22 JULMONDAY2019 2:45:51 AM
Nari

आज है साल का सबसे बड़ा चन्द्र ग्रहण, प्रेग्नेंट महिलाएं ना करें ये काम

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 21 Jan, 2019 02:37 PM
आज है साल का सबसे बड़ा चन्द्र ग्रहण, प्रेग्नेंट महिलाएं ना करें ये काम

आज 21 जनवरी को साल का सबसे बड़ा चंद्र ग्रहण लगेगा। यह चंद्र ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा। ग्रहण मध्य-पूर्व अफ्रीका, यूरोप, अमेरिका, पूर्वी रूस में दिखाई देगा। यह ग्रहण सुपर ब्लड वूल्फ मून होगा। चंद्र ग्रहण के दौरान सूतक लग जाता है। इसलिए इसका सबसे ज्यादा असर प्रेगनेंट महिलाओं पर पड़ता है। क्योंकि ग्रहण के वक्त हमारे आस-पास की नेचर में नेगेटिव एनर्जी फैल जाती है। इसलिए ऐसे समय में प्रेगनेंट लेडीज़ को अपना ज्यादा ध्यान रखने की जरुरत होती है। आइए जानते है कि किस तरह छोटे-मोटे उपाय करके आप चंद्र ग्रहण के प्रभाव से खुद को बचा सकती है 



बाहर ना निकले


गर्भवती स्त्रियों को घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी जाती है। अगर बाहर निकलना जरुरी हो तो गर्भ पर चंदन और तुलसी का लेप लगा कर ही निकले। ये उपाय आपके बच्चे को बाहर के नेगेटिव एनर्जी से बचाए रखेगा।

PunjabKesari

घर को करें शुद्ध


चंद्र ग्रहण के खत्म होने के बाद घर को गंगाजल से शुद्ध करना ना भूले। इससे घर में भी फैली हुई नेगेटिव एनर्जी का असर कम पड़ेगा और इससे आपका मन पर पॉजीटिव असर पड़ेगा।



खाने से परहेज


ग्रहण के समय खाना नहीं चाहिए पर फिर भी अगर खाना पड़ जाए तो खाने-पीने काी जरुरी बातों पर जरुर ध्यान रखें। खाने की सिर्फ उन चीजों का सेवन करें जिनमें सूतक लगने से पहले तुलसी पत्र या कुशा डला गया हो।

PunjabKesari

 

नुकीली चीजें

प्रेगनेंट महिलाएं ग्रहण के दौरान चाकू, छुरी, ब्लेड, कैंची जैसी काटने की किसी भी चीज का इस्तेमाल  ना करें। इससे गर्भ में पल रहें बच्चे पर बुरा असर पड़ सकता है। इस दौरान सुई धागे का काम ना करें। इस समय मन को शान्त रखें और भगवान का नाम लें।

 

गरीबों को करें दान

ग्रहण के खत्म होने के बाद गरीबों को दान दे। प्रेगनेंट महिलाएं इस काम को जरुर करें। इससे होने वाले असर सेे आपको फायदा पहुचेगा और चंद्र ग्रहण का असर भी जल्दी खत्म होगा।

 

बाद में नहाएं

ग्रहण लगने के बाद नहाना नहीं चाहिए। पर ग्रहण के खत्म होने के बाद जरुर नहा लेना चाहिए। इससे वातावरण की नेगेटिव एनर्जी का असर बॉडी पर कम होता है।इस समय मन को शान्त रखें और भगवान का नाम लें।

PunjabKesari

Related News

From The Web

ad