04 JULMONDAY2022 8:55:27 AM
Nari

ब्लड प्रेशर रहेगा कंट्रोल, नियमित तौर पर करें ये 5 योगासन

  • Edited By palak,
  • Updated: 12 Jun, 2022 06:19 PM
ब्लड प्रेशर रहेगा कंट्रोल, नियमित तौर पर करें ये 5 योगासन

खराब लाइफस्टाइल और तनाव के कारण कई लोग हाई बीपी, मोटापा, डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारियों के शिकार होते जा रहे हैं। कभी-कभार तो यह बीमारियां उम्र भर के लिए दवाइयों से नाता जुड़वा देती हैं। पुराने समय की अगर बात करें तो हाई बीपी की बीमारी 50 साल की उम्र में होती थी, लेकिन आज की युवा भी इस बीमारी से ग्रस्त है। योग शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। आप नियमित तौर पर योगासन करके ब्लड प्रेशर से राहत पा सकते हैं। तो चलिए आपको ऐसे 5 योगासन बताते हैं, जिनके जरिए आप अपना ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रख सकते हैं। 

वीरासन करें 

वीरासन हाई ब्लड प्रेशर वाले मरीजों के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। इस योग में सांस लेना शामिल है,  जो हाई बीपी वाले मरीजों के लिए अच्छी होती है। इस आसन को नियमित तौर पर करने से बीपी कंट्रोल में रहता है और नर्वस सिस्टम भी सही रहता है। वीरासन रुटीन में करने से तनाव भी काफी हद्द तक कम होता है। 

PunjabKesari

कैसे करें वीरासन?

. सबसे पहले जमीन पर घुटनों के बल बैठ जाएं। 
. फिर दोनों हाथों को अपने घुटनों पर रख लें। 
. इसके बाद अपने हिप्स को एड़ियों के बीच में रखें और फिर घुटनों के बीच की दूरी को कम कर दें। 
. फिर अपनी नाभि को अंदर की ओर खींचे। 
. 30 सैकेंड तक ऐसे ही रहें और फिर सामान्य अवस्था में आ जाएं। 

शवासन करें 

शवासन नियमित रुप करने से हाई बीपी का स्तर नॉर्मल हो जाता है। यह आसन आपके शरीर को आराम भी पहुंचाता है।  यदि आपका बीपी हाई होता है तो आप रुटीन में इस आसन को कर सकते हैं। 

PunjabKesari

कैसे करें शवासन?

. सबसे पहले योग मैट पर पीठ के बल लेट जाएं। 
. फिर अपनी आंखों को बंद कर लें। 
. अपने पैरों को फैला लें। 
. पैरों को आराम देने की कोशिश करें। 
. अपने दोनों हाथों को शरीर के दोनों साइड बिना टच किए हुए रखें। 
. अब अपनी हथेलियों को धीरे-धीरे फैला लें और पूरे शरीर को आराम देने का प्रयास करें। 
. फिर गहरी सांस लें और 30 सैकेंड तक ऐसे ही रहें। 
. इसके बाद आप सामान्य अवस्था में आ जाएं। 

बालासन करें

बालासन नियमित तौर पर करने से भी बीपी कंट्रोल में रहता है। आपका शरीर भी काफी आरामदायक महसूस करता है। इसके अलावा यह आसन आपके हिप्स और रीढ़ की हड्डी के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होता है। 

PunjabKesari

कैसे करें बालासन?

. सबसे पहले योगा मैट पर वज्रासन में बैठ जाएं। 
. फिर धीरे-धीरे सांस लें और अपने हाथों को सिर के ऊपर ले जाएं। 
. इसके बाद धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें और माथे को नीचे जमीन पर टिका दें। 
. इस दौरान सांस धीरे-धीरे छोड़ते और लेते जाएं। 
. 30 सैकेंड तक आप इस योग को करें। 
. इसके बाद सामान्य अवस्था में आ जाएं। 

सेतुबंधासन करें 

यह योग पीठ और कमर के दर्द की समस्याओं से राहत दिलाने में मदद करता है। यह आपके रक्तचाप को भी नियंत्रित रखता है। मस्तिष्क को शांत करने और तनाव कम करने में भी यह योग बहुत ही फायदेमंद है। हाई ब्लड प्रेशर के अलावा फेफड़ों, मासिक धर्म के दर्द, थकान, सिरदर्द और तनाव को भी कम करता है। 

PunjabKesari

कैसे करें सेतुबंधासन?

. सबसे पहले पीठ के बल सीधे लेट जाएं। 
. फिर अपने घुटनों और कोहनियों को मोड़ लें। 
. पैरों को फर्श और कूल्हों के पास ले जाएं। 
. इसके बाद अपने हाथों को सिर के दोनों तरफ मजबूती से रख दें। 
. दोनों हाथों और पैरों को जमीन पर सहारा देते हुए धीरे-धीरे अपने शरीर को हवा में उठाने का प्रयास करें। 
. इसी मुद्रा में आप 30 सैकेंड तक रहें। 
. फिर धीरे-धीरे आप सामान्य मुद्रा में वापस आ जाएं। 

उत्तानासन करें 

इस आसन को पादहस्तासन के नाम से भी जाना जाता है। इस आसन को करने से आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहेगा और प्रतिरक्षा प्रणाली भी मजबूत होगी। यह आसने आपके तनाव को कम करके मन को शांत करने में भी मदद करता है। 

PunjabKesari

कैसे करें उत्तानासन?

. सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं और अपने दोनों पैरों के बीच एक फीट की दूरी बना लें। 
. फिर गहरी सांस लेते हुए हाथों को नीचे की ओर ले आएं। ध्यान रखें कि इस समय आपके पैर घुटने से ना मुड़ें। 
. इसके बाद इसी अवस्था में रहकर हाथों से पैरों के अंगूठ को छुएं। 
. फिर हाथों को पीछे की ओर ले जाएं और एड़ी के ऊपरी हिस्से को पकड़ने की कोशिश करें। 
. कमर को मोड़ते हुए धीरे-धीरे आगे की ओर झूकने का प्रयास करें। 
. इसी परिस्थिति में 8-10 सांसों तक रहें और फिर धीरे-धीरे सामान्य अवस्था में वापस आ जाएं। 


Related News