23 FEBSATURDAY2019 12:29:41 PM
Nari

खांसी-जुकाम में दवा नहीं, राहत दिलाएगी मिश्री: रुजुता दिवेकर

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 31 Jan, 2019 04:59 PM
खांसी-जुकाम में दवा नहीं, राहत दिलाएगी मिश्री: रुजुता दिवेकर

ठंड के मौसम में तकरीबन सभी लोग बंद नाक, जुकाम, खांसी और गले के इंफेक्शन की समस्या से परेशान रहते हैं। इससे राहत पाने के लिए लोग दवाइयां भी लेते हैं लेकिन इन छोटी-मोटी परेशानियों को आप घरेलू नुस्खो से भी दूर कर सकते हैं। हाल में मशहूर न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने इन सभी समस्याओं को दूर करने के लिए एक आसान नुस्खा बताया है- मिश्री। चलिए जानते हैं किस तरह छोटी-सी मिश्री आपकी इन प्रॉब्लम्स को दूर कर सकती है।

 

दवा नहीं, अपनाएं नेचुरल तरीके

न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर का कहना है कि दवाओं की बजाए इन छोटी-मोटी प्रॉब्लम्स को नेचुरल तरीके से दूर किया जा सकता है। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पेज पर खांसी-जुकाम, बंद नाक और गले के इंफेक्शन के लिए मिश्री को यूजफुल घरेलू उपचार बताया है। 

PunjabKesari, Mishri Benefits Image, Cough and Cold Image

मिश्री दिलाएगी जुकाम से राहत

अपनी पोस्ट को शेयर करते हुए रुजुता लिखती हैं, 'गले में खराश, बंद नाक और सर्दी खांसी हो तो मिश्री ट्राई कीजिए। आयुर्वेद में मिश्री का उपयोग सदियों से होता आ रहा है। यह न केवल सर्दी-जुकाम से राहत दिलाती बल्कि इससे इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है। इसके अलावा मिश्री ऐसिडिटी और गैस्ट्रिक में भी फायदेमंद है। अगर आप मिश्री को मिठी समझकर खाने से परहेज करते हैं तो बता दें कि यह एक औषधि है, जो सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है।'

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Gale mein kharash, naak band aur sab kuch ulta pulta? Khadi shakker lijiye. Ayurved has celebrated the khadi shakkar or misri as it is called for centuries and celebrated its therapeutic value for easing the cough, preventing the cold and strengthening a weak immune system. It is also popular with the Indian classical singers for keeping their vocal chords lucid, fluid and sweet. Also known for keeping acidity, nausea and gas down. As for all those of you who worry about “sugar” know that what you need to avoid are the ultra processed packaged foods like biscuits, colas and chocolates. The misri is medicinal and as a part of a healthy, wholesome diet and a disciplined lifestyle, works wonders. Bite into it yet?

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar) on Jan 23, 2019 at 11:12pm PST

क्यों फायदेमंद है मिश्री?

लोगों को लगता है कि मिश्री में शुगर होती है इसलिए यह सेहत को नुकसान पहुंचा सकती है। जबकि यह एक मिथक है। आयुर्वेद में कहा गया है कि मिश्री इम्यूनिटी को मजबूती देती है, जिससे शरीर बैक्टीरिया से लड़ पाता है। इसके बनाने कि लिए गन्ने का इस्तेमाल होता है इसलिए मिश्री अनरिफाइंड होती है। पोषक तत्वों से भरपूर मिश्री का इस्तेमाल आप रेग्युलर प्रॉसेस्ड शुगर की जगह भी कर सकते हैं। यह शरीर में हीमोग्लॉबिन के स्तर को मेनटेन करती है, जिससे ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और शरीर एनीमिया से बचा रहता है।

 

खाने का सही तरीका

मिश्री से बंद नाक, जुकाम, खांसी और गले के इंफेक्शन को दूर करने के लिए इसे खाना का सही तरीका पता होना भी बहुत जरूरी है। मिश्री पाउडर के साथ पिसी काली मिर्च और घी को मिक्स करें। रात में डिनर के बाद इस मिश्रण को पीएं। इससे आपको सर्दी-जुकाम और बंद नाक में राहत मिलेगी। इसके अलावा सर्दी-खांसी व जुकाम दूर करने के लिए आप हल्का गर्म पानी में मिश्री मिलाकर भी पी सकते हैं। इससे शरीर में बलगम बाहर निकल जाएगी और आपको इस समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।

PunjabKesari, Mishri Benefits Image

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad