23 JULTUESDAY2019 4:16:04 AM
Nari

रुस में 1 सेकंड में 1 तलाक, शादी तोड़ने में भारत सबसे पीछे, जानिए हर देश की रिपोर्ट

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 02 Jul, 2019 06:08 PM
रुस में 1 सेकंड में 1 तलाक, शादी तोड़ने में भारत सबसे पीछे, जानिए हर देश की रिपोर्ट

दो व्यक्ति आपसी सहमति के साथ एक दूसरे से शादी कर लेते है, लेकिन  उनके लिए एक समय बाद शादी को निभाना मुश्किल हो जाता हैं। जिससे उनके रिश्ते में नोक झोंक शुरु हो जाती है, जो कि तलाक पर आकर खत्म होती हैं। इस नोकझोंक का कारण अवैध संबंध, गरीबी, ड्रग्स व नशा,  शारीरिक व मानसिक अक्षमता आदि कारण शामिल हो सकते हैं। एक रिसर्च के अनुसार विश्व भर में तलाक की समस्या काफी बढ़ रही है, लेकिन भारत में यह समस्या अभी बहुत कम हैं। 

पिछले 60 सालों में दुनिया में तलाक के मामलों में काफी तेजी से बढ़ोतरी हो रही हैं। अमेरिका के ग्लोबल डाइवोर्स रिकार्ड के अनुसार 1960 से ग्लोबल डाइवोर्स रेट 251.8 फीसदी बढ़ गया हैं। लेकिन भारत में अभी भी तलाक के मामले काफी कम पाए जाते है।यह दर सिर्फ 1 फीसदी के करीब हैं। 

भारत में  सबसे कम तलाक, वजह है शर्मिंदगी

भारत में अभी तलाक की दर काफी कम है। यहां पर हजार शादियों के पीछे तकरीबन 13 ही तलाक होते है। इसकी सबसे बडी वजह हमारा फैमिली सिस्टम हैं। जब शादी होती है तो केवल एक लड़के व लड़की का रिश्ता नहीं जुड़ता हैं बल्कि दो परिवार आपस में जुड़ते हैं। इसलिए जब तलाक लेने की बात आती है तो दोनों परिवार बहुत सोच समझ कर ही यह कदम उठाते है, क्योंकि उन्हेें यह बहुत ही शर्मिंदगी का काम लगता हैं। भारत में तलाक की वजह महिलाओं के प्रति रखी जाने वाली सोच, एक दूसरे के साथ एडजस्ट न कर पाना हैं। 

PunjabKesari

 

लग्जमबर्ग में सबसे ज्यादा तलाक  

लग्जमबर्ग 5 लाख की आबादी के साथ यूरोप का सबसे छोटा देश हैं, लेकिन यहां पर 87 फीसदी के करीब तलाक होते है। यह संपन्न देशों की गिनती में आता है लेकिन रिश्तों के मामले में सबसे पीछे हैं। यहां पर सबसे ज्यादा उच्च कार्य क्षमता होती है इसके साथ जनसंख्या वृद्धि दर भी यूरोप में सबसे ज्यादा तेज हैं। 

रुस में हर सेकेंड हो रहा तलाक

 रुस एक ऐसी जगह है जहां पर हर एक सेकेंड में एक शादी टूट रही हैं। वहां की एक तिहाई शादियां सिर्फ पांच साल तक ही चल पाती हैं। इस कारण देश में तलाक की दर 51 फीसदी तक बढ़ी हैं। 

 स्पेन में शादी टूटने की वजह गरीबी 

गरीबी के कारण अकसर रिश्तों में खटास आती है, जिस कारण  शादीशुदा लोग एक दूसरे के साथ खुश नहीं होेते है, क्योंकि उनकी जरुरतें पूरी नहीं होती हैं। यही असर पिछले कुछ सालों में स्पेन में देखने को मिल रहा हैं। वहां की अर्थव्यवस्था में आ रही खराबी के कारण वहां के लोगों में तलाक की दर 65 फीसदी तक पहुंच गई हैं। कैथोलिक देश में तलाक की बढ़ती हुई तलाक की दर ने पूरी दुनिया को हैरान कर दिया हैं। 

ब्रिटेन में  यंग कपल्स ले रहे है तलाक  

इंग्लैंड व वेल्स में पिछले साल करीब सवा लाख तलाख हुए हैं। इतना ही नहीं इ्ंग्लैंड में तलाकी की दर 42 फीसदी के करीब बढ़ चुकी हैं। रिसर्च की मानें तो इसका मुख्य कारण 18 से 22 साल की उम्र में शादी करने हैं। इस उम्र के लोगों में तलाक का खतरा सबसे ज्यादा होता हैं। क्योंकि वह छोटी उम्र में शादी कर एक दूसरे के साथ मुश्किल से एडजस्ट कर पाते हैं। 

PunjabKesari

 

अमरीका में दूसरी शादी बनी तलाक का कारण 

अमरीका में दूसरी शादी का कारण कपल्स में तलाक काफी बढ़ रहे हैं। वहां पर दोनों में से किसी कोई एक व्यक्ति किसी अन्य के साथ शादी करना चाहता हैं। इस कारण वहां पर तलाक के केसों में 46 फीसदी बढ़ोतरी हुई हैं। दूसरी शादी का कारण अब उनकी बनती नहीं या कोई अक्षमता होती हैं। 

PunjabKesari



 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad