14 OCTMONDAY2019 12:02:08 PM
Nari

सेहत पर भारी पड़ सकता हैं लंबे नाखून रखने का शौक, प्रेग्नेंट महिलाएं रहें सावधान

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 05 Oct, 2019 12:17 PM
सेहत पर भारी पड़ सकता हैं लंबे नाखून रखने का शौक, प्रेग्नेंट महिलाएं रहें सावधान

लंबे नाखून रखने का शौक भला किस लड़की को नहीं होता। हालांकि कई महिलाएं मगर आपकी यह एक आदत सेहत पर भारी पड़ सकती है। भले ही आप सुंदर नाखूनों के ल‍िए मेनीक्‍योर पर खूब पैसे खर्च करती हो लेकिन लंबे नाखून सेहत को नुकसान ही पहुंचाते हैं, खासकर प्रेगनेंसी में।

 

कैरटिन से बनते हैं नाखून

नाखून शरीर में मौजूद कैरटिन नामक तत्व के बने होते हैं। जब शरीर में इस तत्व की कमी आती है तब नाखूनों की सतह प्रभावित होने लगती है, जिससे इनका रंग बदलने का लगता है और यह शरीर में पनप रहे रोगों का संकेत देने लगते हैं।

चलिए अब आपको बताते हैं कि सेहत के क्या है लंबे नाखूनों का क्नैक्शन...

हो सकता है इंफैक्शन

ज्‍यादा लंबे नाखून रखने से इंफेक्‍शन हो सकता हैं। दरअसल, लंबे और गंदे नाखून से इंफैक्शन जैसे कि पिनवर्म्स हो सकते हैं। साथ ही इनमें अधिक गंदगी और घातक बैक्टीरिया होते हैं, जोकि इंफैक्शन का खतरा बन सकते हैं। यही कारण है कि बड़े-बुजुर्ग और एक्सपर्ट समय-समय पर नाखून काटने की सलाह देते हैं।

PunjabKesari

उल्टी और दस्त

नाखून में पाए जाने वाले बैक्टीरिया दस्त और उल्टी का कारण भी बन सकते हैं क्योंकि इसमें मौजूद बैक्टीरिया खाने के जरिए पेट में पहुंच जाते हैं और बाद में बीमारियों का कारण बनते हैं। अगर आपको नाखून चबाने की आदत है तो यह आपके लिए और भी हानिकारक है।

बच्चे होते हैं ज्यादा शिकार

भले ही बच्चों के नाखून लड़कियों जितने बड़े नहीं होते लेकिन उनके नाखूनों में गंदगी भरी होती है, जिससे रोगाणु पनपने लगते है। यही किटाणु शरीर में जाकर इंफैक्शन का खतरा बढ़ाते हैं। वहीं बच्चे कई बार खुजली से राहत देने के लिए खुद को नाखून से खरोंचकर चोट पहुंचा लेते हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप समय-समय पर उनके नाखून काटें।

PunjabKesari

बच्‍चों के नाखूनों का रखें ध्‍यान

छोटे बच्चों की मां को भी अपने नाखूनों व बच्चों के नाखूनों पर खास ध्यान देना चाहिए। लंबे नाखून उनकी खुद की सेहत के साथ बच्चे को भी संक्रमित कर सकते हैं। साथ ही इससे बच्चे को चोट लगने की आशंका भी अधिक होती है।

प्रेगनेंसी में रखें ज्यादा ध्‍यान

प्रेगनेंसी के दौरान, हॉर्मोन और मल्टीविटामिन के सेवन की वजह से नाखून सामान्य से अधिक तेजी से बढ़ते हैं। वहीं इस दौरान नाखून ज्यादा पतले व नाजुक हो जाते हैं, जो किसी चीज में फंस सकते हैं। अगर वो गंदे हैं तो इंफैक्शन हो सकता है, जो मां और भ्रूण के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

PunjabKesari

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?

एक्सपर्ट का कहना है कि नाखून उंगलियों से दोगुने गंदे होते हैं इसलिए उनमें बैक्टीरिया की आशंका भी ज्यादा होती है। वहीं नाखून चबाते वक्त ये मुंह के रास्ते शरीर में प्रवेश करते हैं और इंफैक्शन का कारण बनते हैं। साथ ही इससे दांत खराब होने की समस्या भी हो सकती है। साथ ही ज्‍यादा लंबे नाखून रखने से कई तरह के रोगों को बढ़ावा मिलता है।

साबुन से केवल हाथ धोना सही नहीं

अक्सर लोगों को लगता है कि उन्होंने साबुन से अच्छी तरह हाथ धो लिया तो बैक्टीरिया निकल जाएंगे जबकि ऐसा नहीं है क्योंकि नाखूनों में जमा बैक्टीरिया आसानी से नहीं निकलत। अच्छे स्वास्थ्य के लिए नाखून को साफ और ठीक से काटकर रखना जरूरी है। साथ ही उनकी सफाई का भी खास ख्याल रखें।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News