23 SEPMONDAY2019 11:02:05 PM
Nari

30 या 35, जानिए किस उम्र में मां बनने की औरतों के लिए सही?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 04 Aug, 2019 12:25 PM
30 या 35, जानिए किस उम्र में मां बनने की औरतों के लिए सही?

शादी होने के बाद महिलाओं को जल्दी बच्चा करने के लिए कहा जाता है क्योंकि हर किसी को लगता है कि 30 के बाद मां बनना सही नहीं होता। मगर आपकी यह सोच गलत है क्योंकि हाल ही में एक शोध में बताया कि मां बनने की सही उम्र 30 ही होती है। चलिए आज हम आपकी सारी परेशानी दूर करते हुए बताते हैं कि आखिर मां बनने की सही उम्र क्या है।

 

क्या कहती है रिसर्च?

हाल ही में हुई रिसर्च के मुताबिक, जो महिलाएं 30 की उम्र में बच्चे को जन्म देती है उनमें यूट्रस कैंसर का खतरा काफी हद तक कम होता है। शोध में 9,000 एंडोमेट्रियल कैंसर से जूझ रही महिलाओं की तुलना 16,500 ऐसी औरतों से की गई, जिन्हें कैंसर नहीं था। अध्ययन में साबित किया गया कि उम्र के साथ बीमारी होने का खतरा कम हो या। अध्ययन में यह भी पाया गया कि जो महिलाएं अपने 40 की उम्र में बच्चे पैदा करती हैं, उनमें कैंसर की संभावना 44% कम होती है।

PunjabKesari

मां बनने के लिए सही है यह उम्र

हालांकि मां बनने के लिए 30 की उम्र सही लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आपको इंतजार करना चाहिए। प्रेग्नेंसी प्लान करने के बाद आप अपने डॉक्टर से इस बारे में सलाह ले सकते हैं।

जब 35-40 हो महिलाओं की उम्र

आज के समय में बड़ी माताओं की संख्या बढ़ रही है। अब, महिलाएं करियर बनाने में विश्वास करती हैं और अपने पहले बच्चे से पहले आर्थिक रूप से सुरक्षित हो जाती हैं। मगर इस उम्र में गर्भधारण करते समय महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। 35 की उम्र के बाद प्रजनन क्षमता में गिरावट आने लगती है, जिसके कारण डायबिटीज व हाइपरटेंशन का खतरा बढ़ जाता है। वहीं अगर आपका वजन ज्यादा तो इनका खतरा दोगुना हो जाता है। अगर आप इस उम्र में मां बनना चाहती हैं तो वजन कंट्रोल में रखें और खान-पान व व्यायाम पर ध्यान दें।

उम्र के हिसाब से होता है बच्चे को खतरा

शोध के मुताबिक, 30-40 की उम्र में माताओं से पैदा हुए बच्चों की तुलना में 30 की उम्र में महिलाओं के पैदा हुए बच्चे ज्यादा स्वस्थ व होशियार होते हैं। वहीं 35 के बाद बच्चे को जन्म देने से उनमें क्रोमोसोमल या डाउन सिंड्रोम होने खतरा भी दोगुना बढ़ जाता है। औरतों की उम्र जितनी ज्यादा होगी बच्चे को क्रोमोसोमल या डाउन सिंड्रोम होने का खतरा भी उतना ही होगा। इसके अलावा गर्भपात की भी संभावना ज़्यादा होती है। शोधकर्ताओं के अनुसार, इस उम्र में, हर 100 गर्भवती महिलाओं में से एक में क्रोमोसोमल डिसीज की समस्या देखी जाती है।

PunjabKesari

40 की उम्र के बाद प्रेग्नेंसी

शोधकर्ताओं का कहना है कि लगभग 1/3 महिलाएं जो 40 वर्ष से अधिक उम्र की हैं, बांझपन का शिकार होती हैं। इस उम्र की महिलाओं में गर्भकालीन मधुमेह का खतरा 3 से 6 गुना बढ़ जाता है। इसके अलावा आपका बढ़ा हुआ वज़न मेटाबोलिज्म को कम करता है, जिससे गर्भावस्था के बाद ठीक करना मुश्किल हो जाता है।

इस बात का रखें ख्याल

किसी भी उम्र में बच्चा प्लान करने से पहले अपनी डॉक्टर से सलाह लें, ताकि आपको प्रेग्नेंसी में कोई दिक्कत ना आए। वहीं अगर आप 30 की उम्र में पहला बच्चा पैदा करने की योजना बना रही हैं तो आपको अपनी डाइट पर खास ध्यान देना चाहिए। इसके लिए अलावा एक सही फिटनेस रूटीन बनाएं। एक स्वस्थ आहार रखना चाहिए। इसके अलावा, एक उचित फिटनेस शासन का विकल्प चुनें। धूम्रपान और शराब से बचें क्योंकि इससे बच्चे पर बुरा असर पड़ सकता है।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News