21 JANTUESDAY2020 4:24:26 PM
Nari

खुद के आंसू नहीं रोक पाईं दीपिका पादुकोण, डायरेक्टर मेघना ने दिया सहारा

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 10 Dec, 2019 05:35 PM
खुद के आंसू नहीं रोक पाईं दीपिका पादुकोण, डायरेक्टर मेघना ने दिया सहारा

बॉलीवुड की सेक्सी दीवा दीपिका पादुकोण इस समय अपनी अपकमिंग फिल्म छपाक को लेकर सुर्खियों में हैं। फैंस भी उनकी इस फिल्म के ट्रेलर का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे जो कि अब खत्म हो गया है क्योंकि छपाक का ट्रेलर लॉंच हो गया है। इस मौके पर फिल्म की स्टार कास्ट व डायरेक्टर नजर आईं।

दीपिका के साथ उनके कोस्टार विक्रांत मैसी थे लेकिन इवेंट में कुछ ऐसा हुआ कि दीपिका अपने आंसू रोक ही नहीं पाईं व फिल्म की डायरेक्टर मेघना गुलजार के गले लगकर बहुत रोई। उन्होंने बताया की मैने जितनी बार इस फिल्म ट्रेलर देखा हैं मैं खुद को रोक रोने से रोक नहीं पाई।

 

PunjabKesari,Nari

दरअसल यह पिक्चर लक्ष्‍मी अग्रवाल पर आधारित है जो कि एक एसिड अटैक सर्वाइवर की कहानी है। इस फिल्म में दीपिका लक्ष्मी अग्रवाल का रोल निभा रही हैं।

2005 में  जब वो 15 साल की थी तो एक बस स्टॉप पर बस का इंतजार कर रही थीं तभी एक शख्स ने उन पर तेजाब से हमला कर दिया था। हमलावर उनसे दोगुनी उम्र का था और वह लक्ष्मी के परिवार को जानता था। लक्ष्मी ने उसके विवाह प्रस्ताव को ठुकरा दिया था और वह इसी बात से नाराज था। उसके बाद लक्ष्‍मी ने न्‍याय की जंग लड़ी। लक्ष्‍मी ने कई साल तक न्‍याय मांगा और ऐसे हमलों के खिलाफ आवाज उठाई। इस लड़ाई में उनका साथ आलोक दीक्षित ने दिया। लक्षमी उन्हीं के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में थी। आलोक पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता हैं और लक्ष्‍मी की जंग में उनके साथ थे। लक्ष्‍मी की एक बेटी है जिसका नाम पीहू है।

 

PunjabKesari,nari

बस यह इसी लड़की पर आधारित फिल्म हैं। बता दें कि इससे पहले महेश भट्ट भी अपनी बेटी के बुक लॉंचिग इवेंट में महिलाओं के साथ हो रही घटनाओं को बेहद बुरा कहा था वहीं अपनी बहन के डिप्रेशन से जुड़े मुद्दे को लेकर आलिया भट्ट भी इवेंट में खुद को रोने से रोक नहीं पाई थी। 
 

Related News