08 JULWEDNESDAY2020 5:40:46 AM
Nari

नेपोटिज्म पर बोले इरफान के बेटे बाबिल, कहा - इसके खिलाफ बोलें लेकिन सुशांत के नाम पर मत खेलिए

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 24 Jun, 2020 10:24 AM
नेपोटिज्म पर बोले इरफान के बेटे बाबिल, कहा - इसके खिलाफ बोलें लेकिन सुशांत के नाम पर मत खेलिए

सुशांत सिंह के जाने के बाद हर तरफ बॉलीवुड में चल रही नेपोटिज्म पर सवाल खड़े हो गए हैं। इंडस्ट्री की ये काली सच्चाई लोगों के सामने आ रही है इतना ही नहीं इसे खुद इंडस्ट्री के कलाकार आगे ला रहे हैं और वहीं सुशांत के फैंस ने ये साफ कह दिया है कि सुशांत की जान बॉलीवुड में चल रही नेपोटिज्म की वजह से गई है। वहीं सुशांत की मौत के बाद बहुत से स्टार्स ने इंडस्ट्री में चल रही इस नेपोटिज्म के बारे में भी बोला जिसमें से सोनू निगम, साहिल खान, कंगना और भी कईं कलाकार हैं। वहीं अब हाल ही में स्वर्गीय एक्टर इरफान खान के बेटे बाबिल ने नेपोटिज्म पर अपनी राय रखी है। उन्होंने सुशांत के लिए एक लंबी पोस्ट लिखी है।

PunjabKesari
नेपोटिज्म पर बोलें लेकिन सुशांत के नाम पर मत खेलें

बाबिल ने इंस्टाग्राम पर एक लंबा पोस्ट शेयर किया है जिसमें उन्होंने लिखा, ' मेरी आप सब से एक गुजारिश है कि किसी को और ज्यादा दुख ना पहुंचाएं। आप उन सभी बातों को रखिए, लेकिन सुशांत के नाम पर ब्लेम-गेम मत कीजिए। उनकी जर्नी को देखिए वो कितने शानदार व्यक्तित्व के इंसान थे। वो ये सब नहीं चाहते थे.... अगर आप वाकई ही नेपोटिज्म से लड़ना चाहते हैं तो जरूर लड़‌िए और इसका बदला लीजिए लेकिन इसका कारण सुशांत को मत बनाइए। सच के लिए खड़े होइए पर किसी के कंधे पर बदूंक रखकर नहीं।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

It’s still not settling in. We’ve lost two very sincere people and sincerity is key in our spiritual journey, thus it comes as an unbelievable shock, the way Sushant has departed. Naturally, we have descended into pinning the blame on something or someone, which in itself is the most futile act because to find peace by playing the blame game is not honest peace, it is a fleeting reflection of a lie. I urge you to not blame someone or something for this incredibly unfortunate happening, I urge you to accept that life is filled with leg spin deliveries bouncing off spin with no apparent explanation or understanding provided, I urge you to stop investigating the reason because it only brings more despair to the people intimately suffering the loss. Instead we must celebrate the evolution of these sincere men and let their wisdom manifest in our own journeys in some way, hoping to keep little lanterns of their memories ignited in our sensitive souls. I’m saying stand up for what’s right without using Sushant’s demise as an excuse, if you want to rebel against nepotism, do so, but don’t use Sushant as a reason to why you’re doing so now. Stand up for what’s right regardless anyway in any case. (And it would and should be my fight to prove to the audience that I deserve a shot.)

A post shared by Babil Khan (@babil.i.k) on Jun 23, 2020 at 5:39am PDT

वहीं आपको बता दें कि सुशांत की मौत के बाद हर तरफ नेपोटिज्म पर बहस छिड़ गई है जिसकी वजह से लोगों के निशाने पर कईं स्टार्स आगे आए हैं।

Related News