27 NOVSUNDAY2022 4:43:47 AM
Nari

16 डिब्बे, हाई स्पीड, अडवांस फीचर...बुलेट ट्रेन से भी तेज है वंदे भारत एक्सप्रेस

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 30 Sep, 2022 03:35 PM
16 डिब्बे, हाई स्पीड, अडवांस फीचर...बुलेट ट्रेन से भी तेज है वंदे भारत एक्सप्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर और मुंबई के बीच चलने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन काे हरी झंडी दिखाकर मुंबई के लिए रवाना कर दिया है। इसके बाद ट्रेन में सवार होकर उन्होंने गांधीनगर से अहमदाबाद के कालूपुर स्टेशन तक यात्रा भी की।

PunjabKesari
वंदे भारत ट्रेन महाराष्ट्र और गुजरात की राजधानियों को जोड़ती है। वंदे भारत ट्रेनों की श्रृंखला में यह तीसरी ट्रेन है, जो देश में संचालित की गई है। इस श्रृंखला की पहली ट्रेन नयी दिल्ली और वाराणसी के बीच आरंभ की गई थी जबकि दूसरी ट्रेन नयी दिल्ली से माता वैष्णो देवी, कटरा के बीच शुरू हुई थी।

PunjabKesari
यह ट्रेन यात्रियों को बेहतर और विमान यात्रा जैसा अनुभव प्रदान करेगी तथा इसमें सुरक्षा के आधुनिक उपाय हैं जिसमें कवच प्रौद्योगिकी भी शामिल है। यह स्वदेशी रूप से विकसित ट्रेन टक्कर-रोधी प्रणाली- कवच सहित अत्याधुनिक सुरक्षा सुविधाओं से लैस है।

PunjabKesari
गांधीनगर-मुंबई वंदे भारत सुपरफास्ट एक्सप्रेस एक अक्टूबर से आम जनता के लिए शुरू होगी। रविवार को छोड़कर यह सप्ताह में छह दिन संचालित होगी। मुंबई सेंट्रल स्टेशन से यह ट्रेन सुबह 6.10 बजे रवाना होगी और दोपहर 12.30 बजे गांधीनगर पहुंचेगी। 

PunjabKesari
गांधीनगर से यह ट्रेन अपराह्न 2.05 बजे रवाना होगी और रात 8.35 बजे मुंबई सेंट्रल पहुंचेगी। इस दौरान यह ट्रेन सूरत, वडोदरा और अहमदाबाद स्टेशन पर रुकेगी। इस ट्रेन में सभी श्रेणियों में बैठने की सीटें हैं, जबकि एग्जिक्यूटिव कोच में 180 डिग्री घूमने वाली सीटों की अतिरिक्त सुविधा है। प्रत्येक कोच में 32 इंच की स्क्रीन है, जो यात्रियों से संबंधित सूचना प्रदान करने के साथ-साथ मनोरंजन भी करेगी।

PunjabKesari
मुंबई से अहमदाबाद के एग्जिक्यूटिव कोच का किराया 2,505 रुपये है जबकि चेयर कार श्रेणी का किराया 1,385 रुपये है। वंदे भारत एक्सप्रेस के लिए रेलवे ने मुंबई और अहमदाबाद के बीच चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस के संचालन के समय में परिवर्तित किया है।

PunjabKesari

वंदे भारत ट्रेन में 16 कोच होंगे और महज 140 सेंकेड के भीतर यह 160 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार पकड़ सकती है। वातानुकूलन की निगरानी के लिए प्रत्येक कोच में एक कोच कंट्रोल मैनेजमेंट सिस्टम होगा। इस ट्रेन में विमान जैसे बायो-वैक्यूम शौचालय की सुविधा होगी। दिव्यांगों के लिए अलग से शौचालय की व्यवस्था रहेगी।

PunjabKesari

वंदे भारत ट्रेन अधिक उन्नत और बेहतर सुविधाओं से लैस है। केवल 52 सेकंड में इसकी गति 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे हो जाएगी और इसकी अधिकतम गति 180 किलोमीटर प्रति घंटे तक होगी।  इसमें वाई-फाई कंटेंट ऑन डिमांड की सुविधा भी होगी और यात्रियों के लिए सूचना एवं मनोरंजन के लिए प्रत्येक कोच में 32 इंच की स्क्रीन लगी होगी।
 

Related News