22 MAYWEDNESDAY2019 12:48:41 AM
Nari

30 की उम्र कर चुकी हैं पार तो ना खाएं ये 6 फूड्स

  • Edited By Vandana,
  • Updated: 09 Jan, 2019 05:06 PM
30 की उम्र कर चुकी हैं पार तो ना खाएं ये 6 फूड्स

बढ़ती उम्र के साथ हमारी बॉडी की जरूरतें भी बदल जाती हैं। शरीर को ठीक से काम करने के लिए अच्छी डाइट लेना बेहद जरूरी होता है खासतौर पर महिलाओं को। उम्र बढ़ने के साथ-साथ उन्हें थकान, कमजोरी, हड्डियों में दिक्‍कत, जोड़ों में दर्द, चेहरे और बालों में बदलाव, हीमोग्‍लोबिन और कैल्शियम की कमी जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अपने आहार में बदलाव करने की काफी जरूरत होती है। दरअसल 30 की उम्र पार करने के बाद कुछ चीजों से परहेज करना बेहद जरूरी होता है ताकि आप लंबे समय तक हेल्‍दी लाइफ जी सकें। ऐसे में हम आपको कुछ फूड्स के बारे में बताते है जिन्हें 30 की उम्र के बाद महिलाओं को सेवन नहीं करना चाहिए। 

 

30 की उम्र के बाद करें इन चीजों से परहेज

फ्लेवर्ड दही

वैसे तो दही हमारी हेल्‍थ के लिए काफी अच्‍छा होता है लेकिन क्या आप जानते हैं 30 की उम्र के बाद फलेवर दही खाना आपके लिए सही नही है।  इसमें अधिक मात्रा मे शुगर होती है। अगर आप लंबे समय तक जवां रहना चाहती हैं तो आज से ही इसे छोड़ दें।

PunjabKesari

सोया सॉस

आजकल केचप और मेयोनेज की जगह पर लोगों ने सोया सॉस लेना शुरू कर दिया है। इसमें सोडियम नमक की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है, जो म्यूकस मेम्ब्रेन पर असर करती है, जिससे किडनी में स्‍टोन बनता है और जोड़ों की समस्या भी होता है।

 

पॉपकॉर्न

पॉपकॉर्न को बहुत ज्‍यादा नमक और बटर मिलाकर बनानाया जाता है जो हेल्‍थ को नुकसान दे सकते हैं। साथ ही इसमें बहुत ज्‍यादा चीनी होती है और इसे बनाने के लिए पाम ऑयल और सिंथेटिक चीजों का इस्‍तेमाल होता है।

PunjabKesari

कार्बोनेटेड ड्रिंक्स

महिलाएं की हेल्‍थ के लिए मीठे कार्बोनेटेड ड्रिंक्‍स लेना ठीक नही होते। इससे दूरी बनाकर रखनी चाहिए। इसमें अधिक मात्रा में चीनी और कैंसरजन्य डाई होते हैं। यह इनफर्टिलिटी का कारण बन सकते हैं।

PunjabKesari

डिब्‍बाबंद सब्जियां

डिब्‍बाबंद सब्जियों में बहुत ज्‍यादा नमक होता है। इसका सेवन करने से त्‍वचा पर समय से पहले झुर्रियां आने लगती है। इसके अलावा ब्‍लडप्रेशर पर भी बूरा असर पड़ता है। इससे कैंसर, इनफर्टिलिटी और मोटापे की समस्या का सामना करना पड़ता है।

 

चिप्स

चिप्‍स बनाने के लिए नेचुरल आलू की जगह आलू के आटे या आलू के फेल्‍क्‍स का इस्‍तेमाल किया जाता है। चिप्स का स्वाद बढ़ने के लिए इसमें सोडियम ग्लूटामेट और कई सिंथेटिक चीजों की मिलावट की जाती है। इसका सेवन करने से सेहत पर बूरा असर पढ़ता है।

PunjabKesari
 

Related News

From The Web

ad