18 JULTHURSDAY2019 2:27:45 PM
Nari

Motivational Story: मिसाल है यह पिता जो 3 विकलांग बच्चों की कर रहे हैं परवरिश

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 16 Jun, 2019 03:49 PM
Motivational Story: मिसाल है यह पिता जो 3 विकलांग बच्चों की कर रहे हैं परवरिश

दुनिया में पिता ही एक ऐसा शख्स है जोकि कितना भी मजबूर क्यों न हो लेकिन अपने बच्चों व परिवार को कभी भी दुख में नहीं देख सकता है। वह खुद दुखी रह सकता है लेकिन अपने बच्चों को हमेशा खुश रखेगा। ऐसी ही कहानी है राजस्थान के कोटा जिले भजनपुरा गांव के रहने वाले राजू बागड़ की। अपनी जिंदगी में लाख मुश्किले आने के बावजूद भी उन्होंने अपने बच्चों को किसी भी चीज की कमी नहीं होने दी।
 

पोलियो पीड़ित महिला से की थी शादी

राजू सिर्फ एक अच्छे पिता ही नही बल्कि बहुत ही अच्छे इंसान भी है। उन्होंने एक पोलियो पीड़ित महिला को सहारा देने के लिए उससे शादी की। उससे उनके तीन बच्चे हुए लेकिन उन्हें भी पोलियो हो गया। मगर जैसे-जैसे वह बड़े होते गए वैसे-वैसे समस्या बढ़ती गई। राजू को घर चलाने के साथ-साथ बच्चों का ध्यान भी रखना था इसलिए उन्होंने बाहर जाकर कमाना शुरू कर दिया। कभी भी अपने परिवार को किसी भी कमी का अहसास नहीं होने दिया।


4 पोलियो पीड़ित बच्चों की कर रहे परवरिश

उनके पास रहने और खाने की सुविधा ना होने के बावजूद भी वह 3 विकलांग बच्चे व पत्नी की सेवा करते हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने उनका ऑपरेशन करवाने की भी सोची लेकिन ऑपरेशन का खर्च बहुत ज्यादा था। इसके लिए उन्होंने अपनी 50 हजार की जमीन 36 हजार रुपए का घाटा खाकर 14 हजार में बेच दी और पैसे इक्ट्ठे किए लेकिन ऑपरेशन करवाने के बाद भी कोई फायदा नहीं हुआ। इसके बाद भी बच्चें जमीन पर घसीट-घसीट कर अपना काम करते थे।
 

PunjabKesari

एनजीओ ने करवाई सर्जरी

इसके बाद उदयपुर की एक एनजीओ संस्था ने उनकी मदद करने की सोची और उनकी पत्नी और बच्चों की सर्जरी करवाई। इसके बाद बच्चे 75फीसदी तक ठीक हुए और अब वह खुद चल-फिर सकते हैं। एनजीओ ने बच्चों के लिखने-पढ़ने की व्यवस्था भी की है। अब राजू अपनी कमाई से घर खर्च चलाते हैं और अपने परिवार का ध्यान भी रखते हैं।

Related News

From The Web

ad