31 OCTSATURDAY2020 10:32:36 AM
Nari

शुगर मरीज का हर 2 घंटे में कुछ खाना जरूरी, जानिए बीमारी के मुताबिक डाइट प्लान

  • Edited By neetu,
  • Updated: 09 Oct, 2020 05:19 PM
शुगर मरीज का हर 2 घंटे में कुछ खाना जरूरी, जानिए बीमारी के मुताबिक डाइट प्लान

बीमारियों से बचने का सबसे पहला स्टेप आपकी डाइट है। आपकी डाइट सहीं होगी तो आप बीमारियों से बचे रहेंगे और जो लोग किसी बीमारी की चपेट में हैं उन्हें भी तो डाइट को लेकर ज्यादा सुचेत रहने की आवश्यकता होती है ताकि उस बीमारी को कंट्रोल में रखा जाए तो चलिए इस हैल्थ आर्टिकल के जरिए आपको बताते हैं किस बीमारी में कैसी डाइट खानी चाहिए और किस चीज से परहेज रखना चाहिए। 

1. डायबिटीज 

डायबिटीज के मरीजों को अपने खाने में ज्यादा समय का गैप नहीं डालना चाहिए। इन्हें हर 2 घंटे में किसी चीज का सेवन करना चाहिए। ताकि शुगर लेवल कंट्रोल में रह सके। 

इन चीजों का करें सेवन 

- डायबिटीज के मरीजों को खाने में फाइबर से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए। 
- इनके लिए जौ, चना व गेहूं के आटे से तैयार रोटी का सेवन करना फायदेमंद होता है। 
- रोजाना छाछ व 100 ग्राम फलों और ड्राई फ्रूट्स का जरूर सेवन करना चाहिए। 

इन चीजों को खाने से बचें

- बाहर का ज्यादा मसालेदार व ऑयली फूड का सेवन न करें। 
- इन लोगों को चुकंदर, शकरकंद, आलू आदि का सेवन कम मात्रा में करना चाहिए। 
- फलों व सब्जियों में ऊपर से नमक डालकर खाने से बचना चाहिए।
- इन सब इलावा डायबिटीज के मरीजों को अपने साथ कोई मीठी चीज जैसे कि टॉफी जरूर रखनी चाहिए। ताकि शुगर लेवल कम होने की स्थिति से बचा जा सके। साथ ही सुबह- शाम योगा, एक्सरसाइज और सैर करनी चाहिए। 

nari,PunjabKesari

2. दिल और ब्लड प्रेशर

 

खाने में इन चीजों का करें सेवन

- मौसमी व हरी पत्तेदार सब्जियों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें। 
- फलों में रोजाना सेब,अमरूद व पपीता खाएं। 
- फाइबर से भरपूर चीजों को डेली डाइट में शामिल करें। 
- साबुत व अंकुरित अनाज के साथ बाजरा और रागी के आटे की रोटी खाएं। 
- छेना से तैयार मिठाई का सेवन करें। 
- सूप का सेवन करें। 

इन चीजों से रखें परहेज 

- तली- भूनी व मसालेदार चीजों को न खाएं। 
- पैक्ड फूड, सूजी व मैदे से तैयार चीजों का कम से कम सेवन करें। 
- खाने में घी, नमक व चीनी का कम प्रयोग करें। 
- सलाद व फलों को बिना नमक के ही खाएं। 

इन बातों का भी रखें ध्यान 

- सोने से करीब 3-4 घंटों पहले डिनर करें। नहीं तो पेट और दिल से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। 
- सुबह व शाम को 30 मिनट तक सैर करें। 

3. किडनी रोगी इन चीजों का करें सेवन 

- किडनी की समस्या से परेशान रोगियों को खाने में गाजर, पत्तागोभी, खीरा, पालक आदि हरी सब्जियों का अधिक सेवन करना चाहिए। साथ ही सब्जियों को उबाल कर खाने से इसमें मौजूद सोडियम की मात्रा पानी में निकल जाएगी। 
- फलों में एंटी- ऑक्सीडेंट से भरपूर स्ट्रॉबैरी, रसबैरी व ब्लूबैरी आदि का सेवन करने से दर्द से राहत मिलती है। 
- अधिक मात्रा में ओमेगा- थ्री फैटी एसिड से भरी चीजों का सेवन करें। 
- इसके साथ ही सुबह- शाम खुली हवा में 15 मिनट के लिए सैर करें। इससे शरीर को सही मात्रा में ऑक्सीजन मिलने से किडनी को बेहतर तरीके से काम करने की शक्ति मिलती है। 

इन्हें ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए। ताकि की सफाई हो सके। 

 

4. लिवर के मरीज यूं रखें अपनी सेहत का ध्यान 

 

इन चीजों का करें सेवन

- नींबू पानी, नारियल पानी व गन्ने के जूस का सेवन करने से लिवर दुरुस्त होता है। 
- इसके अलावा मूली, पालक, लौकी, गाजर, शलगम आदि सब्जियों का अधिक सेवन करने के साथ इनका सूप बनाकर पीएं। इससे लिवर में जमा गंदगी दूर हो खून साफ होने में मदद मिलती है। 
- फलों में तरबूज, नाशपाती, अमरूद,मौसमी, अनार, सेब, पपीता और आलूबुखारा आदि का भारी मात्रा में सेवन करें। 
- सुबह खाली पेट 2-3 गिलास पानी का सेवन करें। 

nari,PunjabKesari

इन चीजों से रखें दूरी

- बाहर के खाने से परहेज रखें। 
- भारी मात्रा में चाय, कॉफी का सेवन न करें। 
- शराब, सिगरेट व तंबाकू ना खाएं। 

इन चीजों से रखें ध्यान 

खाने के दौरान और तुरंत बाद पानी पीने से बचें। रोजाना 40-50 मिनट तक प्राणायाम और हल्का- फुल्का योगा करें।

5.अस्थमा के मरीज

 

इन चीजों का करें सेवन 

- खाने में विटामिन, मिनरल्स, प्रोटीन व एंटी- ऑक्सीडेंट से भरपूर जैसे कि सेब,स्ट्रॉबैरी, रसबैरी, अमरूद, संतरा और कीवी   चीजों का सेवन करें। 
- पौष्टिक गुणों से भरपूर से हरी व पत्तेदार सब्जियां का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें। सब्जियों से तैयार सूप भी पीना काफी फायदेमंद होगा। 
- खट्टी व ठंडी चीजों को खाने से बचें। 
- उन चीजों को खाने से बचें जिनसे आपको से एलर्जी हो। 

इन बातों का भी रखें ध्यान 

अस्थमा के पंप और दवाइयों को हमेशा साथ रखें। साथ ही सुबह- शाम हल्का- फुल्का योगा व एक्सरसाइज करें। 

Related News