31 OCTSATURDAY2020 10:48:02 AM
Nari

Festival Special: मेन गेट पर बंदनवार लगाना क्यों होता है जरूरी?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 15 Oct, 2020 03:04 PM
Festival Special: मेन गेट पर बंदनवार लगाना क्यों होता है जरूरी?

नवरात्रि आने में अब कुछ ही दिन बचे हैं। उसके बाद त्यौहारों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। नवरात्रि के दिनों में लोग अपने घर की साफ-सफाई करने के साथ उसे ट्रेडिशनल तरीके से डैकोरेट भी करती हैं। वहीं, फेस्टिवल में लोग मुख्य द्वार पर आम, गेंदे आदि तोरण यानि बंदनवार भी लगाते हैं। मगर, क्या आप जानते हैं कि मुख्य द्वार पर तोरण क्यों लगाई जाती है। यहां हम आपको यही बताएंगे कि मुख्य द्वार पर तोरण क्यों लगाई जाती है और इसे लगाने का महत्व क्या है...

क्यों लगाया जाता है तोरण?

पुराने समय से शादी, त्यौहार, दीवाली, बच्चे के जन्म या किसी भी शुभ मौके पर घर के मुख्य द्वार पर बंदनवार लगाने की परंपरा चली आ रही है। मान्यता है कि मुख्य द्वार पर तोरण लगाने से नाकारात्मक ऊर्जा घर के अंदर प्रवेश नहीं करती।

अलग-अलग तोरण लगाने के फायदे

आम के पत्तों का तोरण

मांगलिक कार्यों में आम के पत्तों घर के मुख्य द्वार पर आम के पत्तों का तोरण लगाया जाता है। माना जाता है कि इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा आता है और शुभ काम में कोई विघ्न नहीं आता। साथ ही इससे घर में सुख व समृद्धि भी बनी रहती है।

PunjabKesari

गेंदे के फूल का तोरण

गेंदे के फूल का संबंध बृहस्पति ग्रह से होता है इसलिए आम के पत्तों के साथ गेंदे के फूल लगाना शुभ माना जाता है। इसकी महक से ना सिर्फ घर में पॉजिटिविटी आती है बल्कि यह घर में बुरी शक्तियों को प्रवेश करने से भी रोकता है।

PunjabKesari

धान की बालियों वाला तोरण

पुराने जमाने में घर को बुरी शक्तियों से बचाने के लिए मुख्य द्वार पर धान की बालियां वाला तोरण लगाते थे। वहीं, मान्यता है कि इससे घर में कभी धन-धान्य, अनाज की कमी नहीं होती।

PunjabKesari

अशोक के पत्तों का तोरण

माना जाता है कि अशोक के पत्तों का बंदनवार मुख्य द्वार पर लगाने से आर्थिक समस्याएं दूर होती है। साथ ही इससे मां लक्ष्मी की कृपा भी सदैव घर पर बनी रहती है।

ये तोरण भी होते हैं फायदेमंद

. पॉजिटिव एनर्जी और घर में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए आप कौड़ी या सीप बंदनवार बनाकर भी लगा सकते हैं।
. कर्ज में डूबे हुए हैं या सेहत खराब रहती है तो घर की चौखट पर नारियल के रेशों का तोरण लगाएं।
. पीपल, आम या अशोक के पत्तों का तोरण लगाने से भी घर में बुरी शक्तियां प्रवेश नहीं करता। साथ ही इससे परिवार के सदस्यों में भी एकता बनी रहती है।

इस दिन शुभ होता है बंदनवार लगाना?

वैसे तो बंदनवार लगाने के लिए सभी दिन शुभ होते हैं क्योंकि इसे खुद शुभता का प्रतीक माना जाता है। मगर, फिर भी आप मंगलवार के दिन मुख्य द्वार पर तोरण लगा सकते हैं।

PunjabKesari

त्यौहार, पूजन या दीवाली के मौके पर आप भी अपने घर के दरवाजे पर बंदनवार जरूर लगाएं, ताकि आपकी खुशियों को किसी की नजर न लगे।

Related News