20 MAYMONDAY2019 5:06:51 AM
Nari

World Malaria Day: 18 लाख लोग हर साल होते हैं मलेरिया का शिकार, 5 रामबाण नुस्खे करेंगे बचाव

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 25 Apr, 2019 03:26 PM
World Malaria Day: 18 लाख लोग हर साल होते हैं मलेरिया का शिकार, 5 रामबाण नुस्खे करेंगे बचाव

आज दुनियाभर में विश्व मलेरिया दिवस मनाया जा रहा है। यह बीमारी मादा 'ऐनाफिलीज' मच्छर के काटने से होती है, जो गंदे पानी में पनपते हैं। ये मच्छर आमतौर पर सूर्यास्त के बाद रात में ही ज्यादा काटते हैं। कुछ केसेज में मलेरिया अंदर ही अंदर बढ़ता रहता है। अगर समय रहते इसका इलाज ना करवाया जाए तो यह जानलेवा भी साबित हो सकता है। ऐसे में आज वर्ल्ड मलेरिया डे पर हम आपको इसके लक्षण और कारण बताएंगे, जिससे पहचान कर आप सही समय इसका इलाज करवाकर रोगी की जान बचा सकते हैं।

 

भारत में हर साल 18 लाख लोग होते हैं शिकार

रिपोर्ट के अनुसार, भारत में हर साल करीब 18 लाख लोग इसकी चपेट में आ जाते हैं। वहीं इथियोपिया, पाकिस्तान और इंडोनेशिया में मलरिया का खतरा 80 फीसदी अधिक होता है। इतना ही नहीं रिपोर्ट के मुताबिक, 2014 में देशभर में मलेरिया के करीब 11 लाख मामले आए लेकिन 2015 में यह संख्या बढ़कर 11 लाख 69 हजार हो गई थी। हालांकि मलेरिया से हुई मौतों पर नजर डालें तो इसमें कमी आती गई है। साल 2014 में मलेरिया से 562 मौत, साल 2015 में 384 और 2016 में 242 मौतें हुईं।

PunjabKesari

मलेरिया के कारण

घरों के अास-पास जमा हुअा पानी
संक्रमित पानी अौर खाना

मलेरिया के लक्षण

मच्छर काटने के कम से कम 7-8 दिन बाद इसके लक्षण दिखाई देते हैं। ये लक्षण इतने सामान्य होते हैं कि आप इसे फ्लू समझ लेते हैं लेकिन इस तरह के लक्षण दिखने पर आपको तुरंत चेकअप करवाना चाहिए।

ज्यादा तेज सिरदर्द
उल्टी अौर दस्त
ठंड लगना और मिचलाहट
नाक से खून निकलना
हाथ-पैर में कपकपी
बार-बार प्यास लगना
कमजोरी महसूस होना।
एक, 2-3 दिन बाद बुखार आते रहना
कमजोरी और मांसपेशियों में दर्द
एक समय पर बुखार का आना और उतरना

PunjabKesari

मलेरिया का रामबाण इलाज
काली मिर्च

दिन में 2-3 बार 3-4 काली पिसी मिर्च को प्याज के रस के साथ लें। इससे मलेरिया बुखार दूर होगा।

गिलोय

गिलोय को पानी में उबालकर पीने से भी मलेरिया दूर होता है। साथ ही यह बॉडी में इंफैक्शन को भी दूर करता है।

मुनक्का

10 ग्राम मुनक्का और अदरक को पानी में डालकर अच्छी तरह उबालकर ठंडा करके पीएं। इससे भी आराम मिलेगा।

PunjabKesari

पपीते के पत्ते

पपीते के पत्तों का जूस बनाकर दिन में 2-3 बार पीएं। यह मलेरिया और शरीर में से विषैले टॉक्सिन बाहर निकालने में मदद करते हैं।

दालचीनी

1 चम्मच दालचीनी, शहद और 1/2 चम्मच काली मिर्च पाउडर को पानी में डालकर उबाल लें। इसे ठंडा करके पीने से आपका मलेरिया बुखार दूर हो जाएगा।

ऐसे करें बचाव

-मलेरिया होने पर मरीज को ज्यादा से ज्यादा अाराम करने के लिए कहें अौर उन्हें ज्यादा लिक्विड चीजें ही दें।
-इसके मच्छर गंदगी और कई दिनों तक जमा पानी में ही पनपते हैं। इसलिए घर के आस-पास सफाई रखें।
-हर महीने मच्छरों का खात्मा करने के दवाई जरूर छिड़कवाएं। इससे मलेरिया होने का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है।
-घर में पीने वाले पानी को खुला न छोड़ें। उसे हमेशा किसी चीज से ठक कर रखें। खाने वाली चीजों को भी हमेशा ठक कर रखें।
-सोने से पहले शरीर पर सरसों का तेल लगाए। इससे मच्छर नहीं काटेंगे।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad