26 FEBMONDAY2024 5:01:06 PM
Nari

बच्चे को बहती नाक से मिलेगा छुटकारा, Parents अपनाएं ये घरेलू उपाय

  • Edited By palak,
  • Updated: 03 Dec, 2023 04:16 PM
बच्चे को बहती नाक से मिलेगा छुटकारा, Parents अपनाएं ये घरेलू उपाय

छोटे बच्चों की इम्यूनिटी बहुत ही कमजोर होती है जिसके कारण वे सर्दी-जुकाम और बीमारियों की चपेट में बहुत जल्दी आते हैं। वैसे आपने कई बार नोट किया होगा कि जब बच्चों को जुकाम होता है तो उनकी नाक बहने लगती है। बच्चों और शिशुओं में नाक बहने की समस्या आम है। यह समस्या बच्चों के साथ-साथ पेरेंट्स को भी काफी परेशान कर सकती है। नाक बहने के कारण बच्चों को सांस लेने में भी परेशानी होती है इसके कारण उन्हें मुंह से सांस लेनी पड़ती है। अक्सर पेरेंट्स बच्चों को बहती नाक और जुकाम की समस्या को ठीक करने के लिए उन्हे सिरप या फिर दवाईयां देने लगते हैं लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो बच्चों और शिशुओं को फ्लू के लिए कोई भी दवाई नहीं देनी चाहिए। ऐसे में बच्चों की बहती नाक के लिए इलाज के लिए आप कुछ घरेलू नुस्खे अपना सकते हैं। आइए जानते हैं इन नुस्खों के बारे में.....

अदरक 

बच्चों की बहती नाक को रोकने के लिए अदरक बेहद फायदेमंद हो सकता है। इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। इसके अलावा यह शरीर को गर्माहट देने में भी मदद करता है। अदरक का सेवन करने से बहती नाक और जुकाम की समस्या से राहत मिल सकती है। एक चम्मच अदरक के रस में शहद मिलाकर बच्चे को दें। यह मिश्रण आप बच्चे को दिन में 2-3 बार दे सकते हैं।

PunjabKesari

जायफल 

जायफल भी बच्चों की बहती नाक की समस्या को रोकने के लिए बेहद लाभकारी होता है। जायफल को दूध के साथ उबालकर बच्चों को पीने के लिए दें। इससे जुकाम और बहती नाक की समस्या से जल्दी राहत मिल सकती है।एक गिलास दूध में एक चुटकीभर जायफल का पाउडर मिलाएं इसके बाद इसे उभाल लें और फिर ठंडा कर लें। इस दूध का सेवन करने से बच्चों को बहती नाक की समस्या से राहत मिलेगी। 

सरसों का तेल 

यह भी बच्चों के बहती नाक की समस्या को दूर करने में बेहद फायदेमंद है। इस तेल से मालिश करने से बच्चे को काफी आराम मिलेगा। सरसों के तेल में लहसुन की 5-6 कलियां डालकर उबाल लें। जब तेल थोड़ा ठंडा हो जाए तो उससे बच्चे की छाती और पीठ की मालिश करें। इस तेल को बच्चे की गर्दन पर भी लगाएं। ऐसा करने से उनकी छाती पर जमा कफ साफ होगा और उन्हें बहती कफ से भी राहत मिलेगी। 

PunjabKesari

तुलसी 

तुलसी भी बच्चों की बहती नाक को रोकने में मदद करेगी। इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण सर्दी-जुकाम और बहती नाक की समस्या को दूर करने में मदद करेंगे। तुलसी के पत्तों के साथ शहद या गुड़ मिलाकर बच्चे को दिन में 1-2 बार दें। इससे नाक बहना कम हो जाएगी और उन्हें जुकाम से भी काफी राहत मिलेगी। 

नारियल तेल और कपूर 

यह दोनों चीजों बहती नाक को रोकने के लिए एक प्रभावी तरीका है। नारियल के तेल में थोड़ा सा कपूर मिलाकर गर्म कर लें। फिर इससे बच्चे की छाती, गर्दन और पीठ पर लगाएं। इसके बाद हल्के हाथों से बच्चों की मालिश करें। उन्हें जुकाम से काफी राहत मिलेगी और वह एकदम ठीक हो जाएंगे। 

PunjabKesari

Related News