Twitter
You are hereNari

किस तरह पहचाने बुखार चिकनगुनिया है या डेंगू और कैसे करें बचाव

किस तरह पहचाने बुखार चिकनगुनिया है या डेंगू और कैसे करें बचाव
Views:- Wednesday, July 18, 2018-5:22 PM

चिकनगुनिया वायरस : बदलते मौसम के साथ लोगों को सेहत से जुड़ी कई समस्याओं को सामना करना पड़ता है। चिकनगुनिया और डेंगू भी ऐसी ही हैल्थ प्रॉब्लम में से एक है। हालांकि इस मौसम में चिकनगुनिया और डेंगू होना आम समस्या है लेकिन लापरवाही बरतनें पर यह जानलेवा भी हो सकती है। कई बार आप पहचान नहीं पाते कि रोगी को चिकनगुनिया का बुखार है या फिर डेंगू। क्योंकि इन दोनों के लक्षण लगभग सामान ही होते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि किस तरह आप पता लगा सकते हैं कि रोगी को चिकनगुनिया है या डेंगू का बुखा, ताकि उसका सही इलाज किया जा सके। आइए जानते है कैसे पता लगाएं कि रोगी को चिकनगुनिया है या डेंगू।

 

लक्षणों की अवधि से करें पहचान
चिकनगुनिया और डेंगू के लक्षण भले ही सामान हो लेकिन इनकी अवधि अलग-अलग होती है। डेंगू के लक्षण ज्यादा समय तक नहीं रहते, जबकि चिकनगुनिया में जोड़ों का दर्द 3 महीने तक हो सकता है। अगर चिकनगुनिया में हालात ज्यादा खराब हो तो यह दर्द 6 महीने तक भी रह सकता है। वैसे तो चिकनगुनिया 1-12 दिन तक होता है लेकिन इसके लक्षण काफी समय तक शरीर में रहते हैं। वहीं, डेंगू के लक्षण शरीर में 3-9 दिन तक रह सकते हैं। डेंगू के बुखार में ज्यादातर शरीर में कमजोरी आ जाती है और खून में प्लेटलेट्स लगातार गिरती रहती है।
 

डेंगू के लक्षण
हाथों-पैरों में दर्द
भूख कम लगना
जी मचलाना
उल्टी और दस्त
तेज बुखार और ठंड लगना
सिर और आंखों में दर्द
शरीर और जोड़ों में दर्द
त्वचा पर लाल धब्बे पड़ना
शरीर में कमजोरी आना
आंख और नाक से खून आना

PunjabKesari

चिकनगुनिया के लक्षण
तेज बुखार
जोड़ों में तेज दर्द
तेज सिर दर्द
चक्कर आना
उल्टी होना
शरीर में जकड़न
रैशेज या चकत्ते पड़ जाना
मांसपेशियों में खिंचाव और दर्द
 

चिकनगुनिया और डेंगू से बचने के लिए क्या करें?
1. घर में साफ-सफाई का खास ध्यान रखें।

PunjabKesari

2. अगर घर के बर्तनों आदि में पानी भर कर रखना है तो ढक कर रखें। जरुरत ना हो तो बर्तन खाली कर के या उल्टा कर के रख दें।

3. कूलर, गमले आदि का पानी रोज बदलते रहें।

4. रात में सोते समय ऐसे कपड़े पहनें जो शरीर के  हिस्से को ढक सकें। इसके अलावा मच्छरों से बचने के लिए क्रीम, स्प्रे और ऑयल लगा लें।

5. ठंडा पानी न पीएं, मैदा और बासी खाना न खाएं। इसके अलावा खाने में हल्दी, अजवाइन, अदरक, हींग का ज्यादा-से-ज्यादा इस्तेमाल करें।

PunjabKesari
6. बारिश के मौसम में पत्ते वाली सब्जियां, अरबी और फूलगोभी न खाएं। इसके अलावा पानी को भी उबालकर पीएं।

7. मच्छरदानी का इस्तेमाल करें और दरवाजे-खिड़कियां बंद रखें, ताकि मच्छर अंदर न आ सकें।

8. घर में तुलसी का पौधा लगाने से भी मच्छर दूर रहते हैं। इसलिए तुलसी का पौधा जरूर लगाएं।

PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP
Edited by: