02 MARTUESDAY2021 5:46:21 PM
Nari

प्रेगनेंसी में हर औरत झेलती है ये 5 हैल्थ प्रॉब्लम्स, जान लें बचाव के उपाय

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 24 Dec, 2020 01:37 PM
प्रेगनेंसी में हर औरत झेलती है ये 5 हैल्थ प्रॉब्लम्स, जान लें बचाव के उपाय

प्रेगनेंसी में हॉर्मोन्स बदलाव के कारण हर महिला को मॉर्निंग सिकनेस, मूड़ स्विंग, बाल झड़ना, जैसी कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं, इस दौरान जेस्टेशनल डायबिटीज, यूटीआई जैसी समस्याओं की संभावना भी बढ़ जाती हैं। ऐसे में हर औरत को इससे बचाव के टिप्स पता होने चाहिए। चलिए आज हम आपको प्रेगनेंसी में होने वाली 5 कॉमन प्रॉब्लम्स और उससे बचाव करने के टिप्स बताते हैं...

डायबिटीज

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं में जेस्टेशनल डायबिटीज का खतरा बढ़ जाती है, जिसके कारण नवजात बच्चे में कुछ जन्मजात बीमारियां का खतरा रहता है।

बचाव के लिए क्या करें?

जो स्त्रियां पहले से ही डायबिटीक मरीज है वो आलू, चावल, जंक फूड, मीठी चीजों से दूर रहें और हर 3 महीने में OGTT (ओरल ग्लूकोस टोलरेंस टेस्ट) करवाएं। इसके साथ ही डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए डॉक्टर दवाइयां या इंसुलिन इंजेक्शन की सलाह भी देते हैं।

PunjabKesari

यूटीआई

शरीर में प्रोजेस्ट्रेरोन की मात्रा बढ़ने की वजह से महिलाओं को इस समय यूटीआई इंफेक्शन का खतरा भी रहता है, जिससे किडनी इंफेक्शन का खतरा रहता है। तरल पदार्थों का ज्यादा सेवन और सही डाइट लें। जंक फूड, स्ट्रीट फूड खाने से परहेज करें और गंदे टॉयलेट का यूज ना करें।

प्री-एक्लेमप्सिया

शुरुआत के 20वें हफ्ते में कुछ महिलाओं का बीपी बढ़ने लगता है, जिसके कारण यूरिन के रास्ते प्रोटीन निकल जाता है। इसे प्री-एक्लेमप्सिया कहा जाता है, जो काफी गंभीर स्थिति है। इसके कारण चेहरे पर सूजन, पैरों में दर्द, ब्लड सर्कुलेशन में दिक्कत और शिशु के विकास में बाधा आने लगती है। ऐसे में महिलाएं रेगुलर चेकअप करवाती रहें और कोई भी दिक्कत आने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

PunjabKesari

पैरों और कमर में दर्द

प्रेगनेंसी में होने वाला पैर, कमर, रीढ़ की हड्डी, मांसपेशियों में दर्द, सूजन और खिंचाव के कारण उठना-बैठना तक मुश्किल हो जाता है। इसके बचने के लिए ज्यादा आराम करें और भारी सामान उठाने से बचें। इसके साथ ही सोने की पोजिशन भी सही रखे।

एनीमिया

एनीमिया यानि शरीर में खून की कमी होने से ना सिर्फ बच्चे के विकास में बाधा आती है बल्कि यह गर्भपात का कारण भी बन सकता है। ऐसे में बेहतर होगा कि आप डाइट में अनार, चुकंदर, हरी पत्तेदार सब्जियां, अंजीर, खजूर जैसे आयरन युक्त चीजें खाएं, ताकि शरीर में खून की कमी ना हो।

PunjabKesari

Related News