23 OCTWEDNESDAY2019 1:40:18 AM
Nari

इन 8 मसालों से होगी शरीर की पाचन शक्ति मजबूत, मिलेंगे और भी कई फायदे

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 14 Jul, 2019 06:20 PM
इन 8 मसालों से होगी शरीर की पाचन शक्ति मजबूत, मिलेंगे और भी कई फायदे

अगर खाने की बात करें तो भारतीय खाने के स्वाद का मुकाबला शायद ही कोई कर सकता है। तरह-तरह के मसाले, जो न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाते हैं, बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी होते हैं। वैसे तो अधिक मसालों का सेवन कम ही करना चाहिए लेकिन आज जिन मसालों की बात हम करने जा रहे हैं, उनका सेवन कुछ ज्यादा हो भी जाए तो कोई इतने नुकसान की बात नहीं है... तो चलिए शुरुआत करते हैं हरी मिर्च से...

हरी मिर्च

हरी मिर्च में मौजूद विटामिन-सी हमें लो-इम्युनिटी के चलते जुकाम और सिर-दर्द जैसी परेशानियों के दूर रखता है। साथ ही हरी मिर्च के सेवन से त्वचा से जुड़ी कई परेशानियों खत्म होती हैं। इसके सेवन से फेफड़ों के कैंसर का खतरा भी कम होता है। यहां तक कि हरी मिर्च के सेवन से आंखों की रोशनी भी तेज होती है।

PunjabKesari

काली मिर्च 

काली मिर्च पाचन रस और एंजाइम को उत्तेजित करती है, जिससे पाचन शक्ति में सुधार आता है। काली मिर्च के सेवन से आंतों से जुड़ी समस्याएं ठीक होती हैं। 

हल्दी

हल्दी में मौजूद इन्फ्लेमेटरी और एंटीवायरल तत्व सर्दी जुकाम में अपना हैरानीजनक असर दिखाते हैं। बारिश के मौसम में सर्दी-जुकाम की प्रॉब्लम आम हो जाती है। ऐसे में पुदीने या तुलसी की चाय में हल्दी मिलाकर पीने से सर्दी-जुकाम कुछ ही घंटो में गायब हो जाता है। यदि आप रोजाना हल्दी वाले दूध का सेवन करते हैं तो आपकी इम्युनिटी कभी कमजोर नहीं होगी। सर्दियों में 1 टीस्पून और गर्मियों में 1 चुटकी हल्दी रोज रात दूध में मिलाकर पीने से हमारा इम्युनिटी सिस्टम काफी हद तक स्ट्रांग बनता है। 

PunjabKesari

अदरक

अदरक का सेवन शरीर को बूस्ट-अप करने के साथ-साथ, बारिश में गलत-मलत खाने की वजह से हुए पेट खराब को ठीक करने का काम करता है। कई बार खराब मौसम के चलते या फिर य़ूं ही मन खराब होने लगता है ऐसे में जिंजर-टी का सेवन करने से शरीर को काफी लाभ मिलता है। 

अजवाइन

अजवाइन न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाता है बल्क‍ि यह आपको पेट से जुड़ी की बीमारि‍यों को भी दूर रखने में मदद करता है। अजवाइन का पानी रोज सुबह खाली पेट पि‍या जाए तो यह पूरे शरीर के लिए लाभदायक होता है। यह पानी आपके शरीर की पाचन शक्ति को बढ़ाएगा साथ ही शरीर को रोगों से लड़ने के लिए शक्ति प्रदान करेगा। 

नटमेग यानि जायफल

लगभग हर रसोई में पाया जाने वाला यह मसाला न सिर्फ खाने के स्वाद को दोगुना करता है, बल्कि औषधीय गुणों से भी भरपूर होता है। जिन बच्चों को सर्दी जुकाम जल्दी हो जाता है उन्हें इसका सेवन किसी न किसी तरीके सो रोजाना करवाना चाहिए। चाहें तो बच्चों का परांठा बनाते वक्त उसमें डाल दिजिए या फिर सूप में डालकर पिलाइए। 

मुलेठी

सर्दी-जुकाम के कारण छाती ब्लॉक हो जाती है।इसके इस्तेमाल से सर्दी-जुकाम की वजह से जमा रेशा बहुत जल्द खत्म हो जाता है। आजकल मार्किट में मुलेठी से बने कफ-सिरप और मीठी गोलियां मिल जाती हैं। जिन लोगों की इम्युनिटी वीक है वे लोग इन गोलियों का सेवन रुटीन में कर सकते हैं। 

लौंग

लौंग में भारी मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं। जिसकी वजह से सर्दी-जुकाम में इसका इस्तेमाल काफी फायदेमंद रहता है। लौंग गले की सूजन को कम कर दर्द से छुटकारा दिलाते हैं। 
 

Related News