23 OCTWEDNESDAY2019 6:54:29 AM
Nari

अंतरराष्ट्रीय डाक दिवस: इस जगह आज भी मैसेज या मेल से नहीं चिट्ठी से पहुंचते है संदेश

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 09 Oct, 2019 06:06 PM
अंतरराष्ट्रीय डाक दिवस: इस जगह आज भी मैसेज या मेल से नहीं चिट्ठी से पहुंचते है संदेश

आज एक मैसेज या मेल के जरिए आप दूर स्थित अपने दोस्तों व जानकारो को संदेश भेज सकते है वहीं आज भी एक ऐसी जगह है जहां पर सिर्फ चिट्ठी के माध्यम से ही अपना संदेश भेजा जा सकता हैं। जी हां, यह डाकघर हिमाचल प्रदेश के स्पीति में हिक्किम गांव में स्थित हैं। यह दुनिया का सबसे ऊंचा डाकघर हैं। जिसका पिन कोड 172114 है। आज अंतरराष्ट्रीय डाक दिवस पर हम आपको इसके बारे में बताते हैं।

 

PunjabKesari,Nari,Himachal Pradesh, Post Office

14567 फीट यानि की 4440 मीटर की ऊंचाई पर स्थित डाकघर 1983 से दूर स्थित गांवों में चिट्ठियां पहुंचाने का काम करता हैं। यहां के आसपास के गांवों में चिट्ठी ही संचार का एकमात्र साधन हैं। हिक्किम के इलावा लांगचा-1, लांगचा-2 व कॉमिक गांवों तक चिट्ठियां पहुंचती हैं।

PunjabKesari,Nari,Himachal Pradesh, Post Office

इस जगह में सारा साल बर्फ जमा रहती है जिस कारण लोगों का यहां आना-जाना मुश्किल होता है। जून से अक्टूबर के दौरान स्पीति के रास्तों पर बर्फ पिघलने के कारण रास्ते साफ हो जाते है। इस दौरान लोगों के लिए यहां आना-जाना संभव हो जाता है। 

PunjabKesari,Nari,Himachal Pradesh, Post Office

इस डाकघर की एक ओर खास बात है कि  1983 से लेकर अब तक एक ही डाकिया रिनचेन चिट्ठी पहुंचाने का काम करता आ रहा है।  बर्फ पड़ने के कारण रिनचेन को चिट्ठियां पहुंचाने में काफी दिक्कत होती है, इतना ही नही कई बार चिट्ठी देने के बाद उन्हें वापिस आने में एक दिन लगा जाता हैं। क्षेत्रों के भिक्षु डाकघर से अपने पोस्टकार्ड और पासपोर्ट प्राप्त करते हैं, जबकि किसान अपना बचत खाता रखते हैं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News