06 JULWEDNESDAY2022 7:34:41 AM
Nari

Parents mistakes: मां बाप की इन बातों से बच्चों पर पड़ता है बुरा प्रभाव

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 04 Jun, 2022 05:49 PM
Parents mistakes: मां बाप की इन बातों से बच्चों पर पड़ता है बुरा प्रभाव

अकसर एेसा देखा गया है कि कई बार पेंरेट्स एेसी बात कर देते है। जो बच्चों पर बुरा प्रभाव डालती हैं। इससे बच्चों का भी दिल दुखी होता है और उनकी मानसिकता पर भी बुरा असर पड़ता है। हालाकि पेरेंट्स चाहते है वे अपने बच्चे की अच्छी परवरिश करें। ताकि उसकी परवरिश में कोई भी कमी न आए। वह हमेशा चाहते है कि उनके बच्चे खूब तरक्की करे। जिसके लिए वे अपने बच्चे को अच्छे संस्कार देते है जो आगे चल कर उसके काम आ सके। इसके चलते कई बार पेरेंट्स बच्चो के साथ एेसा व्यवहार कर देते हैं जिससे बच्चो को बिल्कुल अच्छा नहीं लगता औऱ बच्‍चे खुद पर भरोसा करना छोड़ देते हैं। तो आइए बताते हैं कि पेरेंट्स की किन ग‍लतियों की वजह से बच्‍चों का आत्‍मविश्‍वास कम हो जाता है।

PunjabKesari

गलती करने से रोकना 

बच्‍चे गलतियों से ही सबसे अधिक सीखते हैं। ऐसे में कई पेरेंट्स उन्‍हें काम नहीं करने देते कि वे गलती करेंगे और काम खराब हो जाएगा। लेकिन ऐसा करने से बच्‍चे एक्‍सपेरियेंस नहीं कर पाते और उनका कॉन्फिडेंस नहीं बढ़ता।


बच्‍चों को विक्टिम ना महसूस कराएं

कई पेरेंट्स बच्‍चों को सिखाते हैं कि वे महंगी किताबें या जूते नहीं खरीद सकते क्‍योंकि हम उनसे गरीब हैं। लेकिन आपको बता दें कि ऐसा बताने से बच्‍चों को ये महसूस होता है कि लाइफ में हर चीज हमारे कंट्रोल में नहीं है। वे खुद को विक्टिम जैसा महसूस करते हैं।

 

PunjabKesari

दूसरों से तुलना करना

कई पेरेंट्स की यह आदत होती है कि वे अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों के साथ करते हैं। इसकी वजह से वह अपने आपको उन सब बच्चों से कम समझने लगता है। ऐसे में उसका आत्मविश्वास काफी पीछे हो जाता है।

 

PunjabKesari

बच्चे का मजाक उड़ाना 

कई पेरेट्स अपने बच्चों को मजाक-मजाक में तंग करते हैं। जिससे वह चिड़ जाते हैं। कभी भी बच्‍चों का मजाक नहीं बनाना चाहिए। बच्‍चे इमोशनल होते हैं और माता-पिता की बात का असर कहीं ना कहीं उन पर करता ही है।

 

PunjabKesari

बच्चों को पीटना

कई बार पेरेंट्स बच्चों को समझाने की बजाय मारने लगते हैं। जिससे बच्चा हमेशा डरा-डरा रहता है। यही नहीं, अगर उससे गलती होती है तो वह आपको बताने से डरता है। इसलिए बच्चों को हमेंशा प्यार से समझाना चाहिए।
 

Related News