23 JULTUESDAY2024 4:51:01 PM
Nari

बड़ी उपलब्धि: लाखों फूलों से महकने वाले ट्यूलिप गार्डन  का World Book of Records में  नाम दर्ज

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 21 Aug, 2023 09:36 AM
बड़ी उपलब्धि: लाखों फूलों से महकने वाले ट्यूलिप गार्डन  का World Book of Records में  नाम दर्ज

जम्मू-कश्मीर के जबरवान पर्वत श्रृंखला की तलहटी में स्थित अति सुंदर इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्यूलिप गार्डन ने शनिवार को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स (लंदन) में अपना नाम दर्ज करा लिया है। श्रीनगर की मशहूर डल झील और ज़बरवान हिल्स के बीच स्थित 52.5 हेक्टेयर में फैला इंदिरा गांधी ट्यूलिप गार्डन रंगबिरंगा दृश्य पेश करता है।

PunjabKesari
इंदिरा गांधी मेमोरियल  ट्यूलिप गार्डन अपने मनमोहक द्दश्य के लिए जाना जाता है। यहां न केवल ट्यूलिप का एक शानदार संग्रह है, बल्कि असंख्य फूलों की प्रजातियों के लिए यह स्वर्ग के रूप में भी विख्यात है। यहां नाजुक डैफोडील्स, सुगंधित जलकुंभी, शानदार गुलाब, आकर्षक रेनकुली, जीवंत मस्केरिया और आकर्षक आइरिस फूल प्रतिष्ठित ट्यूलिप के साथ खिलते हैं और रंगों और सुगंधों की एक आकर्षक टेपेस्ट्री बनाते हैं। 

PunjabKesari
 इस गार्डन में 60 किस्मों और रंगों वाले 15 लाख से अधिक ट्यूलिप हैं। ऐसे रंग-बिरंगे फूलों की वजह से इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्यूलिप गार्डन श्रीनगर के प्रमुख पर्यटक में से एक है। इसे सिराज बाग के तौर पर भी जाना जाता है। यहां आकर लोग कहते हैं कि उन्हें इस बाग से मोहब्बत हो जाती है। यहां सैलानियों को खुश करने के लिए कई सांस्कृतिक और संगीत कार्यक्रम होते हैं, यहां बगीचे को ढलान वाली जमीन पर सीढ़ीदार तरीके से बनाया गया है ।

PunjabKesari
 फ्लोरीकल्चर कश्मीर के निदेशक, अन्य अधिकारी और बागवानी कर्मचारियों ने इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्यूलिप गाडर्न की भव्यता को स्वीकार करने के लिए वल्डर् बुक ऑफ रिकॉर्ड्स (लंदन) टीम के प्रति गहरा आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि यह एक बड़ी उपलब्धि है क्योंकि इसने न केवल श्रीनगर के फूलों के खजाने का कद ऊंचा करेगी, बल्कि कश्मीर की शांत घाटियों में स्थानीय अर्थव्यवस्था के विकास में भी योगदान देगी।  वल्र्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में शामिल होना न केवल श्रीनगर के खिलते रत्न की मान्यता है, बल्कि मानवता और प्रकृति के बीच आकर्षक बंधन का उत्सव भी है। 

PunjabKesari
अगर आप इस गार्डन में घूमने का मन बना रहे हैं, तो इस बात का ध्यान रखें कि इस उद्यान को पूरे साल नहीं खोला जाता। इसे 1 महीने के लिए ही खोला जाता है। यहां बड़ों के लिए एंट्री फीस 50 रुपए और छोटे बच्चों की 25 रुपए है, जिसे आप सुबह 7 बजे से शाम के 7:30 बजे के बीच कभी भी देख सकते हैं। 

Related News