21 OCTMONDAY2019 6:11:19 PM
Nari

32% बढ़ी एडवेंचर ट्रिप पर जाने वाली महिलाओं की गिनती

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 08 Mar, 2019 06:23 PM
32% बढ़ी एडवेंचर ट्रिप पर जाने वाली महिलाओं की गिनती

घूमने-फिरने का क्रेज पुरूषों के साथ-साथ महिलाओं में भी बहुत ज्यादा देखने को मिल रहा है। पहले समय ऐसा था कि महिलाओं को दोस्तों के साथ घूमने या टूर करने की परमिशन नहीं दी जाती थी लेकिन अब जमाना बदल गया है। अब जहां हर क्षेत्र में महिलाएं अपना सिक्का जमा चुकी है वहीं ऐ़डवेंचर के मामले में भारतीय महिलाओं में ट्रिप का रुझान भी काफी बढ़ा है। युवा महिलाएं इसमें ज्यादा रुचि दिखा रहीं है। 

 

रिपोर्ट में पता चली है बात

'इंटरनेशनल ट्रैवल कंपनी कॉक्स एंड किंग्स' की रिपोर्ट से यह बात सामने आई है कि एडवेंचर एक्टिविटी के लिए यात्रा करने वाली महिलाओं की संख्या 2017 की तुलना में 2018 में 32% बढ़ी है। अकेले यात्रा करने वाली महिलाओं की संख्या में भी 9% इजाफा हुआ है। यह रिपोर्ट करीब 2,000 महिलाओं की बुकिंग और इनक्वायरी ट्रेंड के आधार पर तैयार की गई है। 


आजादी का अहसास 

महिलाओं का कहना है कि एडवेंचर ट्रैवल उन्हें आजादी का अहसास दिलाता है। ऐसी यात्रा करने वाली महिलाओं में ज्यादातर का जन्म 1980 से 1990 के बीच हुआ है। इनमें से 70% महिलाएं शहरों से आती हैं।

PunjabKesari

 

आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर

एडवेंचर ट्रिप पर जाने वाली ज्यादातर महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हैं। इनमें वकील, डॉक्टर, कॉर्पोरेट मैनेजर, डिजाइनर, राइटर और विभिन्न संस्थानों की प्रमुख शामिल हैं। 

 

मां के साथ एडवेंचर ट्रिप

महिलाएं अकसर दोस्तों के साथ यात्रा करती हैं लेकिन ऐसी महिलाओं की संख्या भी बढ़ी है जो मां के साथ एडवेंचर ट्रिप पर जा रही है। एडवेंचर ट्रिप पर जाने वाली भारतीय महिलाओं में डाइविंग और ट्रेकिंग का क्रेज सबसे ज्यादा है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, लद्दाख और नेपाल ट्रेकिंग के लिए प्राथमिकता में आते हैं। 

 

ये जगहें हैं परफेक्ट डेस्टिनेशन 

अंडमान, मालदीव, थाईलैंड, मलेशिया, मिस्र, बाली, गिली आइलैंड्स, ग्रेट बैरियर रीफ और मॉरिशस डाइविंग डेस्टिनेशन के तौर पर सामने आए हैं। महिलाएं वॉकिंग, साइक्लिंग, बाइकिंग, राफ्टिंग और सेलिंग भी पसंद कर रही हैं। 

PunjabKesari

 

महिलाओं में क्लाइंबिग का बढ़ रहा रुझान

रिसर्च में यह पाया गया है कि किलिमंजारो की चढ़ाई, स्टॉक कांगरी की चढ़ाई और आइसलैंड में आइस क्लाइंबिंग जैसे एक्सट्रीम एडवेंचर के प्रति भी महिलाओं का रुझान कुछ हद तक बढ़ा है। हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में होटलों में जितने मेहमान आ रहे हैं, उनमें आधी महिलाएं हैं। अकेले आनी वाली महिलाएं डाइविंग, राफ्टिंग और ट्रेकिंग जैसी एक्टिविटी करना पसंद करती हैं। 

 

सोशल मीडिया से भी बढ़ा है ट्रैवलिंग का ट्रेंड 

सोशल मीडिया के प्रभाव से भी महिलाओं में एडवेंचर ट्रैवलिंग का ट्रेंड बढ़ा है। महिलाएं सोशल मीडिया पर अपने अनुभव पोस्ट, तस्वीरों और वीडियो के जरिए साझा करती हैं। इससे अन्य महिलाएं भी एंडवेंचर ट्रिप के लिए प्रोत्साहित हो रही हैं। कई महिला ट्रैवलरों ने यू ट्यूब चैनल बना रखे हैं। इसमें वे किसी खास जगह की यात्रा के लिए जरूरी सुझाव देती हैं। 
PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News