23 OCTWEDNESDAY2019 1:38:30 AM
Nari

महिलाओं को क्यों हो रही है पथरी की समस्या? जानिए 6 बड़ी वजह

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 09 Jul, 2019 04:34 PM
महिलाओं को क्यों हो रही है पथरी की समस्या? जानिए 6 बड़ी वजह

पित्त (लीवर), किडनी स्टोन (गुर्दे की पथरी) की समस्या आजकल आम देखने को मिल रही है। पथरी की समस्या किसी को भी हो सकती हैं लेकिन महिलाओं में यह समस्या ज्यादा देखने को मिलती है, जिसका कारण काफी हद तक गलत लाइफस्टाइल है। शोध के अनुसार, 10 में से 8 महिलाएं इस समस्या से परेशान है, जिसमें 30-60 साल की महिलाओं की संख्या ज्यादा है। चलिए आपको बताते हैं आपकी किन गलतों के चलते आप पथरी की शिकार हो जाती हैं।

 

महिलाएं क्यों होती हैं ज्यादा प्रभावित?

यूरिन इंफैक्शन, प्रजनना क्षमता में कमजोरी, तनाव आदि का असर किडनी व लिवर पर पड़ता है, जो पथरी का कारण भी बनता है। वहीं, गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में इक्लैम्पसिया और बहुत-सी स्वास्थ्य संबंधी कमजोरियां आनी शुरू हो जाती है, जोकि इसका कारण बनती है। इसके अलावा खून की कमी, पूरी नींद न लेना, कमजोर इम्यून सिस्टम की परेशानी औरतों में ज्यादा देखने को मिलती है, जो लिवर और किडनी में पथरी की समस्या पैदा करती हैं।

ज्यादा नमक खाना

नमक में सोडियम की मात्रा अधिक होती है, जिससे पथरी ही नहीं बल्कि किडनी फेल का खतरा भी बढ़ जाता है। अगर आप भी अधिक नमक का सेवन करती हैं तो उसे आज ही छोड़ दें।

PunjabKesari

ज्यादा कॉफी का सेवन

कॉफी या चाय पीने की महिलाएं जरा सतर्क हो जाएं क्योंकि इसमें मौजूद कैफीन से भी पथरी बन सकती हैं। अगर आपको इसकी आदत हैं तो दिन में सिर्फ 1-2 कप चाय व कॉफी का ही सेवन करें।

पूरी नींद न लेना

क्या आप भी काम के चक्कर में भरपूर नींद नहीं ले पाती? अगर हां तो अपनी इस आदत को आज ही सुधार लें क्योंकि इससे कार्ड ब्लैडर (लिवर) व किडनी पर असर पड़ता है, जो आगे चलकर पथरी का कारण भी बन सकता है।

कम पानी पीना

हर किसी को दिन में कम से कम 8-10 गिलास पानी पीना चाहिए। मगर महिलाएं प्यास लगने पर भी पानी नहीं पीती, जो डिसीज का खतरा बढ़ा देता है। अधिक पानी पीने से विषाक्त पदार्थों शरीर से बाहर निकाल जाते है, जिससे इसका खतरा कम होता है।

पेशाब रोककर रखना

अक्सर देखा जाता है कि लड़कियां काफी देर तक पेशाब रोक लेती हैं लेकिन बता दें कि ज्यादा देर तक मूत्र को रोकने से ब्लैडर भर जाता है और वह किडनी की तरफ चला जाता है। इससे बैक्टीरिया के कारण गुर्दे व पित्ते से जुड़ी समस्याएं हो जाती है। साथ ही इससे यूटीआई का खतरा भी रहता है।

PunjabKesari

शराब का सेवन

मॉर्डन सोसायटी के चलते आजकल लड़कियां भी शराब पीने से पीछे नहीं है लेकिन दिनभर में 2 से ज्यादा ड्रिंक पीने से पथरी ही नहीं कैंसर जैसी बीमारियों का खतर भी रहता है।

कैल्शियम और विटामिन डी का सेवन

महिलाएं डाइटिंग या काम के चक्कर में अपने खान पान के साथ समझौता कर लेती हैं। इससे उनके शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है, जो आगे चलकर किडनी स्टोन का कारण बन सकती है।

ज्यादा मीठी चीजों का सेवन

मीठी चीजें जैसे - चॉकलेट, पैकेज्ड स्नैक्स और कोल्ड ड्रिंक में फ्रुक्टोज नाम तत्व होता है, जो अंदरूनी आर्गन को नुकसान पहुंचाता है। ज्यादा फ्रुक्टोज का सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है, जिससे ना सिर्फ पथरी बल्कि किडनी फेल का खतरा भी रहता है।

अधिक दवाइयों का सेवन

महिलाएं अक्सर छोटी-छोटी परेशानी में दवा ले लगती हैं लेकिन जरूरत से ज्यादा दर्द निवारक दवाओं का सेवन करना भी किडनी के लिए हानिकारक है। कुछ खास दवाएं जैसे एस्परिन, एंटीरेट्रोवायरल आदि किडनी को नुकसान पहुंचाकर इंफैक्शन या किडनी फेलियर का कारण बन सकती है।

PunjabKesari

किडनी की बीमारी रोकने के लिए क्‍या करें?

अगर आप इस समस्‍या से खुद को दूर रखना चा‍हती हैं तो अपने लाइफस्टाइल में थोड़ा-सा बदलाव लाएं। किडनी व लिवर को हैल्दी रखने के लिए सिगरेट, शराब, नशीले पदार्थों और सोडियम युक्त आहारों से भी परहेज रखें। इसके साथ ही भरपूर पानी का सेवन, हरी सब्जियां, फल और अंगूर खाएं और नियमित रूप से व्यायाम जरूर करें।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News