17 NOVSUNDAY2019 1:33:24 PM
Life Style

एक दिन के लिए ब्रिटिश डिप्टी हाई कमिश्नर बनीं भारत की छात्रा अंबिका

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 13 Oct, 2019 04:11 PM
एक दिन के लिए ब्रिटिश डिप्टी हाई कमिश्नर बनीं भारत की छात्रा अंबिका

राजनीति हो या कोई सरकारी क्षेत्र भारतीय महिलाओं ने न केवल देश में बल्कि विदेश में भी अपनी काबलियत से यह साबित कर दिखाया है कि वह हर मुकाम में पूरी तरह से सक्षम है। अपनी इसी काबलियत के चलते इंटरनेशनल गर्ल चाइल्ड-डे के मौके पर बेंगलुरू की छात्रा अंबिका बनर्जी को एक दिन के लिए ब्रिटिश डिप्टी हाई कमिश्नर का पद संभालने का मौका मिला। 

PunjabKesari,nari

24 साल की अंबिका ने ब्रिटिश  डिप्टी हाई कमिश्नर  जेरेमी पिल्मोर बेडफोर्ड का पदभार संभालते हुए ब्रिटेन व भारत के बीच चल रहे राजनीतिक संबंधों के बारे में जाना। एक दिन के लिए भारत में ब्रिटेन का तीसरा सबसे बड़ा पद संभाला जिसका मुख्य काम भारत सरकार और कारोबारियों के साथ देश हित से जुड़े मुद्दे को सुलझाना होता है। 

 

अंबिका के अनुसार यह उनके लिए यह सम्मान की बात हैं। इस एक दिन के दौरान वह विद्या लक्ष्मी से मिली जो लैंगिग समानता पर काम कर रही हैं। इस दौरान उन्होंने सीखा की लोग किस तरह से काम करते है। 

PunjabKesari,nari

 

इतना ही नही इससे पहले उत्तरप्रदेश के गोरखपुर की 22 साल की आयशा खान भी 4 अक्टूबर को एक दिन के लिए उच्चायुक्त का पद संभाल चुकी हैं।  

भारत में ब्रिटेन ने करवाई थी प्रतियोगिता 

ब्रिटेन भारत में 'एक दिन का उच्चायुक्त' नियुक्त करने की प्रतियोगिता करवाता है। जिसमें 18 से 23 साल की लड़कियां भाग लेती है। इस बार हुई प्रतियोगिता में 14 राज्यों की लड़कियों ने भाग लिया था। 

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News