17 NOVSUNDAY2019 12:39:53 PM
Nari

क्यों होता है पीठ में दर्द ? राहत दिलाएगी यह एक खास एक्सरसाइज

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 14 Oct, 2019 03:42 PM
क्यों होता है पीठ में दर्द ? राहत दिलाएगी यह एक खास एक्सरसाइज

पीठ दर्द एक ऐसी समस्या है जिससे लगभग हर तीसरी व चौथी महिला पीड़ित है। इस दर्द से राहत पाने के लिए औरतें न जाने क्या-क्या उपाय करती रहती हैं। मगर फिर भी उन्हें आराम नहीं मिल पाता। ऐसे में सबसे पहले जरुरी है इस असहनीय पीठ दर्द से राहत पाने के लिए आपको अपनी जीवनशैली में बदलाव लाने की बेहद जरुरत है। कुछ ऐसे उपाय जो आपको केवल चंद ही मिनटों में आराम दिलवाएंगे। आइए जानते हैं कैसे...

वेट उठाते वक्त रखें ध्यान

अक्सर महिलाएं अपने साथ रखने वाले बैग में जरुरत से अधिक सामान रखती हैं। कितने-कितने दिनों तक हम उस पर ध्यान नहीं देते कि अब हमें उनमें से किन चीजों को हटाना चाहिए। इसका अर्थ होता है कि अक्सर हम बहुत अधिक वजन उठा रहे होते हैं और लंबे समय तक ऐसा करने से इसका सीधा असर आपकी पीठ पर होता है। एक नए शीध में पाया गया है कि औसतन एक महिला रोजाना लगभग 17 चीजों को अपने पास रखती है जिसका अर्थ है कि वे बैग में लगभग 3 किलो से अधिक भार ढोती हैं।

Image result for carrying heavy handbag,nari

यह फिजियोथैरेपिस्ट्स द्वारा दी जाने वाली 2 किलो तक भार उठाने की सलाह से कहीं अधिक है इसलिए यदि आपके बैग का वजन 2 किलो से अधिक है तो उसे कम करने का वक्त आ गया है। साथ ही जब भी बाहर कहीं जाएं कुछ मिनट के अंतराल पर बैग को एक से दूसरे कंधे पर बदलती रहें।

उठने से पहले व्यायाम करें

पीठ की मांसपेशियों को सुबह सबसे पहले चोट लगने का खतरा होता है क्योंकि वे रात भर आराम के दौरान सख्त हो जाती हैं इसलिए दिन की शुरुआत मांसपेशियों को राहत देने के लिए ' स्ट्रेचिंग' तथा 'वार्मिंग' एक्सरसाइज से करें। इन एक्सरसाइज में मांसपेशियों में खिंचाव लाया जाता है।

इसके लिए पीठ के बाल लेटे हुए एक घुटने को अपनी छाती की तरफ लाएं, फिर दूसरे को। इसके बाद अपने पैरों को नीचे से पकड़ें और दोनों घुटनों को अपनी छाती की ओर लाएं, इस स्थिति में 10 सेकेंड तक रहें। फिर एक तरफ को पलट कर बिस्तर से उठें।

पिलाटे एक्सरसाइज

रीढ़ की हड्डी को फिट रखने के लिए पिलाटे एक्सरसाइज बहुत बढ़िया व्यायाम है। इससे करने से मांसपेशियों में तनाव की स्थिति कम बनी रहती है। पिलाटे एक्सरसाइज में कई तरह की वर्जिश करवाई जाती है। जिसकी मदद से आप पीठ की कई तरह की समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। 

Image result for pilates exercises,nari

इस एक्सरसाइज को करने के लिए सीधे खड़े हो जाएं कि आपके टखने,कूल्हे और कंधे एक सीधी लाइन में रहें। सांस छोड़ते हुए सिर को छाती की ओर झुकाएं, फिर धीरे-धीरे कूल्हों को पीछे धकेले बिना अपनी रीढ़ को नीचे को झुकाएं। जितना आराम से हो सके उतना ही झुकें। ध्यान रखें कि सारा खिंचाव रीढ़े पर पड़ना चाहिए। ऐसा आपको कम से कम चार बार करना है। 

Related image,nari

मांसपेशियों पर दबाव

घंटों कंपूटर स्क्रीन के सामने बैठे रहने से या कंधे पर देर तक फोन टिका कर बात करने से पीठ के ऊपरी तथा मध्य हिस्सों पर बहुत अधिक दबाव पड़ता है जिससे रीढ़ का आकार भी बिगड़ जाता है। सीने में खिंचाव से मांसपेशियों को ढीला करने और पोशचर सही करने में मदद मिल सकती है।

इसके लिए कमरे के किसी कोने में खड़े हो जाएं, अपनी बांहों को ऊपर उठाएं और अपनी कोहनी को कंधे की ऊंचाई तक रखते हुए सामने की दीवारों पर हाथों को टिका दें। धीरे-धीरे आगे की ओर तब तक झुकें जब तक कि आपको अपनी छाती पर खिंचाव महसूस न हो। छह सैकेंड इस स्थिति में रहें और इसे 10 बार दोहराएं।

ज्यादी देर तक बैठे रहना

बैठे रहने से रीढ़ और डिस्क पर दबाव पड़ता है। हममें से कुछ लोग रोजाना 10 घंटे तक बैठे रहते हैं जो हमारी पीठ के लिए बुरी बात है। रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाए रखने के लिए इसका हिलना-झुलना जरुरी है। इसके लिए हर 20 से 30 मिनट में सीट से जरुर उठते रहें। पीठ के लिए कुछ स्ट्रेचिंग भी जरुर करें। खड़े होकर अपने हाथों को बारी-बारी से अपने पैरों के बाहरी दाएं तथा बाएं हिस्सों की ओर झुकाएं।

Related image,nari

ज्यादा से ज्यादा पानी

स्वस्थ रीढ़ की डिस्क हमेशा हाइड्रेटेड यानि नम रहती है। दिन के दौरान,गुरुत्वाकर्षण डिस्क से पानी निचोड़ता है जिससे पीठ दर्द हो सकता है इसलिए हर घंटे नियमित रुप से पानी पीने से वे स्वस्थ रहती हैं। 

कमर और कूल्हों का व्यायाम

कमर और कूल्हों की मांसपेशियां रीढ़ को सहारा देती हैं और पीठ दर्द को रोक सकती हैं। इन्हें स्वस्थ रखने के लिए कुछ विशेष व्यायाम आप भी कर सकते हैं।

- दोनों हाथों तथा घुटनों को जमीन पर टिका लें। फिर धीरे से फर्श से केवल 1 मि.मी. तक अपना एक हाथ उठाएं, इसी तरह दूसरी ओर के एक घुटने को फर्श से 1 मि.मी. तक उठाएं। 30 सैकेंड इस स्थिति में रहें। इस दौरान जब आप अपने शरीर को संतुलित रखने की कोशिस कर रहे होंगे तो आपको अपने पेट की मांसपेशियों में सिकुड़न महसूस होगी जिससे उन्हें मजबूती मिलेगी। इसी तरह दूसरी ओर दोहराएं।

शरीर को घुमाना

1 मिनट तक चलने वाले घुमावदार स्ट्रैचिंग व्यायाम आपकी रीढ़ को गतिशील रखने में मदद करेंगे। सही मुद्रा में सीधे बैठें। एक ओर मुड़ते हुए कुर्सी के पिछले हिस्से को छूने की कोशिश करें। इसे विपरीत दिशा में दोहराएं। ऐसा कई बार करें।

Image result for stretch your body,nari

सही पोश्चर में खड़ा होना सीखें

सही शारीरिक मुद्रा आपकी रीढ़ तथा डिस्कस पर भार कम करती है। इसके लिए सही मुद्रा में खड़े होने की आदत आपको डालनी होगी। 

खड़े होने की सही मुद्रा है कि सामने को देखते हुए आपकी चिन यानि ठुड्डी से हल्का-ऊपर को रहे और आपके कंधे थोड़ा-सा पीछे को हों ताकि आपकी बाजुएं दोनों ओर आराम से लटकी रहें और आपका 'पैलविक्स' न झुकते हुए सीधा रहे।

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News