12 AUGFRIDAY2022 9:01:57 AM
Nari

Diabetes का सबसे सस्ता इलाज है जामुन, कई बड़ी परेशानियां को खत्म करता है ये फल

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 02 Apr, 2022 03:26 PM
Diabetes का सबसे सस्ता इलाज है जामुन, कई बड़ी परेशानियां को खत्म करता है ये फल

ये तो हम कई बार सुन चुके हैं कि हेल्दी और फिट रहने के लिए फल खाना बहुत जरुरी है। वैसे तो हर फल की अपनी एक अहमियत होती है लेकिन डायबिटीजके मरीजों के लिए जामुन किसी  रामबाण से कम नहीं है। जामुन खाने से ब्लड शुगर तो नियंत्रित रहता ही है साथ में और भी कई  तरह की बीमारियां दूर रहती हैं। तो चलिए आज हम बताते हैं जामुन के बीज के फायदे और इसे इस्तेमाल करने के तरीके। 

 

मधुमेह के मरीजों को रोज खाना चाहिए जामुन

कई शोधों में खुलासा हो चुका है कि जामुन के बीज और सिरका के सेवन से शुगर कंट्रोल में रहता है। जामुन के पत्तियों में एंटी डायबिटिक के गुण पाए जाते हैं। इसके लिए डायबिटीज के मरीजों को रोजाना जामुन के पत्तों की चाय पीनी चाहिए। विषेशज्ञों की मानें तो जामुन में ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है। इसके लिए मधुमेह के मरीजों को गर्मी के मौसम में रोजाना जामुन का सेवन करना चाहिए। 


किस तरह करें जामुन का इस्तेमान

-सबसे पहले जामुन को धोकर पोछ लें।

-अब इसके बीज को गूदा से अलग करें।

-इसे दुबारा से धोएं और सूखे कपड़े पर रखकर धूप में तीन से चार दिन तक सुखाएं।

-अच्छी तरह सूखने परइसके उपर के पतले छिलके को उतारें और मिक्‍सी में डालकर अच्‍छी तरह ग्राइंड कर लें।

-बेस्‍ट रिजल्‍ट के लिए इसे आप खाली पेट सुबह दूध के साथ मिलाकर सेवन करें।

-आप एक ग्‍लास दूध में एक छोटा चम्‍मच पाउडर मिलाएं और इसे पेशेंट को दे दें।. 

 

शुगर को कैसे रोकता है जामुन

जामुन के बीजों में जम्बोलिन और जंबोसिन जैसे तत्व मौजूद होते हैं, जो कि स्टार्च के चीनी में परिवर्तित होने की दर को धीमा कर देते हैं। इसका मतलब ये हुआ कि आपके भोजन में मौजूद स्टार्च के मेटाबोलाइस्ड होने के बाद अचानक ब्लड शुगर के स्तर में कोई बढ़ोतरी होने की संभावना कम होगी। यह टाइप 2 डायबिटीज की शुरुआत को भी रोक सकता है।


टाइप 2 डायबिटीज की शुरुआत को भी रोकता है जामुन 

टाइप-2 डायबिटीजके मरीजों को जल्दी-जल्दी प्यास लगने और बार-बार यूरीन  पास करने की जरूरत महसूस होती है। जामुन इस परेशानी को कम कर सकता है क्योंकि इसमें ग्लेसिमिक इंडिक्सऔर ये बल्ड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) को कंट्रोल करने में मदद करता है.

 

और भी हैं जामुन के कई फायदे


-जामुन की छाल जलाकर उसकी राख को शहद के साथ चबाने से रुक जाती है उल्टियां। 

-जामुन के पत्तों को पानी में घोटकर कुल्ला करने से मुंह के छाले हो जाते हैं ठीक। 

-जामुन की गुठलियों को पीसकर उसमें शहद मिलाकर खाने से गला हो जाता है ठीक 

-भोजन पचाने और भूख बढ़ाने के लिए भी फायदेमंद है जामुन 

-जामुन को नमक के साथ खाने से पेट दर्द, दस्त तथा पेचिश से भी मिलता है लाभ। 

-जामुन की पत्ती के रस में दूध, शहद मिलाकर पीने से खूनी दस्त में पहुंचता है लाभ। 

-जामुन की गुठली को पीसकर लगाने से मुंहासों तथा फुंसियों से भी मिलता है आराम

Related News