21 JANTHURSDAY2021 11:30:59 AM
Nari

रोजाना करें ये 2 योगासन, नहीं होगी PCOD की शिकायत!

  • Edited By neetu,
  • Updated: 03 Dec, 2020 02:26 PM
रोजाना करें ये 2 योगासन, नहीं होगी PCOD की शिकायत!

पीसीओडी की शिकायत आजकल महिलाओं में आम दिखाई देने लगी है। इसके पीछ के कारण हार्मोनल असंतुलन, तनाव, सही चीजों का सेवन ना करना आदि है। इसकी वजह से ओवरी में छोटी-छोटी गांठें पड़ने लगती है। ऐसे में पीरियड्स में बहुत-सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में इस समस्या को कम करने के लिए डेली डाइट व रूटीन में कुछ बदलाव करके इस समस्या से बचा जा सकता है। इसके साथ ही योगा द्वारा भी पीसीओडी के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है। साथ ही इस परेशानी के होने से बचाव रह सकता है। तो चलिए आज हम आपको 2 ऐसे योगासन के बारे में बताते हैं, जिसे करने से इस परेशानी पर काबू पाया जा सकता है। मगर उससे पहले जानते हैं, पीसीओडी के कारण शरीर में दिखने वाले लक्षण...

पीसीओडी में दिखने वाले लक्षण

- मासिक चक्र का सही ना होना
- पेड़ू में दर्द होना (Pelvic Pain)
- बिना कोई भारी काम किए थकान व कमजोरी रहना
- वजन बढ़ने की शिकायत होना 
- बार-बार सिर में दर्द रहना 
- चेहरे व शरीर पर ज्यादा बाल उगना
- बाल झड़ना व पतले होना 
- चेहरे पर कील-मुंहासे हो जाना 

अगर आप इस समस्या से परेशान है तो इन आसन से इससे राहत पा सकती है। तो चलिए इन आसनों को करने का तरीका...

PunjabKesari

उष्‍ट्रासन

- सबसे पहले खुली जगह पर मैट बिछाकर घुटनों के बल बैठें। 
- अब अपने पैरों व घुटनों के बीच 2 फुट की दूरी बनाएं। 
- घुटनों के बल पर खड़े होकर पैरों और सिर को धीरे-धीरे पीछे की ओर करते हुए झुकाएं। 
- अपने हाथों को भी पीेछे की तरफ करते हुए एड़ियों को पकड़ लें। 
- अपनी गर्दन को भी पीछे की तरफ झुकाएं। साथ ही ध्यान रखें कि गर्दन में झटका ना लगे। 
- अब धीरे-धीरे लंबी सांस लें।
- फिर सामान्य अवस्था में आ जाएं। 
- इसी तरह इस आसन को 5-7 बार करें। 

PunjabKesari

भुजंगासन

- इस आसन को करने के लिए सबसे पहले जमीन पर मैट बिछाकर पेट के बल ले जाएं। 
- दोनों पैरों में दूरी बनाकर उन्हें पीछे की ओर रखें। 
- अब अपने हाथों को जमीन पर रख कर शरीर को ऊपर की ओर उठाते हुए पीछे को मोड़ें।
- अब गहरी सांस लेते हुए करीब 20-30 सेकेंड तक इसी स्थिति में रहें। 
- बाद में सामान्य अवस्था में आ जाएं। 
- इसी तरह इस आसन को 3-4 बार दोहराएं।

PunjabKesari

इन चीजों का भी रखें ध्यान...

- पुदीने की चाय पीने से भी इसके लक्षण कम करने में मदद मिलती है। 

- एंटी-ऑक्सीडेंट व एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर अलसी के बीजों का सेवन करना भी फायदेमंद होता है। 

- 1 गिलास गुनगुने पानी में 2 चुटका दालचीनी पाउडर मिलाकर पीने से भी समस्या कम होती है। 
 

Related News