22 OCTTUESDAY2019 2:58:50 AM
Nari

क्या है Good और Bad कोलेस्ट्रॉल? जानिए इसे कंट्रोल करने के 7 तरीके

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 25 Mar, 2019 04:36 PM
क्या है Good और Bad कोलेस्ट्रॉल? जानिए इसे कंट्रोल करने के 7 तरीके

कोलेस्ट्रॉल, शरीर के अंदर जमा वसा (चर्बी) जैसा पद्धार्थ होता है, जो कोशिकाओं को उर्जा प्रदान करता है। शरीर में कोलेस्ट्रोल का होना एक सामान्य बात है लेकिन बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल दिल की बीमारियों को बढ़ावा देता है। बता दें कि कोलेस्ट्रॉल दो तरह का होता है, गुड कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) और बैड कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल)। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि गुड़ व बैड कोलेस्ट्रोल क्या है और इसे कंट्रोल किया जाए।

 

गुड कोलेस्ट्रॉल (HDL)

खून में पाए जाने वाले कोलेस्ट्रोल का 25-20% हिस्सा गुड कोलेस्ट्रोल (हाई डेन्‍सिटी लाइपो प्रोटीन्‍स) का होता है। इसमें प्रोटीन की अधिक मात्रा होती है। एचडीएल को गुड कोलेस्ट्रॉल इसलिए भी कहते हैं क्योंकि शरीर में इसकी अधिकता दिल के दौरे से बचाती है। डॉक्टरों का कहना है कि यह धमनियों से बैड कोलेस्ट्रोल को हटाने में मदद करता है जिससे वे ब्लॉक न हो पाएं।

PunjabKesari

बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL)

बैड कोलेस्ट्रोल (लो डेन्‍सिटी लाइपो प्रोटीन्‍स) का शरीर में बढ़ना हानिकारक है। इसमें प्रोटीन की मात्रा कम और फैट अधिक होती है। जब इसकी खून में मात्रा बढ़ जाती है तो यह हृदय और मस्तिष्क की धमनियों को ब्लॉक कर देता है। ऐसे में दिल का दौरा, धमनियों में रुकावट या स्ट्रोक जैसी समस्याएं पैदा हो सकती हैं। ऐसी स्थिति में इसको नियंत्रित करना जरुरी होता है।

PunjabKesari

कितनी होना चाहिए कोलेस्ट्रॉल की मात्रा?

शरीर में नार्मल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा (200 mg/dL या इससे कम) होनी चाहिए। बॉर्डर लाइन कोलेस्ट्रॉल (200 से 239 mg/dL) के बीच और हाई कोलेस्ट्रॉल (240mg/dL) होना चाहिए। गुड कोलेस्ट्रॉल कोरोनरी हार्ट डिसीज और स्ट्रोक को रोकता है। यह कोलेस्ट्रॉल को कोशिकाओं से वापस लीवर में ले जाता है। लीवर में जाकर या तो यह टूट जाता है या फिर व्यर्थ पदार्थों के साथ शरीर के बाहर निकाल जाता है।

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के टिप्स
धनिए के बीज

500 मि.ली पानी में 2 टेबलस्पून सूखी धनिए के बीज डालकर उबाल लें। ठंडा होने पर इसे छान लें और फिर इसे 3 भागों में बांटकर सुबह शाम पीएं। इससे कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहेगा।

इसबगोल की पत्तियां

घुलनशील फाइबर होने के कारण इसबगोल की पत्तियों का सेवन भी कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मदद करती हैै। साथ ही यह गुड़ कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता भी है।

PunjabKesari

ग्रीन टी

एक शोध के अनुसार, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण ग्रीन टी कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मददगार है। ऐसे में दिनभर में कम से कम 2 कप ग्रीन टी जरूर पीएं।

लहसुन

लहसुन का सेवन भी शरीर में बेड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करके गुड़ कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। आप इसे शहद के साथ या भोजन में इस्तेमाल करके खा सकते हैं।

आंवला

1 गिलास गुनगुने पानी 1 टीस्पून आंवला पाउडर मिलाकर सुबह खाली पेट पीने से भी शरीर में गुड़ कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है। कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के लिए आप आंवला का जूस भी पी सकते हैं।

PunjabKesari

मेथी के दानें

मेथी के दानें टोटल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स लेवल को कम करने में मदद करते हैं। आप सुबह मेथी का पानी पी सकते हं। इसके अलावा भोजन में मेथी का सेवन भी गुड़ कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है।

नारियल तेल

नारियल तेल शरीर में वसा को कम करता है, जिससे कोलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता। ऑर्गेनिक नारियल तेल को डाइट में जरूर शामिल करें।

PunjabKesari

ऐसा न करें

पैक्‍ड फूड जैसे आलू के चिप्स, मैदे से बने उत्पादों में ट्रांस फैट बहुत ज्यादा होता है। इन सभी चीजों का इस्तेमाल ना करें।
कुकिंग ऑयल को बार-बार इस्तेमाल करने से ट्रांस फैट का स्तर काफी बढ़ जाता है।
रेड मीट, फुल क्रीम दूध और घी का इस्तेमाल ना करें।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News