Twitter
You are hereNari

गठिए का पहला सकेंत है जोड़ों की सूजन, लहसुन-अखरोट रोकेंगे बीमारी का बढ़ना

गठिए का पहला सकेंत है जोड़ों की सूजन, लहसुन-अखरोट रोकेंगे बीमारी का बढ़ना
Views:- Friday, October 12, 2018-2:01 PM

जोड़ों में होने वाले दर्द की अनदेखी गठिया रोग का सबसे बड़ा कारण है। इसमें हड्डियों की गांठों में सूजन व गेप आ जाता है जिससे अहसनीय दर्द होता है। यह किसी भी उम्र में हो सकता है। शरीर में कुछ जरूरी पोषक तत्वों की कमी आ जाने पर यह रोग हो जाता है। हड्डियों में आई कमजोरी धीरे-धीरे पूरे शरीर को जकड़ लेती है। शुरुआत में ही इसके लक्षण पहचान लिए जाए तो बीमारी से काफी हद तक बचाव संभव है। दुनिया भर में गठिया रोग की जागरूकता के लिए 12 अक्टूबर को 'वर्ल्ड आर्थराइटिस डे' मनाया जाता है ताकि लोग इसके प्रति जागरूक हो सके। 

1. अर्थरा‍इटिस के संकेत
जोड़ों में सूजन आना
हड्डियों और मांसपेशियों में जकड़न महसूस होना
असहनीय दर्द
चलने-फिरने में परेशानी
ऐंठन
ज्‍वाइंट लाल होना

2. अर्थरा‍इटिस के कारण
मोटापा
बिगड़ता लाइफस्टाइल
शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ना
आनुवांशिक कारण

3. ऐसे करें बचाव
सबसे पहले प्रोटीन युक्त आहार का सेवन करना बंद कर दें। दर्द से राहत पाने के लिए अपनी मर्जी से दर्द निवारक दवाइयों का सेवन न करें। हरी सब्जियां खाएं,योग, सैर और एक्सरसाइज इसमें बहुत जरूरी है। डॉक्टरी जांच के बाद ही दवा लें। 

4. गठिया के घरेलू उपाय 

- लहसुन
खाने में लहसुन जरूर शामिल करें। खाली पेट लहसुन की एक कली पानी के साथ खाएं। 

PunjabKesari
- बथुआ के पत्‍तों का रस
बथुआ गठिया के लिए बैस्ट है। इसके ताजा पत्तों का 15 ग्राम रस निकाल कर पीएं। खाली पेट बिना कुछ मिलाएं इसका रस पीने से ज्यादा फायदा मिलता है। 
PunjabKesari

- अरंडी का तेल 
सूजन और दर्द से छुटकारा पाने के लिए आरंडी के तेल से मसाज करें। इससे बहुत आराम मिलेगा। 
PunjabKesari

- अखरोट
रोजाना 1 या 2 अखरोट का सेवन जरूर करें। इससे जोड़ों का दर्द ठीक होने लगता है। 

PunjabKesari
- मेथी के बीज
1 चम्मच मेथी के बीज रात को भिगोकर सुबह इसे खाएं या फिर इन बीजों को सब्जी में भी डाल सकते हैं। 
PunjabKesari

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by: