17 JUNMONDAY2019 9:20:18 PM
Nari

Celeb Story: 5 साल अजीब बीमारी से जूझ चुकी हैं सुष्मिता, मौत के थी बेहद करीब

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 05 Jun, 2019 04:36 PM
Celeb Story: 5 साल अजीब बीमारी से जूझ चुकी हैं सुष्मिता, मौत के थी बेहद करीब

अपनी शर्तों पर जिंदगी जीने वाली सुष्मिता सेन ने 1994 में मिस यूनिवर्स का खिताब जीतकर देश का नाम रौशन किया था। सुष्मिता सेन ने ऐश्वर्या राय को पीछे छोड़कर फेमिना मिस इंडिया का खिताब जीता था, जिसके बाद वह मिस यूनिवर्स बनी थीं।कहा जाता है कि दोनों के बीच कोल्ड वॉर जैसा था लेकिन हाल में एक इटरव्यू में सुष्मिता ने इस बात को गलत कहा। 

 

हाल में ही सुष्मिता ने राजीव मसंद को दिए इंटरव्यू में अपनी जिंदगी को लेकर कई खुलासे किए। जब सुष्मिता से कोल्ड वॉर के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि 'अगर आप पुराने इंटरव्यू को देखें तो मैंने हमेशा ऐश्वर्या के प्रति गर्मजोशी दिखाई है। ऐश्वर्या दूसरों से बिल्कुल अलग हैं। हमारे बीच बिल्कुल भी कोल्डवार जैसा नहीं था। यह बहुत ही बकवास है।'

PunjabKesari

वही, जब सुष्मिता से पूछा गया कि 'क्या ऐश्वर्या को आप दोस्त कहेंगी तो उन्होंने जवाब में कहा कि इसके लिए हमें एक दूसरे के साथ समय बिताना होगा लेकिन हम हमेशा एक दूसरे का सपोर्ट करते आए हैं। सालों बाद भी जब मैं ऐश्वर्या को देखती हूं तो उन्होंने बखूबी अपनी जिंदगी के रिश्ते को निभाया हैं। वो एक अलग इंसान हैं और मैं एक अलग इंसान हूं।'

 

सुष्मिता ने बताई अपनी बीमारी

सुष्मिता ने यह भी बताया कि 5 साल पहले उनकी हालत ऐसी हो गई थी कि वो जिंदगी और मौत से लड़ रही थीं। यहां तक कि उनमें जीने की इच्छा खत्म हो गई थी। सुष्मिता ने बताया कि 2014 में बंगाली फिल्म निरबाक की शूटिंग खत्म करने के बाद उनकी तबीयत खराब हो गई। वह अचानक बेहोश हो गई और बाद में उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया जहां पर उनके सभी टेस्ट हुए। 

PunjabKesari

इस अजीब बीमारी का शिकार हो गई थी सुष्मिता

टेस्ट के बाद पता चला कि उनकी अधिवृक्क ग्रंथि (Adrenal Glands) ने कोर्टिसोल (Cortisol) नाम का हार्मोन बनाना बंद कर दिया था। इस बीमारी के चलते उनके शरीर के अंग धीरे-धीरे खराब होते जाते। सुष्मिता ने कहा, मुझे खुद को बचाने के लिए स्टेरॉयड लेने थे, जो 8 घंटे तक मुझे जिंदा रखने के लिए जरूरी थे। इसके बाद मेरे अगले 2 साल ट्रॉमा से भरे रहे। लोग मुझे देखते थे। मैं पूर्व मिस यूनिवर्स हूं और मुझे खूबसूरत दिखना जरूरी है। मेरे बाल बहुत झड़ने लगे थे। यह वो स्टेरॉयड नहीं था जो वर्कआउट करने के लिए लिया जाता है। यह बिल्कुल अलग है जिससे आपका वजन बढ़ता है और बोन डेनसिटी कम होने लगती है।'

 

मेरी तबीयत बहुत ज्यादा खराब थी और मैं दो बच्चों की सिंगल मदर थी जिन्हें मेरी जरूरत थी। साल 2016 में एक बार फिर मेरी बहुत ज्यादा तबीयत खराब हुई और मुझे अबू धाबी के अस्पताल में ले जाया गया। मुझे तुरंत स्टेरॉयड बंद करने के लिए कहा गया और मेरे टेस्ट हुए।' बाद में सुष्मिता ने कहा कि डॉक्टर ने मुझसे पूछा कि क्या तुमने स्टेरॉयड लिए? मैंने बताया कि मैं कुछ खाने के बाद स्टेरॉयड लूंगी। तब डॉक्टर ने मुझे कहा कि तुम्हें ये स्टेरॉयड लेना बंद करना होगा क्योंकि तुम्हारे शरीर में यह बनने लगा है।'

 

डॉक्टर ने सुष्मिता को कहा, '35 साल के करियर में मैंने कभी नहीं देखा कि किसी व्यक्ति के शरीर में कोर्टिसोल फिर से बनने लगे। मुझे यकीन नहीं हुआ और मैंने तीन बार टेस्ट करवाया।' बता दें कि सुष्मिता दो बेटियों की मां है और वह उनकी परवरिश खुद कर रही है।

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad