22 FEBFRIDAY2019 6:38:57 AM
Nari

हर 3 महीने बाद बदलें कुकिंग ऑयल, जाने ये 6 बड़े फायदे

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 20 Jan, 2019 03:12 PM
हर 3 महीने बाद बदलें कुकिंग ऑयल,  जाने ये 6 बड़े फायदे

ऑयल खाना पकाने में अहम भूमिका निभाता है। कोई भी खाना ऑयल के बिना स्वादिष्ट नही लगता। अगर सेहत की बात करें तो हर कोई जानना चाहता है कि खाना पकाने के लिए कौन सा तेल इस्तेमाल करना सही है और कितनी मात्रा में खाना चाहिए। आपको बता दें कि भिन्न प्रकार के ऑयल होने के साथ-साथ इनके फायदे भी अलग होते हैं इसलिए ऑयल को बदलकर इस्तेमाल करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं कि इसे को कब बदल कर खाना चाहिए।

 

क्यों जरूरी है कुकिंग ऑयल को बदलना?

कुकिंग ऑयल में तीन तरह के फैट पाए जाते हैं। पॉलीअनसैचुरेटेड फैट (PUFA) और मोनोअनसैचुरेटेड फैट (MUFA) यह दोनो फैट शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते हैं, जबकि तीसरा सैचुरेटेड फैट हानिकारक होता है। सैचुरेटेड फैट हर ल्‍दी ऑयल में छोटी सी मात्रा में पाया जाता है। आजकल बाजार में बहुत से ऐसे ब्रांड हैं जिनका कहना है कि एक ही तेल में सभी पोष्क तत्व मौजूद हैं। यह संभव नही है इसलिए सेहतमंद रहने के लिए अपने ऑयल को बदलते रहें।

 

एक्‍सपर्ट की राय

एक्‍सपर्ट के अनुसार, खाना पकाने के लिए रोजाने तेल को बदलना चाहिए। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूट्रिशन हैदराबाद ने हाल ही मे एक रिसर्च हुई। इसमें बताया गया यदि आप सेहतमंद रहना चाहते हैं तो हर 3 महीने बाद अपना कुकिंग ऑयल जरूर बदलें। फूड एक्‍सपर्ट, न्यूट्रीशनिस्ट और डाइटिशियन ने भी अलग-अलग कुकिंग ऑयल का इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। इससे आप फैटी एसिड, विटामिन, ओमेगा -3 और ओमेगा-6 आदि प्राप्‍त कर सकते हैं। 

 

कुकिंग ऑयल के हेल्‍द बेनिफिट्स

सरसों का तेल- सर्दी से बचाए

भारतीय रसोई में सबसे ज्यादा सरसों के तेल का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें ओमेगा-3 पाया जाता है, जिससे भूख भी अधिक लगती है। यह आपको सर्दी-जुकाम और इंफेक्शन होने से बचाता है।

PunjabKesari, mustard cooking oil

नारियल का तेल- मेटाबॉलिज्म बढ़ाए

नारियल का तेल त्वचा और बालों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके अलावा यदि खाने में इसका इस्तेमाल किया जाए तो यह कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल रखने में मदद करता है। यह शरीर के सारे हानिकारक चीजोंक को बाहर निकालकर मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है।

PunjabKesari, coconut cooking oil

तिल का तेल- हड्डियां करे मजबूत

तिल का तेल में भी लाभकारी फैट्स पाए जाते हैं जिससे सेहत संबंधी समस्याएं दूर होती हैं। इसमें कॉपर, कैल्शियम और जिंक आदि पोष्क तत्व पाए जाते हैं जो हड्डियों का विकास करके इन्हें मजबूती प्रदान करता है। इसके अलावा यह तनाव को भी दूर करता है।

 

एवोकाडो ऑयल- आंखों की रोशनी बढ़ाए

एवोकाडो ऑयल में भरपूर विटामिन- ई और एंटीऑक्सीडेंट ल्यूटिन पाया जाता है। इसका सेवन करने से आंखें स्वस्थ रहती हैं और आंखों की रोशनी को भी फायदा मिलता है। इस तेल को हमेशा ठंडे और सूखे स्थान पर रखें, नहीं तो यह खराब हो जाता है।

PunjabKesari, avocodo cooking oil

ऑलिव ऑयल- कैंसर से करे बचाब 

आजकल ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल काफी लोग करने लग गये हैं। इसमें कैंसररोधी तत्व पाए जाते हैं जो कैंसर के खतरे को कम करता है। इसके अलावा यह कोलेस्ट्रॉल को भी कंट्रोल करता है। खाना पकाने के लिए हमेशा एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल का ही इस्तेमाल करें। अन्य ऑलिव ऑयल से नुक्सान भी हो सकता है।

 

कैनोला ऑयल- दिल के लिए बेस्ट 

कैनोला ऑयल मे ओमेग-3 और 6 पाया जाता है जो दिल के लिए बेहद फायदेमंद होता है। दिल को सेहतमंद रखने वाले सारे तत्व इस ऑयल में पाए जाते हैं।

Related News

From The Web

ad