23 SEPMONDAY2019 3:29:06 PM
Nari

वैजाइना के लिए हानिकारक है ये 9 चीजें, जानें हेल्दी रखने का सही तरीका

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 25 Aug, 2019 09:09 AM
वैजाइना के लिए हानिकारक है ये 9 चीजें, जानें हेल्दी रखने का सही तरीका

प्राइवेट पार्ट शरीर का सबसे नाजुक हिस्सा होता है। ऐसे में आपके द्वारा की गई एक छोटी-सी गलती भी उसे नुकसान पहुंचा सकती है। आज हम आपको कुछ ऐसी ही हानिकारक चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका इस्तेमाल वैजाइना के लिए घातक हो सकता है। अगर आप भी इन चीजों का इस्तेमाल करती हैं तो आज ही इसे बंद कर दें।

 

वैजाइना स्टीमिंग

प्राइवेट पार्ट के बाल रिमूव करने के लिए अगर आप भी वैक्सिंग का सहारा लेती हैं तो सावधान हो जाएं। जहां इससे प्राइवेट पार्ट जलने का खतरा रहता है वहीं इसके कारण इंफेक्शन का खतरा भी हो सकता है। दरअसल, वैजाइना की स्किन और म्यूकस मेम्बरेन नामक परत को सुरक्षित रखते हैं लेकिन वेक्सिंग से वो परत हट जाती है, जिससे बैक्टीरिया आसानी से शरीर में प्रवेश करके इंफेक्शन का खतरा पैदा करते हैं।

PunjabKesari

डाई

अगर आप भी सफेद प्यूबिक हेयर के लिए डाई का यूज करती हैं तो सतर्क हो जाएं क्योंकि इससे इंफेक्शन फैल सकता है। जी हां, डाई में मौजूद कैमिकल्स, वैजाइना इंफेक्शन, जलन और खुजली का कारण बन सकते हैं।

साबुन

साबुन में केमिकल होता है इसलिए उसे अपने वैजाइना के अंदर ना आस-पास इस्तेमाल ना करें। इससे वैजाइनल इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही इससे वैजाइना में जलन और खुजली की समस्या भी हो सकती है।

वैसलीन

वैसलीन ल्यूब्रिकेशन के लिए एक बहुत आसान तरीका होता है लेकिन साथ ही ये वैजाइना के लिए हानिकारक भी होता है। इसकी वजह से वैजाइना में इंफेक्शन होने का खतरा होता है।

डाउच

डाउच एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें पानी और सिरका को मिलाकर वैजाइना को साफ किया जाता है। मगर ये वैजाइना में पाए जाने वाला नेचुरल बैक्टीरिया को कम कर देता है। इसके अलावा इससे पीएच लेवल भी कम हो जाता है जिससे इंफेक्शन का खतरा रहता है।

PunjabKesari

हेयर रिमूवल क्रीम

नीचे की ओर हेयर रिमूवल क्रीम लगाने से उस एरिया पर घाव आदि हो सकता है और साथ ही संक्रमण का खतरा भी हो सकता है। आप चाहें तो वैजाइना को शेव या वैक्‍स कर सकती हैं।

ब्लीच

कुछ महिलाएं प्राइवेट पार्ट का कालापन दूर करने के लिए ब्लीच का यूज करती हैं लेकिन करना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। इसमें मौजूद कैमिरल्स इंफेक्शन, जलन और रैशज की समस्या पैदा कर सकते हैं।

इंटिमेट स्प्रे

कुछ महिलाएं प्राइवेट पार्ट की सफाई के लिए वैजाइना वाइप्स या इंटिमेट स्प्रे का यूज करती हैं जोकि गलत है। दरअसल, इनमें कुछ ऐसे खतरनाक केमिकल्स होते हैं, जो प्राइवेट पार्ट को नुकसान पहुंचाते हैं। साथ ही इससे वेजाइना में ड्राईनेस, इंफेक्शन, जलन और रैशेज जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।

लुब्रिकेंट्स

आजकल महिलाएं लुब्रिकेंट्स का भी काफी इस्तेमाल कर रही हैं लेकिन यह आपके लिए हानिकारक हो सकता है, खासकर ऑयल बेस्डलु ब्रिकेंट्स। दरअसल, यह काफी गाढ़े होते हैं और शरीर से आसानी से निकल नहीं पाते, जिसके कारण खुजली व जलन की समस्या होने लगती है।

PunjabKesari

गलती से भी ना करें प्राइवेट पार्ट के साथ यह एक्सपेरिमेंट...

प्राइवेट पार्ट शरीर का सबसे नाजुक हिस्सा होता है इसलिए इसके साथ कोई भी एक्सपेरिमेंट करने से पहले कई बार सोच लें। आप ल्यूब, सेक्स टॉयज, फिंगरिंग या फिर टैम्पॉन और मेन्स्ट्रुअल कप्स का इस्तेमाल कर सकती हैं लेकिन किसी ओर चीज का यूज करने से पहले अच्छी तरह सोच लें। प्राइवेट पार्ट के साथ की गई कोई भी गलती आपके लिए घातक साबित हो सकती है।

वेजाइना को स्वस्थ रखने के टिपस

-नमी के कारण अक्सर इंफैक्शन होने का खतरा बना रहता है इसलिए हमेशा वेजाइना का ड्राई रखें।
-प्यूबिक हेयर होने से पसीना अधिक आता है और पसीने के कारण गंध और इंफैक्‍शन रहती है। ऐसे में टाइम-टू-टाइम इसे साफ करें।
-गर्मियों में कॉटन पैंटी पहनें। यह न केवल पहनने में आरामदायक होती है, बल्कि प्राइवेट पार्ट को ड्राई भी रखती है। 
-दिन में 2-3 बार पैंटी को बदलें। इससे प्राइवेट पार्ट स्वस्थ व बदबू से मुक्त रहेंगे। आप चाहे तो हर रोज अपनी पैंटी को बदल सकते हैं।
-यह काफी संवेदनशील हिस्सा है इसलिए प्राइवेट पार्ट को साफ करने के लिए हार्श साबुन का यूज ना करें। 
-समय-समय पर हेयर रिमूव करना ना भूलें और गुनगुने पानी से प्राइवेट पार्ट की सफाई करें।
-6 महीने में एक बार गाइनोक्लोजिस्ट से चेकअप करवाएं।

PunjabKesari

खैर, हमारी सलाह तो यही है कि किसी भी चीज को आजमाने से पहले गाइनैकॉलजिस्ट से सलाह ले लें। फीमेल प्राइवेट पार्ट बेहद सेंसिटिव जगह होती है और केमिकल्स युक्त ज्यादा चीजों का इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News