28 MAYSUNDAY2023 2:56:01 PM
Nari

पेरेंट्स की इन गलतियों के कारण बच्चे हो जाते हैं फोन के आदि, अभी से कर लें इनमें बदलाव

  • Edited By palak,
  • Updated: 02 Jan, 2023 11:37 AM
पेरेंट्स की इन गलतियों के कारण बच्चे हो जाते हैं फोन के आदि, अभी से कर लें इनमें बदलाव

छोटे बच्चे जहां पहले खिलौनों के साथ खेलना पसंद करते थे, वहीं बदलते लाइफस्टाइल के कारण बच्चे फोन के आदि होते जा रहे हैं। कम उम्र में ही उन्हें फोन चलाने की आदत लगती जा रही है। लेकिन बच्चे के फोन एडिक्टेड होने का कारण कहीं न कहीं पेरेंट्स भी हैं। कई बार काम में बिजी होने के कारण बच्चे का ध्यान भटकाने के लिए पेरेंट्स बच्चों को फोन पकड़ा देते हैं जिसके कारण बच्चे फोन के आदि हो जाते हैं। परंतु पेरेंट्स कुछ बातों का खास ध्यान रखकर भी बच्चों का फोन एडिक्शन कम करवा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इनके बारे में...

फिजिकल एक्टिविटीज करवाएं 

बच्चे को रोता हुआ देखकर पेरेंट्स कई बार बच्चों को फोन पकड़ा देते हैं। माता-पिता की इन्हीं आदतों के कारण बच्चे फोन के आदि हो जाते हैं। यदि आप बच्चे को फोन से दूर रखना चाहते हैं तो आप उन्हें फोन देने की जगह फिजिकल एक्टिविटीज करवा सकते हैं। बोर्ड गेम्स या फिर आउटडोर गेम्स खेलने के लिए आप बच्चे को प्रेरित कर सकते हैं। इससे बच्चे शारीरिक और मानसिक दोनों रुप से फिट रहेंगे। गेम्स में व्यस्त होने के कारण बच्चे फोन के बारे में ज्यादा नहीं सोचेंगे। 

PunjabKesari

मोबाइल न छीनें 

बच्चे को फोन का इस्तेमाल करते देख पेरेंट्स उनसे फोन छीन लेते हैं। फोन छिनता देख बच्चे उसे लेने की जिद्द ही पकड़ लेते हैं । इसलिए यदि आप बच्चों को फोन से खेलता हुए देखते हैं तो उनके हाथ से फोन न लें। आप उनसे फोन लेने से अच्छा इंटरनेट बंद कर सकते हैं। इस तरह बच्चे आपको खुद ही कुछ देर में फोन दे देंगे। 

फोन को बताएं बोरिंग एक्टिविटी 

छोटे बच्चे अच्छी दिखने वाली चीजों से बहुत ही जल्दी आकर्षित होते हैं। ऐसे में आप बच्चों के सामने फोन को एक बोरिंग एक्टिविटीज की तरह दिखाएं। इस तरीके से बच्चे फोन से जल्दी प्रभावित नहीं होंगे और उसमें ज्यादा रुचि भी नहीं लेंगे। 

PunjabKesari

सुबह न करें फोन का इस्तेमाल 

पेरेंट्स की आधत होती है कि सुबह उठने के बाद फोन का इस्तेमाल करने लगते हैं लेकिन माता-पिता को फोन चलाते देख बच्चे भी फोन चलाने लगते हैं। ऐसे में यदि आप खुद भी सुबह फोन का इस्तेमाल न करें और बच्चे को भी फोन न दें। खाना खाते हुए भी बच्चे को फोन से दूर रखें। इससे बच्चे ज्यादा ओवरइटिंग का शिकार हो सकते हैं। 

सोशल मीडिया से बनाएं दूरी

पेरेंट्स बच्चों के सामने व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम और यूट्यूब जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बहुत ही एक्टिव रहते हैं। ऐसे में पेरेंट्स को इन सारी चीजों का इस्तेमाल करता देख बच्चे भी सोशल मीडिया में दिलचस्पी लेने लग सकते हैं। इसलिए आप बच्चों के सामने इन चीजों का ज्यादातर अवॉयड ही करें। इससे आप उन्हें फोन से दूर रख सकते हैं। 

PunjabKesari

Related News