04 JUNTHURSDAY2020 5:22:37 AM
Nari

जब एक घूंट पानी के लिए जया बच्चन को चिट्ठी लिखा करते थे अमिताभ

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 21 May, 2020 05:10 PM
जब एक घूंट पानी के लिए जया बच्चन को चिट्ठी लिखा करते थे अमिताभ

अमिताभ बच्चन जिन्होंने 1 दिन में फटाफट जया भादुरी से शादी की थी दोनों का प्यार आज भी वैसे का वैसा ही है। दोनों की लाइफ में कई उतार -चढ़ाव भी आए। एक वक्त ऐसा था जब सभी को लगा अमिताभ अब नहीं बचेगे। दरअसल, कुली फिल्म की शूटिंग के दौरान अमिताभ बच्चन का एक बहुत भयंकर एक्सिडेंट हो गया था वो वक्त ऐसा था जब वह एक घूंट पानी के लिए भी अमिताभ जया को नोट लिखा करते थे।ये वो समय था जब अमिताभ बच्चन ने अपनी जिंदगी का सबसे खराब एक्सिडेंट देखा था। बात 1982 की है जब पुनीत इस्सर के साथ एक फाइट सीन फिलमाते समय अमिताभ बच्चन के साथ एक एक्सिडेंट हो गया था और उन्हें काफी चोट आई थी।इस किस्से को एक बार दोबारा याद करते हुए अपने ब्लॉग में अमिताभ बच्चन ने इसके बारे में बताया। अमिताभ को ट्रेकोस्टोमी (tracheostomy) ट्रीटमेंट से गुजरना पड़ा था और वो कई दिनों तक बोल नहीं पाए थे। बोलना तो छोड़िए उन्हें पानी पीने की इजाजत भी नहीं थी।


इस घटना के बारे में शेयर करते हुए अमिताभ ने लिखा, 'जैसे ही त्वचा और चेहरा बूढ़ा होता है, किसी सर्जरी के निशान और गहरे दिखने लगते हैं। ये लाइन जो नाक के पास दिख रही है वो याद दिलाती है ब्रीच कैंडी अस्पताल के आईसीयू में बिताए दिनों की। कुली फिल्म के एक्सिडेंट के बाद। जो पाइप मुझे लगाए गए थे ताकि मैं जिंदा रह सकूं वो मैं ही बेहोशी की हालत में निकाल देता था। वो मुझे परेशान करते थे। तो उन्हें एक परमानेंट हल मिला। उन्होंने ये मेरी नाक में सिल दिया, ताकि मैं इसे निकाल न सकूं। और उसका दाग आज भी मौजूद है। एक और दाग जो मेरे गले पर है वो tracheostomy का है। उन दिनों में गले को काटकर जान बचाने वाले उपकरण वहां लगाए जाते थे। उनसे जो मशीन जुड़ी होती थी वही आपके लिए सांस लेती थी। जब तक वो होती थी तब तक आपकी आवाज़ खो जाती थी। उस वक्त अगर मुझे कुछ कहना होता था तो या तो मुझे इशारा करना होता था या फिर पेपर पर लिखना होता था।'

जया बच्चन से नोट लिखकर मांगते थे पानी-
अमिताभ बच्चन ने ये भी बताया कि वो टूटी-फूटी बंगाली में जया बच्चन को नोट लिखकर पानी मांगा करते थे। 'मैं जया को टूटी-फूटी बंगाली में नोट्स लिखा करता था, ताकि वो मुझे पानी दे दे, मैं बंगाली में लिखता था ताकि डॉक्टर और नर्स समझ न सकें। मुझे पानी पीने के लिए मना किया गया था। ये कभी काम नहीं आया। उन्हें हमेशा पता चल जाता था।'

अमिताभ बच्चन हो गए थे 'क्लीनिकली डेड'

बता दें कि वेंटिलेटर पर जाने से पहले अमिताभ को क्लीनिकली डेड घोषित कर दिया गया था। यही नहीं इस एक्सिडेंट से उबरने के लिए उन्हें कई सर्जरी करवानी पड़ी थी। दरअसल, ये फाइट सीक्वेंस बैंगलुरु में फिलमाया जा रहा था और अमिताभ को एक्सिडेंट के बाद मुंबई लाया गया था।बता दें कि इस लॉकडाउन में जया बच्चन दिल्ली में हैं और वो खुद मुंबई में। जया बच्चन दिल्ली पार्लियामेंट में थीं जब लॉकडाउन हुआ और वो वापस मुंबई नहीं आ पईं।

Related News