21 OCTMONDAY2019 6:22:15 PM
Nari

योग करने के लिए मैट का इस्तेमाल क्यों है जरूरी?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 02 Mar, 2019 09:16 AM
योग करने के लिए मैट का इस्तेमाल क्यों है जरूरी?

योग अभ्यास भारत की एक ऐसी प्राचीन पद्धति है, जोकि शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ा देती है। पहले के समय में लोग पानी, पत्थर, लकड़ी या चट्टानों पर बैठकर योग किया करते थे लेकिन आधुनिक समय में यह जगह मैट ने ले ली है। हालांकि कुछ लोगों के मन में यह सवाल रहता है कि मैट पर योग करना चाहिए या नहीं। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि योग करने के लिए मैट का इस्तेमाल सही है या नहीं।

 

योग के लिए मैट की जरूरत

सैंकड़ो सालों से किए जा रहे योग को योगियों ने पानी, पत्थर, लकड़ी, चट्टानों और जगह में किया है। मगर अब लोग मैट पर योग करना पसंद करते हैं। हालांकि इसमें कोई बुरी बात नहीं है। जरूरत के हिसाब से मैट का इस्तेमाल करना सही है।

PunjabKesari

योग की शुरुआत कर रहे लोगों के लिए मैट की जरूरत

योग परंपरा बताती हैं कि पुराने योगी भी घास या जानवरों की खाल से हाथ से बनाए मैट्स का इस्तेमाल किया करते थे। योग करने के लिए आप सिंथेटिक या हाथ से बुने मैट का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

PunjabKesari

इस्तेमाल के फायदे

मैट गद्दी की तरह काम करता है, जिससे योग करते समय शरीर को सपोर्ट मिलता है। जमीन पर योग करते समय लोगों को उनकी हथेलियों, घुटने, कोहनी, और रीढ़ की हड्डी दबाने पर दर्द और असुविधा होती है लेकिन अगर आप मैट पर बैठे हो तो इन सभी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता।

 

कुछ आसन करने के लिए मैट जरूरी

विन्यास फ्लो, जैसे कुछ आसनों को सीधे फ्लोर पर नहीं किया जाता है क्योंकि इससे कलाइयों पर ज्यादा जोर पड़ता है। वहीं तड़ासन और वृक्षासन, दाढो मुख श्वनासन और कुम्भ्कासन जैसे आसनों को करने के लिए भी मैट की जरूरत पड़ती है।

PunjabKesari

इन बातों का भी रखें ख्याल

खुली व ताजी हवा में योग करना फायदेमंद होता है लेकिन अगर ऐसा संभव ना हो तो कोशिश करें कि आप खाली जगह पर आसन करें।

योग करते समय नाजुक अंग जैसे कमजोर घुटनें, कमर, रीढ़ की हड्डी और गर्दन का खास ख्याल रखें। अगर आपको किसी भी तरह की प्रॉब्लम या दर्द हो तो धीरे-धीरे आसन की अवस्था से बाहर आएं।

योग करते समय हमेशा ढीले और आरामदायक कपड़े ही पहनने चाहिए। आप लूज टी-शर्ट या ट्रैक पैंट पहनकर भी योगा कर सकते है।

किसी भी योगासन को झटके से न करें और न ही योग की मुद्रा से झटके से निकले। इसके अलावा योग उतना ही करे, जितना आप आसानी से कर पाएं।

योगासन करते समय ज्वेलरी, गले की चैन, घडी, कड़े आदि निकाल दें क्योकि इससे आपको योगासन करते समय चोट लग सकती हैं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News