14 OCTMONDAY2019 11:48:30 AM
Nari

सूर्य देव का चित्र कमरे में लगाने से बच्चे होंगे पढ़ाई में तेज

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 29 Sep, 2019 05:40 PM
सूर्य देव का चित्र कमरे में लगाने से बच्चे होंगे पढ़ाई में तेज

ज्यादातर मां-बाप बच्चों के भविष्य और उनकी पढ़ाई-लिखाई को लेकर चिंतित रहते हैं। ऐसे में जरुरी है बच्चों को जीवन में पढ़ाई-लिखाई की एहमियत समझाने के साथ-साथ कुछ वास्तु टिप्स भी जरुर अपनाए जाएं। जैसे कि बच्चों के पढ़ने वाले कमरे की दिशा, दीवार के रंग और कुछ अन्य जरुरी चीजें। तो चलिए आज बात करते हैं, बच्चों के भविष्य से जुड़े वास्तु टिप्स के बारे में विस्तार से...

PunjabKesari,nari

बच्चों की जन्मपत्रिका

कमरे और दीवारों के बारे में बात करने से पहले हम बात करेंगे बच्चों की जन्मपत्रिका के बारे में, बच्चों का पढ़ने वाला कमरा हमेशा उनकी जन्म पत्रिका के हिसाब से ही बनाना चाहिए। जैसे कि बच्चों की जन्मपत्रिका में लग्नेश, द्वितीयेश, पंचमेश ग्रहों में से जो भी ग्रह सबसे बली हो उसी के अनुसार ही कमरे के और पर्दों के रंग का चुनाव करना चाहिए।

बच्चों का बिस्तर

बच्चों का बिस्तर जरुरत से ज्यादा ऊंचाई पर नहीं होना चाहिए। स्टडी टेबल और कुर्सी रखने के लिए बेड की उत्तर दिशा सबसे उत्तम मानी जाती है। पढ़ते समय बच्चे का मुंह पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। कंपयूटर रखने के लिए आग्नेय कोण सबसे बेस्ट माना जाता है। किताबों के रैक के लिए दक्षिण-पश्चिम दिशा शुभ मानी जाती है।

PunjabKesari,nari

कमरे में रोशनी

बच्चों के कमरे में रोशनी की खास व्यवस्था होनी चाहिए। ताकि दिन में पढ़ते समय उन्हें लाइट या बल्ब की आवश्यकता ही न हो। बच्चों के कमरे की उत्तर दिशा बिलकुल खाली रखना चाहिए। ऐसा करने से कमरे में सकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है।

बेस्ट रिजल्ट

बच्चों की पढ़ाई में बेहतर रिजल्ट के लिए घर में मां सरस्वती से जुड़ी 5 चीजों में से कोई एक चीज जरूर रखनी चाहिए। ये चीजें हैं वीणा, हंस की तस्वीर, मोर पंख, कमल का फूल और  माता सरस्वती की मूर्ति। भगवान गणेश तथा सरस्वती जी की तस्वीर कमरे के पूर्वी भाग की ओर होना चाहिए।

PunjabKesari,nari

मोटिवेशनल पिक्‍चर्स

बच्‍चों के कमरे में ऐसे पिक्‍चर्स लगाएं जो उन्‍हें मोटिवेट कर सकें। इसके लिए पूर्व की तरफ सूर्य देव और मां सरस्‍वती का चित्र लगाएं या फिर वेदमाता की तस्‍वीर लगाएं।

माता-पिता का आर्शीवाद जरूरी

वास्‍तुशास्‍त्र के मुताबिक बच्‍चों को स्‍कूल जाने से पहले माता-पिता के चरण स्‍पर्श करने चाहिए। इसके अलावा बच्‍चों को स्‍कूल भेजने से पहले दूध में शहद डालकर पीलाना भी शुभ माना जाता है। 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News