17 SEPTUESDAY2019 6:42:35 AM
Nari

स्विमिंग के चक्कर में फेल करवा ली किडनी, कीटाणुओं ने खा ली स्किन

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 13 Sep, 2019 06:23 PM
स्विमिंग के चक्कर में फेल करवा ली किडनी, कीटाणुओं ने खा ली स्किन

पूल में नहाना दोस्तों व बच्चों के साथ एंजॉय करना हर किसी को अच्छा लगता है लेकिन क्या कभी किसी ने सोचा है कि पूल में नहाना आपकी सेहत को कितना भारी पड़ सकता है। हाल ही में 50 साल के डेविट को पूल में अपने 2 बच्चों के साथ नहाना काफी भारी पड़ गया। पूल में नहाने के कारण डेविट इस समय न केवल अस्पताल में भर्ती है बल्कि उसकी 3 बार सर्जरी भी हो चुकी हैं। चलिए बताते है आपको क्या है पूरा मामला

डेविट की निकाली 25 फीसदी त्वचा व फेल हुई किडनी 

50 वर्षीय डेविट आयरलैंड में फ्लू के लक्षण दिखाई देने पर फ्लोरिडा अस्पताल के आईसीयू में भर्ती किया गया है। जांच के बाद पता लगा  है कि उसे एस्ट्रेप्टोकोकस के फ्लेश-ईटिंग डिजीज हैं। इसमें मांस खाने वाले जीवाणु (flesh-eating bacteria) ने उसकी त्वचा को इतनी बुरी तरह खराब कर दिया कि उसकी डॉक्टर्स को उसकी 25 फीसदी त्वचा सर्जरी के माध्यम से निकालनी पड़ी। डॉक्टर्स द्वारा उसकी खराब त्वचा को हटाने के लिए अलग- अलग 3 तरह की सर्जरी की गई है। इतना ही नही किडनी भी फेल हो चुकी है लेकिन उनका ब्लड प्रेशर व लिवर खतरे से बाहर है। 

आपको बताते है कि किस तरह से संक्रमण प्रभावित कर सकते हैं। 

PunjabKesari,Nari, pool

ताजे पानी में पाए जाते है जीवाणु 

एनवाईयू लैंगवन हेल्थ में सहायक प्रोफेसर व संक्रमण रोग विशेषज्ञ एमडी वैनेसा के अनुसार ताजे व खारे पानी में मांस खाने वाले जीवाणु पाए जाते है। वहीं पूल व हॉट टब में यह संक्रमण व बैक्टीरिया बहुत कम होते है क्योंकि इस पानी में क्लोरिन पाया जाता है लेकिन कई बार क्लोरिन होने के बाद भी जीवाणु पूरी तरह से खत्म नही होते है बस इनका प्रभाव कम हो जाता है।

इन स्थिति में न जाए पानी में 

यह बैक्टीरिया आम तो पर त्वचा पर लगे किसी कट, घाव, जलने, रैशिज या किसी कीड़े के काटने से शरीर में प्रवेश करते है। जब यह एक बार शरीर में घुस जाते है तो बहुत तेजी से फैलते है, इसलिए जब शरीर पर किसी तरह का घाव हो तो कभी भी पानी में न जाएं।

लक्षण

- त्वचा पर लालपन या सूजन 
- शरीर में तेज दर्द
- बुखार चढ़ने लगता है
- संक्रमण बढ़ने पर पस भर जाती है
- त्वचा का रंग बदल कर छाले दिखाई देते है

PunjabKesari,Nari

इस तरह करें बचाव 

इस संक्रमण के शुरुआत में एंटीबायोटिक का इस्तेमाल करें। अगर आपको देरी से पता चला है जिस कारण टिश्यू ज्यादा खराब हो चुका है तो जल्द ही मृत टिश्यू को हटा देना चाहिए। अगर समय रहते इसका इलाज न किया जाए तो यह अंगों को खराब कर मौत का कारण भी बन सकते हैं।

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News