17 AUGSATURDAY2019 8:08:29 PM
Nari

बरसाती मौसम में ना होने दे वैजाइना इंफेक्शन, यू रखें खुद का बचाव

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 22 Jul, 2019 04:15 PM
बरसाती मौसम में ना होने दे वैजाइना इंफेक्शन, यू रखें खुद का बचाव

बारिश का मौसम जहां गर्मी से राहत देता है वहीं यह कई बीमारियों का घर भी है। स्किन इंफेक्शन, वायरल फ्लू के साथ-साथ इस मौसम में महिलाओं को वैजाइना इंफेक्शन का खतरा भी अधिक रहता है। महिलाओं का इम्यून सिस्टम पुरूषों के मुकाबले कमजोर होता है इसलिए वह जल्दी किसी भी बीमारी की चपेट में आ जाती है। वहीं प्राइवेट पार्ट की हाइजीन में बरती गई जरा-सी लापरवाही भी इस गंभीर समस्‍या का कारण बन सकती है। ऐसे में महिलाओं को चाहिए कि वो इस दौरान अपना खास ख्याल रखें।

 

मानसून में वैजाइना इंफेक्शन का खतरा

बरसात के मौसम में महिलाओं अक्सर रैशेज व जलन की शिकायत करती हैं।  दरअसल, इस दौरान वातावरण में नमी का स्तर बढ़ जाता है और बैक्टीरिया भी पनपते हैं, जिसके कारण इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। यह इंफेक्‍शन अगर यूट्रस तक पहुंच जाए तो और भी कई गंभीर समस्‍याएं हो सकती हैं।

इंफेक्शन से बचने के लिए ध्यान में रखें ये बातें
कॉटन की पैंटी पहनें

कॉटन पैंटी ना केवल पहनने में आरामदायक होती है बल्कि यह प्राइवेट पार्ट को ड्राई भी रखती है। इससे अनहैल्दी बैक्टीरिया और यीस्‍ट की समस्या दूर रहती है। साथ ही सिंथेटिक अंडरवियर पहनने से बचें। इससे योनि में जलन पैदा हो सकती है।

PunjabKesari

दिन में 2 बार बदलें पैंटी

बारीश के मौसम में दिन में कम से कम 2 बार पैंटी जरूर बदलें। इससे प्राइवेट पार्ट स्वस्थ व बदबू से मुक्त रहेंगी और इससे इंफेक्शन का खतरा भी कम होगा।

प्यूबिक हेयर करे रिमूव

प्यूबिक हेयर होने से पसीना अधिक आता है और पसीने के कारण गंध और इंफैक्‍शन रहती है। ऐसे में इंफैक्शन से बचने के लिए समय-समय पर प्यूबिक हेयर काटते रहे।

सही साबुन का इस्तेमाल

यह काफी संवेदनशील हिस्सा है, जिसे कठोर साबुन से धोने से पीएच स्तर में असंतुलन पैदा हो सकता है, जिससे वहां बैक्टीरिया पनप सकते है।

PunjabKesari

पीरियड्स में करे सही देखभाल

पीरियड्स के समय वेजाइना की सफाई बहुत जरूरी है क्योंकि इस दौरान इंफैक्शन होने की संभावना दोगुणा बढ़ जाती है। ऐसे में हर 3 से 4 घंटे बाद पैड्स बदलते रहें। इससे त्वचा पर जलन नहीं होगी।

पेशाब के बाद साफ करे योनि

बैक्टीरिया मूत्रमार्ग के जरिए भी फैल सकते हैं इसलिए पेशाब के बाद तुरंत पानी से योनि को साफ करें। इससे इंफेक्शन का खतरा काफी हद तक कम हो जाएगा।

टाइट कपड़े पहनने से बचें 

बहुत ज्यादा टाइट कपडे पहनने से निचले हिस्से में हवा नहीं पहुंच पाती है और नमी बनी रहती है। नमी में बैक्टीरिया तेजी से पनपते हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि आप टाइट की बजाए लूज और हल्के कपड़े पहनें।

PunjabKesari

वेजाइना में खुलजी

वेजाइना में खुलजी होने पर 1 लीटर पानी में 3 बड़े चम्मच सेब का सिरका मिलाकर योनि की सफाई करें। इससे आपकी समस्या दूर हो जाएगी।

सही आहार भी है जरूरी

पर्सनल हाइजीन के साथ-साथ डाइट पर ध्यान देना भी बहुत जरूरी है। अपनी डाइट में विटामिन, पानी और मिनरल्स से भरपूर चीजें ही शामिल करें। साथ ही जंक, फ्राइड व मसालेदार भोजन से दूर करें। इससे ना सिर्फ इंफेक्शन का खतरा रहता है बल्कि यह योनि में जलन का कारण भी बन सकते हैं।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad