17 OCTTHURSDAY2019 11:17:03 PM
Nari

गंभीर बीमारी की शिकार हुईं काजोल की मां, जानिए क्यों होती है ये बीमारी?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 06 Jun, 2019 06:53 PM
गंभीर बीमारी की शिकार हुईं काजोल की मां, जानिए क्यों होती है ये बीमारी?

बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल की मां तनुजा की डायवर्टीकुलिटिस से पीड़ित थी, जिसके चलते उन्हें सर्जरी करवानी पड़ी और फिलहाल वह अस्पताल में ही हैं। इस बीमारी के कारण उन्हें काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता। डायवर्टीक्यूलिटिस पाचन तंत्र से जुड़ी बीमारी है, जिसमें डायवर्टीकुला नामक छोटे पाउचों में सूजन या इंफैक्शन हो जाता है, जो आंतों की दीवारों पर विकसित होते हैं। चलिए आपको बताते हैं कि क्या है यह बीमारी और इसके लक्षण।

 

क्या है डायवर्टिक्युलाइटिस?

डायवर्टिक्युलाइटिस पाचन सिस्टम से जुड़ी एक ऐसी बीमारी है जिसमें आंतों की दीवारों पर बने डायवर्टीकुला नाम के छोटे-छोटे पाउच में इंफैक्शन फैल जाता है या फिर सूजन आ जाती है। ये पाउच पाचन नली के किसी भी हिस्से में विकसित हो सकते हैं।

PunjabKesari

दो तरह की होती है बीमारी

-डायवर्टिक्युलाइटिस दो प्रकार के होते हैं- एक्यूट और क्रोनिक। क्रोनिक डायवर्टिक्युलाइटिस में संक्रमण और सूजन धीरे-धीरे कम तो हो सकती है लेकिन यह कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं होत और गंभीर रूप ले लेती है। अगर सही समय पर इलाज ना करवाया जाए इसके कारण सर्जरी की नौबत आ सकती है।

-वहीं, एक्यूट में इंफैक्टिड डायवर्टिकुला में फोड़े-फुंसी बन जाती है, जो धीरे-धीरे आंत की दीवारों तक फैल जाती है। इसके कारण पेरिटोनिटिस (Peritonitis) नाम का संक्रमण भी हो सकता है। यह इंफैक्शन जानलेवा होता हो इसलिए इसका तुरंत इलाज करवाना बेहद जरूरी होता है। इतना ही नहीं, इससे स्कारिंग की स्थिति भी पैदा हो सकती है, जिससे आंत पूरी तरह ब्लॉक हो जाती है और ब्लीडिंग होने लगती है।

इन लोगों को रहता है अधिक खतरा

40 से अधिक उम्र वाले लोगों को इसका खतरा अधिक होता है। साथ ही भोजन में फाइबर की मात्रा कम लेने वाले लोगों में यह बीमारी जल्दी विकसित होती है। इसके अलावा मोटापे, स्मोकिंग, एक्सरसाइज ना करना और ऐनिमल फैट युक्त चीजें खाने से भी इस बीमारी का खतरा रहता है।

PunjabKesari

डायवर्टिक्युलाइटिस के लक्षण

लगातार पेट के बाईं तरफ दर्द रहना
उल्टी, कब्ज और दस्त
पेट में ऐंठन
बहुत अधिक ठंड लगना
अचानक से बुखार आ जाना
यूरिन और मल से खून आना
पेशाब के दौरान दर्द होना

PunjabKesari

डायवर्टिक्युलाइटिस का इलाज

अगर इस बीमारी का पता शुरूआती स्टेज में चल जाए तो पेनकिलर्स व फाइबर वाले फूड्स से इसे ठीक किया जा सकता है लेकिन स्थिति गंभीर होने पर सर्जरी करवानी पड़ती है। बीमारी के लक्षण दिखने पर सबसे पहले अपने डॉक्टर से चेकअप करवाएं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News