19 FEBTUESDAY2019 6:05:53 AM
Nari

कहीं आपके बच्चें पर तो नहीं है किसी की गंदी नजर, ऐसे करें पहचान

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 06 Feb, 2019 01:33 PM
कहीं आपके बच्चें पर तो नहीं है किसी की गंदी नजर, ऐसे करें पहचान

बच्चें बहुत मासूम होते हैं। इस उम्र में उनको बहुत केयर और प्यार की जरूरत होती है लेकिन रोज टीवी से लेकर अखबार में कई ऐसी खबरें नजर आ जाती है जिनमें बच्चों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं शामिल होती है। बच्चों के साथ जब किसी भी तरह का गंदा काम होता है, तो उसे विज्ञान की भाषा में पीडोफाइल कहते हैं। ये छोटे लड़के-लड़कियां दोनों को अपना शिकार बनाते हैं। अगर आप भी अपने बच्चें को ऐसे पीडोफाइल से बचाना चाहते है तो कुछ खास बातों के बारे में आपको पता होना जरूरी है। आइए इसके बारे में पूरी जानकारी लेते हैं-

 

क्या कहते हैं आंकड़े 

एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश के करीबन 25 प्रतिशत बच्चे ऐसे हैं, जो कभी न कभी इन पीडोफाइल का शिकार हो चुके हैं। जिनके साथ दुर्व्यवहार हुआ, उनमें लड़के-लड़कियां दोनों शामिल हैं। डॉक्टर्स का कहना है कि बच्चों के साथ होने वाला अपराध दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है। ऐसे में इसे कंट्रोल करने की जरूरत है।

PunjabKesari, Scared child  

कौन होते हैं पीडोफाइल

साइकलॉजिकल असोसिएशन के मुताबिक, अगर किसी बच्चे और उसके साथ गलत काम करने वाले व्यक्ति के बीच 5 साल या इससे ज्यादा का अंतर होता है, तो उस व्यक्ति को पीडोफाइल कहा जाता है। यह लोग बच्चों के साथ यौन शोषण के लिए अट्रैक्ट होते हैं। ऐसे व्यक्ति ज्यादातर मानसिक बीमारी के शिकार होते हैं। कई बार पीडोफाइल बच्चों से संपर्क ही नहीं करता। वह इंटरनेट पर या किसी अन्य जगह बच्चें की तस्वीरों से ही खुश हो जाते हैं।

 

महिलाएं भी होती हैं पीडोफाइल

अगर आप सोच रहे हैं कि पीडोफाइल सिर्फ पुरुष ही होता है तो आप गलत सोच रहे हैं। पीडोफाइल कई बार महिलाएं भी होती है लेकिन इनकी संख्या कम होती है। कई मामलों में महिलाएं पुरूषों के इस काम में उनका साथ देती है, लेकिन ऐसे मामले कम ही होते हैं।

 

क्यों बनते है पीडोफाइल 

साइकायट्रिस्ट कहते हैं कि जिन लोगों के बचपन में किसी तरह का दुष्कर्म हुआ हो या गंदा काम हुआ हो, वह आगे चलकर पीडोफाइल बन जाते है। ऐसी बुरी घटनाओं से उनके दिल-दिमाग में वही चीजें बैठ जाती है। ऐसा व्यक्ति डर में जीता है और दूसरे बच्चों के साथ भी वैसा ही करने की सोचता है। कुछ लोगों में यह जेनेटिक होता है।

 

अगर बच्चें में दिखें ये लक्षण

बच्चा शांत हो जाएगा और कम बातचीत करेगा 
अकेला रहेगा और किसी के सामने आने से डरेगा 
बच्चा छोटी-छोटी बात पर रोने लगता है 
अपनी बातों को दूसरों के सामने ठीक ढंग से नहीं रख पाता 
अगर बच्चे के साथ ज्यादा दुर्व्यवहार हुआ है, तो वह टॉयलेट जाते वक्त रोएगा या ज्यादा समय लगेगा 

PunjabKesari, scared child 2

पीडोफाइल के लक्षण

ये लोग अक्सर अकेले-अकेले रहते हैं 
बड़ों के बजाय बच्चों के साथ घुलने-मिलने की ज्यादा कोशिश करते हैं 
यदि शादीशुदा हैं, तो इनके रिश्ते में काफी तरह की परेशानियां रहती हैं 
इनका व्यवहार दूसरों से थोड़ा अजीब होता है 
बच्चों को हाथ लगाने का मौका ढूंढते नजर आते हैं

 

Related News

From The Web

ad