25 SEPFRIDAY2020 7:04:01 PM
Nari

नेपोटिज्म पर बोली बेबो- आप मत जाओ फिल्में देखने, आप पर कौन सा दबाव है?

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 04 Aug, 2020 05:57 PM
नेपोटिज्म पर बोली बेबो- आप मत जाओ फिल्में देखने, आप पर कौन सा दबाव है?

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद इंडस्ट्री में नेपोटिज्म की बहस तेज होती जा रही है। आउटसाइडर्स और फिल्मी कलाकारों में इस मुद्दे को लेकर बहस जारी है। वहीं इस पर फैंस भी लगातार अपनी राय रख रहे हैं और अब नेपोटिज्म के इस मुद्दे पर इंडस्ट्री की बेबो यानि करीना कपूर खान ने भी अपनी राय रख दी है। 

PunjabKesari

लोग हालात नहीं समझ रहे

इसमें कोई शक नहीं कि सुशांत की मौत के बाद फैंस काफी गुस्से में हैं और लोगों के इसी रवैये पर करीना कपूर ने अपनी राय रखी। हाल ही में अपने इंटरव्यू में करीना कपूर ने कहा कि लोग हालात को समझ नहीं रहे हैं और काफी गुस्से हुए पड़े हैं। 

मुझे इंडस्ट्री में मौके वंशवाद के कारण नहीं मिले

अपनी जर्नी को याद करते हुए करीना कपूर ने कहा, '  मुझे इस इंडस्ट्री में 21 साल हो गए हैं और यह सब नेपोटिज्म के कारण नहीं है। यह इस वजह से बिल्कुल भी संभव नहीं है। मैं आपको उन सुपरस्टार्स के बच्चों की एक लंबी लिस्ट दे सकती हूं जो इंडस्ट्री में लंबे समय तक नहीं टिक पाए हैं। 

ऑडिंयस ही हम पर उंगली उठा रही है

करीना के अनुसार , ' ऑडियंस ही निर्णायक है कि यहां कौन स्टार बनेगा और कौन नहीं। करीना ने शाहरुख और अक्षय का उदाहरण देते हुए कहा जिनका फिल्म इंडस्ट्री से कोई कनेक्शन नहीं था लेकिन वह बहुत ही सक्सेसफुल हैं क्योंकि ऑडियंस ने उनका खुले हाथों से स्वागत किया। ऑडियंस पर वार करते हुए करीना ने कहा उन्होंने ही हमें बनाया है और अब वहीं लोग हम पर ऊंगली उठा रहे हैं, जो खुद इन भाई-भतीजावाद वालों को स्टार्स बना रहे है।

आप पर फिल्में देखने का कोई दबाव नहीं

PunjabKesari

करीना कपूर की बातें यहीं खत्म नहीं हुए बल्कि करीना ने आगे कहा , ' आप जा रहे हो ना फिल्म देखने? मत जाओ। आप पर कोई दबाव नहीं है। इसलिए मुझे ये समझ नहीं आ रहा। मुझे लगता है कि यह सभी बहसें पूरी तरह अजीब हैं। 

हमें भी मेहनत करनी पड़ती है 

करीना कपूर ने आगे कहा , ' फिल्मी परिवार से आने वाले कलाकार भी आउटसाइडर की तरह ही मेहनत करते हैं। उनके अनुसार बड़े स्टार्स को खुद ऑडियंस ने बनाया है, चाहे वो अक्षय कुमार हो या शाहरुख खान या आयुष्मान खुराना या राजकुमार राव, ये सभी आउटसाइडर्स हैं। ये सभी लोग सक्सेसफुल हैं क्योंकि उन्होंने हार्डवर्क किया है। चाहे वो आलिया भट्ट हो या करीना कपूर हम लोग भी कठोर परिश्रम करते है। आप लोग हमारी फिल्में देखते हैं और उन्हें एन्जॉय करते हैं। तो यही ऑडियंस जो हमे बनाती है या गिराती है।'

Related News