Twitter
You are hereNari

जानिए, कौन-सी Sleeping Position है अापकी सेहत के लिए फायदेमंद

जानिए, कौन-सी Sleeping Position है अापकी सेहत के लिए फायदेमंद
Views:- Saturday, June 23, 2018-9:32 AM

सोने का तरीका : स्वस्थ रहने के लिए अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी है। बुरी नींद न सिर्फ दर्द का कारण बनती है बल्कि इससे आप और कई बीमारियों की चपेट में भी आ जाते हैं। मगर आप कितने घंटे सोते है इस ज्यादा इस बात का ध्यान रखना जरूरी है कि आप किस पोजीशन में सोते हैं। सोने की गलत पोजीशन से मांसपेशियों में एेठन, रक्त प्रवाह में गड़बड़ी और चोट का कारण भी बन सकती है। एक्सपर्ट के अनुसार, बाईं करवट सोना सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। आज हम आपको बाईं करवट के ऐसे फायदे बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आप भी इस तरह सोना शुरू कर देंगे।

 

बाईं करवट सोने के फायदे
1. दिल के लिए फायदेमंद
बाईं करवट सोने से दिल पर ज्यादा दवाब नहीं पड़ता और वद ठीक से कार्य करता है। इससे आप अधिक समय तक स्वस्थ रहते हैं और दिल की बीमारियों का खतरा भी काफी हद तक कम हो जाता है।
 

2. ऑक्सीजन का प्रवाह
बाईं करवट लेकर सोने से शरीर के अन्य अंग और दिमाग में रक्त के साथ ऑक्सीजन का प्रवाह भी अच्छी तरह होता है। इससे आपका शरीर स्वस्थ रहता है और अंदरूनी अंग भी ठीक से अपना कार्य करते हैं।
 

3. प्रैग्नेंसी में फायदेमंद
गर्भवती महिलाओं के लिए बाईं करवट सोना ही सबसे बेहतर होता है। क्योंकि उससे गर्भस्थ शिशु के स्वास्थ्य पर बुरा असर नहीं पड़ता। इसके अलावा इस करवट सोने से एड़ी, हाथों और पैरों में सूजन की समस्या भी नहीं होती।
 

4. बेहतर रक्त संचार
बाईं करवट सोने से शरीर में रक्त कर संचार बेहतर होता है और नींद भी अच्छी आती है। इस तरह से सोने पर आपको उठने पर थकान महसूस नहीं होगी और पेट संबंधी समस्याएं भी दूर रहती हैं।
 

5. भोजन पचाने में मददगार
बाईं करवट लेकर सोने से पाचन तंत्र पर दवाब नहीं पड़ता, जिससे भोजन अच्छी तरह पच जाता है।
 

6. कब्ज की समस्या
अगर आपको अक्सर कब्ज की समस्या रहती है तो बाईं ओर सोने से आपको इससे राहत मिल जाएगी। इससे गुरूत्वाकर्षण के कारण भोजन छोटी आंत से बड़ी आंत में बहुत आराम से पहुंचता है और सुबह पेट साफ होने में आसानी होती है।
 

7. एसिडिटी और सीने में जलन
अगर आपको पेट संबंधी जैसे पेट का फूलना, गैस बनना, एसिडिटी की समस्या आदि है तो इस बाईं करवट लेकर सोना चाहिए। डॉक्टरों के अनुसार, बाईं करवट में सोने से शरीर में जमा होने वाले टॉक्सिन धीरे-धीरे लसिका तंत्र द्वारा निकल जाते हैं, क्योंकि बाई ओर सोने से हमारे लीवर पर किसी प्रकार का कोई दबाव नहीं पड़ता। इससे आप कई बीमारियों से बच जाते है।
 

8. खर्राटों से छुटकारा
बाईं तरफ सोने से खर्राटों को रोकने में भी मदद मिलती है। इसका कारण यह है कि यह आपकी जीभ और गले को न्यूट्रल पोजीशन (Neutral Position) में रखता है और आपके वायुमार्ग को साफ रखता है। इससे आप सही तरीके से सांस ले पाते हैं और खर्राटे नहीं आते।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP