13 DECFRIDAY2019 3:23:27 AM
Nari

टीनएज लड़कियां इन 5 वजहों से हो रही हैं PCOS की शिकार

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 20 Nov, 2019 12:00 PM
टीनएज लड़कियां इन 5 वजहों से हो रही हैं PCOS की शिकार

आजकल बिजी लाइफ-स्टाइल, गलत खान-पान, तनाव आदि की वजह से महिलाओं को कई हेल्थ प्रॉबल्म से गुजरना पड़ रहा हैं। वे डाइबिटीज, थायराइड आदि बीमारियों की शिकार हो रही हैं। ऐसे में कई महिलाएं ऐसी हैं जो PCOS नामक रोग का सामना कर रही हैं। शोध के अनुसार लगभग 70% महिलाएं इसका शिकार हो चुकी हैं। अब तो यह परेशानी कम उम्र की लड़कियों में भी देखने को मिल रही है, जिस वजह से आगे चलकर उन्हें गर्भधारण करने में भी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम कहे जाने वाली यह बीमारी महिलाओं में हार्मोंस के असंतुलन व मेटाबॉलिज्म खराब होने की वजह से बढ़ती जा रही है। इसका समय रहते इलाज कर लेना चाहिए नहीं तो इसके कारण महिलाओं में पेट और ओवेरियन कैंसर होने के चांसिस हो सकते हैं।

Image result for pcos,nari

PCOS होने के कारण

 

इंसुलिन 

शोध के अनुसार इंसुलिन भी इस बीमारी के होने का एक कारण माना गया है। जब शरीर में इंसुलिन असंतुलित हो जाता है, तो एंड्रोजन हार्मोन की मात्रा बढ़ जाती है जिससे ओव्यूलेशन प्रक्रिया प्रभावित होती है। जिसके परिणामस्वरूप महिलाएं पीसीओएस बीमारी का शिकार हो जाती हैं।

गलत लाइफ-स्टाइल

समय पर भोजन न करना, खाने में पौष्टिक तत्वों की कमी, अधिक मात्रा में जंक फूड खाना, योगा या व्यायाम का न करना और शराब व सिगरेट आदि का सेवन करने से महिलाओं को इस बीमारी का सामना करना पड़ता हैं।

Image result for eating junk food,nari

स्ट्रेस

ज्यादा सोचने वाली महिलाओं को स्ट्रेस होना स्वभाविक हैं। ऐसे में तनाव और टेंशन के कारण वे इस रोग की चपेट में आ जाती हें।

रात को देर से सोना

देर रात तक जागते रहने की वजह से शरीर को अच्छे से आराम न मिलना भी इस रोग के होने का कारण बनता हैं।

डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर

डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को ज्यादा सावधानी बर्तने की जरूरत होती हैं क्योंकि इन रोगों से परेशान लोगों को इस समस्या के होना खतरा ज्यादा होता हैं।

Image result for diabetes,nari

लक्षण

 

अनियमित पीरियड

इस समस्या के होने पर अनियमित पीरियड या इसके बंद होने की परेशानी का सामना करना पड़ता हैं।

ऑयली स्किन या मुहांसे

त्वचा बहुत ही तैलीय हो जाती है और चेहरे पर कील व मुहांसे हो जाते हैं।

वजन बढ़ना

इस रोग से परेशान महिला का वजन बढ़ने लगता है।

बाल झड़ना

बालों के टूटने, गिरने और झड़ने जैसी समस्या से गुजरना पड़ता है।

Image result for hair fall,nari

उपचार

 

पौष्टिक आहार

ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों का सेवन करें। जंक और ऑयली फूड से दूर रहें।

दालचीनी

जिन महिलाओँ को यह समस्या है वे सुबह उठकर गुनगुने पानी के साथ 1 टीस्पून दालचीनी पाउडर का सेवन करें।

मुलेठी

मुलेठी शरीर में कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करने और मेटाबॉलिज्म को स्ट्रांग बनाने में मदद करता है। आप चाहें तो मुलेठी के पाउडर को गुनगुने पानी के साथ ले सकते हैं। इससे पीसीओएस की समस्या में आपको राहत मिलेगी। 

 

इन सब के अलावा मेथी के बीज, पुदीने की पत्तियां, सेब का सिरका, अलसी के बीज और मैगनीशियम युक्त आहार इस बिमारी में आपके लिए बहुत लाभदायक सिद्ध होते हैं। 
 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News