19 NOVTUESDAY2019 10:39:57 AM
Nari

इंजेक्शन से पहुंचाई जा रही हैं अमिताभ के शरीर में दवा, इतनी बीमारियों के भी नहीं हार रहे हिम्मत

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 09 Nov, 2019 12:25 PM
इंजेक्शन से पहुंचाई जा रही हैं अमिताभ के शरीर में दवा, इतनी बीमारियों के भी नहीं हार रहे हिम्मत

बॉलीवुड अभिनेत्रा 'बिग बी' यानि अमिताभ बच्चन कुछ समय से बीमार चल रहे हैं। हाल ही में उन्होंने अपने ट्वीटर अकाऊंड पर एक पोस्ट शेयर की, जिसमें उन्होंने अपनी घर की कुछ तस्वीरें की और लिखा, 'मैं बढ़ती उम्र की झंझावातों से घिरा हूं, सेहत के इस फेर में हर तरह से एक नली गुजर रही है। किसी में सलाइन वॉटर, इंजेक्शन तो कहीं सोनोग्राफ मीटर लगा हुआ है। दवाई भी इंजेक्शन के जरिए दी जा रही है। डॉक्टर मुझे काम से छुट्टी लेकर घर बैठने और आराम करने की हिदायत दे रहे हैं। मगर मैं उठूगां और काम पर जल्द लौटूंगा।'

वहीं पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी ने भी बिग बी की सेहत से जुड़ा एक बड़ा अपडेट दिया है। उन्होंने फिल्म फेस्टिवल के उद्घाटन में कहा, 'अमिताभ कोलकाता फिल्म फेस्टिवल में आने वाले थे। हालांकि, खराब स्वास्थय के कारण उन्होंने अपना शेड्यूल कैंसल कर दिया है। उनकी गैरहाजिरी में शाहरुख खान ने कोलकाता फिल्म फेस्टिवल का उद्घाटन किया है। इस मौके पर ममता बनर्जी ने कहा कि- भले ही आज वह नहीं आ पाए हैं, मुझे विश्वास है कि अमितजी के दिमाग में ये फिल्म फेस्टिवल ही होगा।'

चलिए आपको बताते हैं कि बिग-बी अब तक किन किन बीमारियों से जूझ चुके हैं।

घटाया 5 कि.लो. वजन

बता दें कि अमिताभ कुछ दिन पहले अस्पताल में दाखिल हुए थे। जहां से डिस्चार्ज होने के बाद उन्होंने लगभग पांच कि.लो. तक वजन घटाया था, जिसकी जानकारी उन्होंने खुद अपने ब्लॉक में दी थी। उन्होंने लिखा कि मुझे बताया गया कि पिछले कुछ दिनों में मेरा वजन कम हुआ है। यह लगभग 5 किलो है जो मेरे लिए ये शानदार है।

रीढ़ की हड्डी में टीबी से भी ग्रस्त थे 'बिग बी'

हाल ही में अमिताभ रीढ़ की हड्डी में टीबी की शिकायत से भी ग्रस्त थे। अमिताभ ने कहा, 'साल 2000 में केबीसी की शुरूआत में मुझे पीठ में दर्द रहता था। मुझे लगा ऐसा कुर्सी पर बैठने के कारण है लेकिन जांच करवाने पर मुझे रीढ़ की हड्डी में टीबी (स्पाइनल ट्यूबरक्लोसिस) के बारे में बता चला। करीब 4-5 साल जांच के बाद इसका डिटेक्शन हुआ लेकिन इलाज करवाने के बाद यह बीमारी ठीक हो गई। मुझे हर रोज 7-8 गोलियां खानी पड़ती थीं। अब मैं ठीक होकर आपके सामने बैठा हूं इसकी एक वजह यह भी है कि मैंने सही समय पर सही इलाज करवा लिया था।

25 फीसदी ल‍िवर पर ज‍िंदा हैं अम‍िताभ

बता दें अम‍िताभ हेपेटाइट‍िस बी, टी.बी, ल‍िवर स‍िरोस‍िस जैसी बीमार‍ियों के श‍िकार हो चुके हैं। हेपेटाइट‍िस बी के चलते उनका 75 फीसदी ल‍िवर खराब है और वह केवल 25 फीसदी ल‍िवर पर ज‍िंदा हैं।

कई साल पहले हुए थे हेपेटाइट‍िस-बी का शिकार

एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि फिल्म 'कुली' की शूटिंग के वक्त उन्हें चोट लग गई थी, जिसमें उनका काफी खून बह गया था। उन्हें 200 डोनर्स के जरिये 60 बोतल खून चढ़ाया गया था। इससे वह तब के खतरे से बाहर आ गए, मगर उसी दौरान एक और बीमारी ने उन्हें घेर लिया था, जिसका पता 18 साल बाद लगा।

PunjabKesari

-इंटरव्यू के दौरान बिग बी ने बताया था, 'एक्सीडेंट के दौरान मुझे जिन डोनर्स का खून चढ़ाया गया था, उनमें से एक को हेपेटाइटिस बी था। उसी के जरिS ये मेरे शरीर में प्रवेश कर गया था. सन् 2000 तक मैं ठीक रहा, मगर उसके बाद एक सामान्य मेडिकल चेकअप में सामने आया कि कि मेरा लिवर इंफेक्टिड है। हेपेटाइटिस इंफेक्शन के कारण उनका 75 प्रतिशत लिवर खराब हो चुका है।

-इतना ही नहीं, इसके बाद उन्हें मांसपेशियों संबंधी एक बीमारी 'माएस्थेनिया ग्रेविस' से भी ग्रस्त बताया गया। इसमें मांसपेशियों का नर्वस सिस्टम से कनेक्शन टूट जाता है। यह बीमारी उन्हें एक्सीडेंट के बाद दवाइयों का अत्यधिक सेवन करने की वजह से हुई।  इसकी वजह से वह मानसिक और शारीरिक रूप से कमजोर हो गए। वह डिप्रेशन में चले गए थे। इस बीमारी से उबरकर फिर एक बार उन्होंने साबित किया कि आखिर उन्हें महानायक क्यों कहा जाता है।

आंतें भी कमजोर

कुछ साल पहले उनकी एबडोमिनल सर्जरी भी हुई थी। साल 2005 में उनके पेट में तेज दर्द हुआ लेकिन उन्होंने इस गैस्ट्रिक समझ लिया। मगर चेकअप करवाने पर सामने आया कि इंटेस्टाइन संबंधी समस्या है। इस बीमारी में छोटी और बड़ी आंत कमजोर हो जाती है और उसमें सूजन आ जाती है। बच्चन को इसका ऑपरेशन करवाना पड़ा। इसके लिए वह दो महीने अस्पताल में रहे थे।

PunjabKesari

अमिताभ ने ये भी खुलासा किया था कि उन्हें लिवर सिरोसिस की समस्या भी है, जबकि वह शराब का सेवन नहीं करते। इतना ही नहीं, बॉलीवुड नायक अस्थमा से पीड़ित भी हैं।

थैलासीमिया से भी जूझ चुकें है अमिताभ

अमिताभ थैलासीमिया नामक बीमारी से भी जूझ चुके हैं, जिसमें शरीर में खून की कमी होने लगती है,जिससे पीड़ित को बार-बार खून चढ़ाना पड़ता है और ऐसा नहीं करने से उसकी मौत भी हो सकती है। यह ब्लड से जुड़ी एक गंभीर जेनेटिक बीमारी है जो बच्चों को माता-पिता से मिलती है। हालांकि समय रहते उन्होंने इसका सही इलाज करवा लिया था और अब वह इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं।

PunjabKesari

बता दें कि 'बिग बी' अक्सर ब्लॉग और ट्विटर के जरिए अपनी सेहत की जानकारी फैंस के साथ शेयर करते रहते हैं। एक के बाद एक हेल्थ प्रॉबल्म्स का सामना करना किसी के लिए भी आसान नहीं होता, बिग बी के लिए भी नहीं था, मगर उनका पैशन और फैंस की दुआएं ही थीं कि इतनी बीमारियों का सामना करने के बाद भी वह बिल्कुल एक्टिव हैं और दिनभर जमकर काम करते हैं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News