किए गए थए।

PunjabKesari

चीन में भी ऐसा ही मामला सामने आया था 

पिछले महीने चीन में भी कोरोना संक्रमित 33 साल की महिला ने स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया था। गर्भावस्था के 37वें सप्ताह में उस बच्ची का जन्म भी सीजेरियन प्रॉसेस से हुआ था। जन्म के बाद नवजात का कोरोना टेस्ट किया गया, जो नेगेटिव आया था। कुछ दिनों तक मां व बच्ची दोनों को डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया। इसके बाद दूसरा टेस्ट किया गया, जो नेगेटिव आया।

WHO के मुताबिक कोरोना संक्रमित मां बच्चे को दूध पिला सकती है लेकिन उन्हें स्वच्छता का काफी ध्यान रखना होगा।

. हमेशा मास्क पहनकर रखें।
. बच्चे को छूने से पहले भी हाथ धोएं।
. बच्चे के चेहरे पर हाथ ना लगाएं।
. उनके संपर्क में जो भी सतह आई है, उसकी लगातार सफाई कराई जानी भी जरूरी है।
. बच्चे के सामान को भी डेटॉल के पानी से साफ करें।

PunjabKesari

Related News