23 SEPMONDAY2019 3:08:18 PM
Nari

घर के इस कोने में ना रखें जूते, पैसे की बर्बादी के साथ होगा सेहत का नुकसान

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 18 Aug, 2019 09:12 AM
घर के इस कोने में ना रखें जूते, पैसे की बर्बादी के साथ होगा सेहत का नुकसान

आज से कुछ समय पहले घर के अंदर जूते-चप्पल लेकर जाना गलत माना जाता था। मगर आजकल कोई भी बड़ों की बताई गई इन सब बातों को ध्यान में रखना जरुरी नहीं समझता। वास्तु के अनुसार घर के अंदर जूते चप्पल लेकर जाना और उन्हें बिना सोचे-समझे कहीं भी उतार कर रख देना अशुभ माना जाता है। तो चलिए जानते हैं जुते-चप्पल से जुड़े वास्तु टिप्स के बारे में विस्तार से... 

 

मुश्किलों का सामना

घर में कहीं पर भी जूते-चप्पल उतारने से घर के सदस्यों को कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। जैसे कि स्वास्थय संबंधित परेशानी, पैसों से जुड़ी परेशानियां और बनते-बनते काम बिगड़ने की वजह से घर के सदस्यों को मानसिक रुप की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। असल में घर में ऐसी बहुत सी जगहें होती हैं जहां देवी-देवताओं का वास होता है। ऐसे में उन जगहों पर जूते-चप्पल उतार देना भगवान का अपमान कहलाता है।

PunjabKesari,nari, stress

सही और गलत दिशाएं

घर की उत्तर-पूर्व दिशा में शू-रैक रखने से या फिर जूते चप्पल उतारने से घर के वास्तु-दोष बिगड़ते हैं। वास्तु के अनुसार घर की इस दिशा में भगवान का वास होता है, यहां तक कि घर की इस दिशा में जूते-चप्पल पहनकर भी नहीं जाना चाहिए। इस स्थान को आप जितना हो सके खाली रखें, इस दिशा में जूते-चप्पल लेकर जाने से घर के स्वामी और घरवालों के सम्मान और यश में कमी आती है।

उत्तर दिशा

घर की उत्तर दिशा में कुबेर जी का वास होता है। कुबेर धन-दौलत के प्रतीक हैं। ऐसे में इस दिशा में यदि आप जूते-चप्पल उतारेंगे तो घर की लक्ष्मी का अपमान होगी। हो सकता है लक्ष्मी आप से रुठ कर घर से चली जाए।

PunjabKesari,nari

मध्य भाग

घर का मध्य भाग पूरे घर में पॉजिटिव एनर्जी को बढ़ावा देता है। ऐसे में इस दिशा में शू-रैक या फिर जुते-चप्पल रखने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव बढ़ जाता है। जिस वजह से घर के सदस्यों को कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

पूर्व दिशा

घर की पूर्व दिशा में सूर्य देव का निवास होता है। इस दिशा में जूते-चप्पल उतारकर रखने से सूर्य देव की कृपा घर से समाप्त होने लगती है। यदि इस दिशा से गुजर कर सूरज की किरणें घर में सभी तरफ फैलती हैं तो इसका बहुत बुरा असर घर वालों की सेहत पर पड़ सकता है। घर में से कोई भी सदस्य किसी न किसी बीमारी की चपेट में आ सकता है।

पश्चिम दिशा

वास्तु के अनुसार जूते-चप्पल रखने के लिए पश्चिम दिशा को सबसे उत्तम माना जाता है। शास्त्रों के मुताबिक घर की इस दिशा में शनि देव वास करते हैं। यहां जूते-चप्पल रखने से घर पर कोई भी नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता। ऐसे में परिवार में सुख-शांति और घरवालों की अच्छी सेहत के लिए जूते-चप्पल हमेशा पश्चिम दिशा में ही रखें।


PunjabKesari,nari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News